डिपो से राशन लें, पैसे ऑनलाइन चुकता करें, उपभोक्ता दो तरह से ले सकेंगे राशन

राशन डिपो पर जाकर भी अब आप ऑनलाइन माध्यम से पैसे दे सकते हैं। जो सामग्री आपने ली है, उसकी कीमत ऑनलाइन माध्यम से चुकता हो सकेगी। ऐसी व्यवस्थाएं सभी डिपो धारकों को रखनी होंगी, जो गूगल पे या किसी दूसरे माध्यम से पैसे वसूल कर सकते हैं।

खाद्य आपूर्ति विभाग ने यह निर्णय लोगों की सुविधा के लिए लिया है। साथ ही बायोमीट्रिक मशीनों के अलावा ओटीपी के माध्यम से भी राशन देने की सुविधा को शुरू कर दिया है। हालांकि सरकार ने निर्देश दिए हैं कि जो एसओपी बनाई गई है उसका पूरा पालन राशन डिपुओं में करना होगा, अन्यथा ऐसे संचालकों पर कार्रवाई की जाएगी।

 राशन वितरण को लेकर बनाई गई व्यवस्थाओं पर शनिवार को एक महत्त्वपूर्ण बैठक हुई, जिसमें खाद्य आपूर्ति मंत्री राजिंद्र गर्ग ने पूरी व्यवस्था को जांचा और कहा कि लोगों को राहत देने के लिए सभी तरह की सुविधाएं दी जाएं। क्योंकि कोरोना का संक्रमण काफी ज्यादा बढ़ गया है, इसलिए लोग राशन डिपुओं पर जाने से भी डर रहे हैं। वहां पर लगी बायोमीट्रिक मशीन को लेकर लोगों में संशय हैं।

हालांकि इन मशीनों के इस्तेमाल से पहले हर बार इसको सेनेटाइज करने को कहा गया है, मगर ऐसा सभी लोग कर रहे होंग, लगता नहीं। ऐसे में अब डिपुओं पर ओटीपी की व्यवस्था से राशन देने की शुरूआत भी कर दी गई है, मगर यह लाभ उसी उपभोक्ता को मिलेगा जिसके मोबाइल नंबर आधार के साथ लिंक हैं और डिपुओं में भी उन्होंने लिंक करवा रखे हैं। ऐसे 60 फीसदी उपभोक्ताओं को तो इस सेवा का लाभ मिल जाएगा, मगर सभी लोग इसका लाभ नहीं ले सकते, लिहाजा उनको बायोमीट्रिक की व्यवस्था अभी लागू है।

 मंत्री ने विभागीय अधिकारियों को हिमाचल प्रदेश में कार्यरत सभी उचित मूल्यों की दुकानों में आईआरआईएस  सुविधा शीघ्र उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए। इसके लिए विभाग द्वारा जारी ईओआई में छह पार्टियों ने भाग लिया है।

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मानक संचालन प्रक्रिया की अनुपालना सुनिश्चित करने के लिए सभी जिला नियन्त्रकों की अध्यक्षता में कमेटियां गठित की गई हैं तथा जिला नियन्त्रक एवं निरीक्षक उचित मूल्य की दुकानों के निरीक्षण कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि ओटीपी से खाद्यान्न वितरण शुरू कर दिया गया है तथा आज 240 उपभोक्ता आधार ओटीपी के माध्यम से खाद्यान्न प्राप्त कर चुके हैं। बैठक में निदेशक, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले रामकुमार गौतम और अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे

न हो डाक कर्मियों की अनदेखी, कोविड वैक्सीन की अधिसूचना में शामिल न होने पर खफा

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *