पेंशनर अब ऑनलाइन जमा करवा सकेंगे जीवन प्रमाण पत्र

हिमाचल में पेंशन लेने के लिए जीवन प्रमाणपत्र अब पेंशनर ऑनलाइन भी दे सकेंगे। कोरोना महामारी के चलते सरकार ने यह व्यवस्था की है। निदेशक कोष, लेखा और लॉटरी डीडी शर्मा ने शुक्रवार को शिमला में कहा कि राज्य स्थित बैंकों के माध्यम से पेंशन प्राप्त करने वाले सरकार के पेंशनभोगियों को वार्षिक जीवन प्रमाण पत्र कोष कार्यालय में जमा करना आवश्यक है।

पेंशन

सरकार के पेंशनभोगी जो प्रदेश से बाहर रह रहे हैं अथवा राज्य से बाहर स्थित बैंकों से पेंशन का आहरण कर रहे थे, उन्हें अपना जीवन प्रमाण पत्र उस राज्य या केंद्र सरकार के राजपत्रित अधिकारी की ओर से हस्ताक्षरित और सत्यापित किए गए वर्तमान प्रारूप में बैंक के माध्यम से प्रस्तुत किया जाना था, क्योंकि राज्य सरकार ने अब आधार संख्या आधारित बायोमैट्रिक प्रमाणीकरण के माध्यम से पेंशनरों के ऑनलाइन सत्यापन के लिए जीवन प्रमाण लागू किया है।

पेंशन

ऐसे में ऐसे पेंशनभोगी भी जीवन प्रमाण वेबसाइट के माध्यम से उत्पन्न जीवन प्रमाण पत्र संबंधित कोष के कार्यालय से भेज सकते हैं और पेंशनरों को सत्यापन के लिए कोष कार्यालय जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

 

उन्होंने वैश्विक कोरोना महामारी की ओर से उत्पन्न परिस्थिति को देखते हुए सभी पेंशनभोगियों से अनुरोध किया है कि वेबसाइट से बायोमीट्रिक प्रमाणीकरण आधारित डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र का उपयोग करें।

Join facebook page

सरकार उत्कृष्ट खिलाड़ियों को टेट में न्यूनतम अंकों में छूट देने पर विचार करे: हिमाचल हाईकोर्ट

Himachal marriage permission: हिमाचल में अब ऑनलाइन कर सकेंगे विवाह और अन्य कार्यक्रमों के लिए आवेदन

Leave a Reply

Top