केंद्रीय सूचना प्रसारण व खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने केंद्रीय बजट 2022-23 को समावेशी, सर्वस्पर्शी व जन-जन का बजट बताते हुए इस जनहितकारी बजट के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का आभार प्रकट किया है। अनुराग ने कहा कि वित्त मंत्री द्वारा पेश किया गया वर्ष 2022-23 का केंद्रीय बजट देश के अमृत काल का बजट है। यह बजट समावेशी, सर्वस्पर्शी और जन-जन का बजट है।

 

यह बजट एक तरफ कोरोना के कठिन काल के बावजूद देश की अर्थव्यवस्था को दिशा व गति देता है तो वहीं दूसरी ओर आजादी के अमृत काल यानी 75वें वर्ष से लेकर आजादी के 100वें वर्ष तक का ब्लूप्रिंट भी प्रस्तुत करता है। यह बजट तात्कालिक रूप से आश्वस्त करने वाला और दूरगामी विजन प्रदान करने वाला दस्तावेज है।

 

भारत को आत्मनिर्भर बनाने के देशवासियों के सपने को साकार करने की दिशा में यह बजट एक बड़ा कदम है। रक्षा के क्षेत्र में भारत में रक्षा उत्पादन के लिए लागत में 10 फीसदी की बढ़ौतरी से हम तेजी के साथ रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की ओर अग्रसर होंगे।

अनुराग ने कहा कि वित्त मंत्री ने पहाड़ी और दुर्गम इलाकों पर विशेष ध्यान दिया है। बजट में घोषित पर्वतमाला से हिमाचल प्रदेश सहित पहाड़ी इलाकों में कनैक्टिविटी बेहतर होगी। इस बजट में गरीबों और वंचित समाज का विशेष ध्यान रखा गया है।

 

अंत्योदय की भावना को मूर्त रूप देते हुए इस बजट में नल से जल, शौचालय, गरीबों के लिए आवास पर बल दिया जाना स्वागत योग्य है। इसके साथ ही किसानों को जैविक खेती की ओर आकर्षित करने और उनकी आय को दोगुना करने के लक्ष्य से खाद्य प्रसंस्करण उद्योग को बढावा देने का संकल्प भी दिखता है।

 

अनुराग ने कहा कि एमएसएमई क्षेत्र को राहत और स्टार्टअप को बढावा देना भी इसी दिशा में उठाए गए कदम हैं। प्रधानमंत्री मंत्री नरेंद्र मोदी के विजन को साकार करने वाले वित्त मंत्री की ओर से पेश बजट का आमजनों ने भी स्वागत किया है और संसैक्स ने भी उछाल दर्शाया है।

Follow Facebook Page

error: Content is protected !!