हिमाचल में प्रमोट होंगे नौवीं और 11वीं कक्षा के हजारों विद्यार्थी, निर्देश जारी

हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले नॉन बोर्ड कक्षाओं के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट करने का फैसला लिया गया है। प्रदेश उच्च शिक्षा निदेशालय ने मंगलवार देर शाम को इस सबंध में लिखित निर्देश जारी कर दिए हैं।

प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले नौवीं और 11वीं कक्षा के हजारों विद्यार्थी बिना परीक्षा परिणाम के आधार पर अगली कक्षाओं में प्रमोट किए जाएंगे। कोरोना संकट के चलते प्रदेश सरकार ने लगातार दूसरे वर्ष भी परीक्षाओं में विद्यार्थियों को फेल नहीं करने का फैसला लिया है।  

हिमाचल में प्रमोट होंगे

बीते दिनों हुई नौवीं और 11वीं कक्षा की परीक्षाएं नहीं देने वाले विद्यार्थी प्रमोट नहीं किए जाएंगे। इन विद्यार्थियों को करीब दो माह बाद दोबारा से परीक्षाएं देने का मौका दिया जाएगा। इन विद्यार्थियों को परीक्षा परिणाम के आधार पर ही अगली कक्षा में भेजा जाएगा।

उधर, पहली से आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को भी अगली कक्षाओं में प्रमोट कर दिया जाएगा। इन कक्षाओं के विद्यार्थियों को फेल नहीं किया जाएगा। शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत पहली से आठवीं तक के विद्यार्थियों को मूल्यांकन के आधार पर अगली कक्षा में भेजा जाता है।

हिमाचल में प्रमोट होंगे स्कूल

मंगलवार को उच्च शिक्षा निदेशक की अध्यक्षता में सभी जिला उपनिदेशकों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग हुई। किन्नौर और लाहौल-स्पीति जिले के अलावा 10 जिलों के अधिकारी इस दौरान मौजूद रहे।

अधिकांश अधिकारियों ने कोरोना संकट के दौरान हुई ऑनलाइन पढ़ाई का हवाला देते हुए इस वर्ष भी विद्यार्थियों को प्रमोट करने की वकालत की। जिला उपनिदेशकों ने तर्क दिया कि परीक्षा परिणाम के आधार पर नतीजे जारी करने से कई विद्यार्थी अगली कक्षा में नहीं जा पा रहे हैं।

ऐसे में सरकार को इस संबंध में विचार करना चाहिए। देर शाम को इस मामले को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के बीच विस्तृत चर्चा हुई। शिक्षा मंत्री से भी इस सोच को साझा किया गया। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि विस्तृत चर्चा के बाद नौवीं और 11वीं कक्षा के विद्यार्थियों को अगली कक्षाओं में प्रमोट करने की सहमति बन गई है।

हिमाचल स्कूल

उधर, शिक्षा निदेशालय की ओर से सभी जिला उपनिदेशकों को मौखिक तौर पर बुधवार को विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट करने की जानकारी देने को कह दिया गया है।

जिला अधिकारियों ने इस संदर्भ में स्कूल प्रिंसिपलों को व्हाट्सअप से मैसेज भी भेज दिए हैं। उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने बताया कि कोरोना संकट को देखते हुए विद्यार्थियों को प्रमोट करने की योजना है।

बुधवार को इस बाबत अंतिम फैसला हो जाएगा। उन्होंने बताया कि पांच से दस अप्रैल से स्कूलों में दाखिलों की प्रक्रिया चलेगी। 11 अप्रैल से नया शैक्षाणिक सत्र शुरू किया जाना प्रस्तावित है।

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *