CTC Tea : अब हिमाचल में तैयार होगी सीटीसी चाय, शुरुआती दौर में 30 से 40 हजार किलो चाय उत्पादन की संभावना

CTC Tea : प्रदेश के लोग कड़क चाय के शौकीन हैं और अब इसके लिए उनको दूसरे राज्यों से आने वाली चाय पर निर्भर नहीं रहना होगा। बहुत जल्द अपनी मिट्टी में तैयार कड़क चाय का भरपूर स्वाद चाय के शौकीनों के प्याले में उपलब्ध होगा।

 

टी बोर्ड ऑफ इंडिया के सहयोग से कांगड़ा जिला के साथ लगते मंडी क्षेत्र के स्वयं सहायता समूहों ने सीटीसी यानी दानेदार चाय की तैयारी शुरू कर दी है। प्रदेश में दानेदार चाय के तलबगारों की काफी संख्या है वहीं इस चाय का उत्पादन कई मायनों में चाय उत्पादकों के लिए भी लाभकारी होगा।

 

चाय
CTC Tea

जानकारी के अनुसार फिलवक्त प्रदेश में 30 से 40 हजार किलो चाय का उत्पादन होगा और इसको बेचने के लिए कोलकाता आदि का रुख नहीं करना होगा। कारण यह कि सीटीसी चाय की प्रदेश में काफी मांग है और यह चाय यहां हाथों हाथ बिक जाएगी। सीटीसी चाय के दाम भी बाजार में अच्छे मिलते हैं इससे चाय उत्पादक भी फायदे में रहेंगे।

 

गौर रहे कि सीटीसी चाय अभी तक असम, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडू में ही तैयार की जाती है और प्रदेश में सीटीसी चाय बनाने का यह पहला प्रयास होने जा रहा है। चाय बोर्ड ने करीब 40 चाय उत्पादकों को बाकायदा सीटीसी चाय तैयार करने और इससे संबंधित मशीनों के उपयोग की पूरी जानकारी प्रदान की है।

अलग होता है सीटीसी चाय का स्वाद

CTC Tea
CTC Tea

सीटीसी चाय का स्वद प्रदेश में फिलववक्त तैयार की जा रही आर्थोडॉक्स ब्लैक और ग्रीन चाय से थोड़ा अलग होता है। अलग स्वाद व महक के लिए विभिन्न तरीकों का उपयोग किया जाता है। सीटीसी यानी कट, टीयर एंड कलर चाय का स्वरूप दानेदार होता है।

Himachal College : कालेज नहीं आएंगे छात्र, केस बढ़ते देख शिक्षा विभाग ने लिया बड़ा फैसला, ऑनलाइन ही होगी पढ़ाई

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!