टी-20 वर्ल्ड कप में रविवार को न्यूजीलैंड ने अफगानिस्तान को आठ विकेट से मात देकर भारत की सेमीफाइनल में पहुंचने की आखिरी उम्मीद भी चकनाचूर कर दी। पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से खुद बुरी तरह पिट चुकी भारतीय क्रिकेट टीम इस मैच में अफगानिस्तान की जीत के लिए दुआ कर रही थी, लेकिन उसकी सारी उम्मीदें धरी की धरी रह गईं।

 

अब सोमवार को नामीबिया के खिलाफ अपने अंतिम वर्ल्ड कप मुकाबले में भारत मात्र औपचारिकता पूरी करने उतरेगा। अगर इस मैच में कीवी टीम हारती, तो ही भारत टॉप-4 में आगे बढ़ सकता था, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। न्यूजीलैंड ने न सिर्फ मैच जीता, बल्कि सेमीफाइनल का टिकट भी कटा लिया। दरअसल, भारत को सेमीफाइनल में पहुंचने के लिए जरूरी था कि अफगानिस्तान न्यूजीलैंड को हराता।

ऐसे में अफगानिस्तान और न्यूजीलैंड के 6-6 अंक होते। भारत अपने आखिरी लीग मैच में नामीबिया के खिलाफ जीत दर्ज करते हुए नेट रन रेट के हिसाब से सेमीफाइनल के लिए क्वॉलिफाई करता, लेकिन न्यूजीलैंड ने मैच जीतते हुए आठ अंकों के साथ सीधे सेमीफाइनल में पहुंचने में कामयाबी हासिल की। टी-20 वर्ल्डकप के सेमीफाइनल में अब ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान तथा न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच जंग होगी।

 

आईपीएल के तुरंत बाद जब टी-20 वर्ल्डकप की शुरुआत हुई, तब टीम इंडिया को इसे जीतने का दावेदार माना जा रहा था, क्योंकि भारतीय खिलाड़ी लंबे वक्त से यूएई में थे।

 

इसके अलावा प्रैक्टिस मैच में शानदार खेल देखने को मिला था, हालांकि जब टूर्नामेंट शुरू हुआ, तब पूरा खेल ही पलट गया। टीम इंडिया ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना पहला ही मैच गंवा दिया। किसी भी वर्ल्डकप में पाकिस्तान के हाथों भारत की यह पहली हार थी। अगले ही मैच में न्यूजीलैंड ने भी भारत को आठ विकेट से हरा दिया।

दो बड़ी हार के साथ ही टीम इंडिया के टूर्नामेंट में बने रहने का संकट जारी था। हालांकि, भारतीय टीम ने वापसी की और स्कॉटलैंड, अफगानिस्तान को बड़े अंतर से हराया, लेकिन तब तक काफी देर हो चुकी थी। अब सोमवार को नामीबिया के खिलाफ अपने अंतिम वर्ल्ड कप मुकाबले में भारत मात्र औपचारिकता पूरी करने उतरेगा।

 

आखिरी बार भी खाली हाथ रह गए कप्तान कोहली

विराट कोहली का टी-20 फार्मेट में कप्तान के तौर पर यह आखिरी टूर्नामेंट था। इसके बाद वह टीम की कप्तानी छोड़ देंगे। सेमीफाइनल की दौड़ से बाहर होने के बाद यह तय हो गया है कि कप्तानी में भारतीय टीम को आईसीसी टूर्नामेंट का विजतेा बनाना कोहली का सपना ही रह जाएगा। नामीबिया के खिलाफ  सोमवार को कोहली टी-20 फार्मेट में आखिरी बार भारतीय टीम की कप्तानी करते हुए दिखेंगे।

error: Content is protected !!