हिमाचल : डिपुओं में सरसों का तेल महंगा, एपीएल को 160, बीपीएल को 155 रुपए किलो मिलेगा ऑयल

कोरोना संकट के बीच अब लोगों को महंगाई की मार झेलनी पड़ेगी। पहले डिपुओं में जो तेल एपीएल उपभोक्ताओं को 103 रुपए का मिलता था, वो अब 160 का मिलेगा। वहीं, बीपीएल को 155 व आयकर दाताओं को 180 रुपए प्रति लीटर सरसों का तेल जून से मिलेगा। अगले महीने जून से लोगों को डिपो में महंगे दामों के साथ सरसों तेल महंगा मिलेगा।

प्रदेश सरकार ने एक महीने के लिए सरसों तेल का शार्ट टेंडर कर दिया है। यह टेंडर हरियाणा सरकारी एजेंसी हैफेड को मिला है। सरकार ने एजेंसी को सप्लाई आर्डर जारी कर दिया है। इस महीने की 27 तारीख से एजेंसी सप्लाई भेजना शुरू कर देगी।

हिमाचल के एपीएल राशनकार्ड उपभोक्ताओं को डिपो में अभी 103 रुपए सरसों तेल दिया जा रहा है। उधर, उपभोक्ताओं को झटका देते हुए कोरोना के चलते डिपो में दालें भी पांच से 15 रुपए तक महंगी कर दी गई है।

विभाग ने डिपुओं में राशन के बढ़़ते रेट के पीछे भाड़ा बढ़ जाना व लेबर की दिहाड़ी में इजाफा होना बड़ा कारण बताया है। विभाग का कहना है कि राशन उठाने के लिए मजदूर नहीं मिल रहे है। वहीं, मार्केट में भी दालों और तेल के दाम बढ़े है। बाजार मूल्य की अपेक्षा  यह तेल 30 से 35 रुपए तक सस्ता मिलेगा।

हिमाचल में साढ़े 18 लाख राशन कार्ड उपभोक्ता है, जिन पर मंहगाई की मार पड़ेगी। सरकार का मानना है कि बीपीएल के लिए डिपो में सरसों तेल का रेट 155 रुपए होगा। हरियाणा सरकारी एजेंसी के रेट कम थे, टेंडर उनको दिया है।

पहले की अपेक्षा तेल महंगा हुआ है। एपीएल उपभोक्ताओं को करीब 160 रुपए प्रतिलीटर तेल मिलेगा। बताया जा रहा है कि मुख्य बाजारों में तेल के दाम 200 रुपए लीटर है।

एक्साइज से 1829 करोड़ रुपए कमाएगी सरकार, नई आबकारी नीति को मंजूरी

 

Leave a Reply

Top