रिश्वत मामले में पकड़ा पंचायत सचिव निलंबित, कोर्ट ने 14 दिन के न्यायिक रिमांड पर भेजा

विधानसभा हरोली की ग्राम पंचायत ईसपुर के सचिव को निलंबित कर दिया है। इस बारे में विभाग ने आदेश भी जारी कर दिए हैं। बता दें कि 29 जून को पंचायत सचिव को विजीलैंस ने 12,000 रुपए की रिश्वत लेते गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि विजीलैंस को दी शिकायत में शिकायतकर्ता ने कहा था कि गांव ईसपुर में ईंटों का डंप लगाने को लेकर उसके द्वारा मांगी गई एनओसी के बदले सचिव उससे 12,000 रुपए की रिश्वत मांग रहा है, जिसके बाद विजीलैंस की टीम ने ट्रैप लगाते हुए सचिव को रिश्वत की राशि लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था।

औपचारिकताएं पूरी करने के बाद उसे कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 2 दिनों के लिए पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। शुक्रवार को पुलिस रिमांड की समयावधि पूरी होने के बाद उसे कोर्ट में दोबारा पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिनों के लिए न्यायिक रिमांड पर भेज दिया है।

दूसरी ओर विभाग ने भी अपनी कार्रवाई करते हुए उसे निलंबित कर दिया है। एडीसी द्वारा जारी आदेश में बताया गया कि 48 घंटे तक पुलिस हिरासत में रहने पर विभागीय कार्रवाई करते हुए उसे निलंबित किया गया है।

बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

कुल्लू थप्पड़ कांड : बृजेश सूद को फिर बनाया सीएम सिक्यूरिटी का इंचार्ज

Fri Jul 2 , 2021
हिमाचल प्रदेश के बहुचर्चित थप्पड़ कांड के बाद हटाए गए बृजेश सूद को सरकार ने फिर से अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुख्यमंत्री सुरक्षा लगा दिया है। शुक्रवार को सरकार ने इसकी अधिसूचना जारी कर दी है। उधर, मुख्यमंत्री ने कहा है कि वीडियो साक्ष्य के आधार पर इस कांड में फंसे […]
error: Content is protected !!