राठौर ने साधा निशाना, बोले-जनता पर महंगाई थोपने वाली भाजपा मांग रही जनता से आशीर्वाद

प्रदेश कांग्रेस ने जन आशीर्वाद यात्रा पर भाजपा सरकार को आड़े हाथ लिया है। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने वीरवार को राजीव भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहा कि एक तरफ सरकार यात्रा निकालते हुए जनता का आशीर्वाद मांग रही है तो दूसरी तरफ जनता को महंगाई का तोहफा दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने अपने 4 साल के कार्यकाल में ऐसा कोई कार्य नहीं किया कि उसे जनता का आशीर्वाद मिल सके।

प्रदेश में कोरोना के बढ़ रहे मामलों के समय शुरू की यात्रा

राठौर ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों के चलते पैट्रोल-डीजल के दामों में लगातार वृद्धि हो रही है। इसके साथ ही घरेलू गैस सिलैंडर और खाद्य वस्तुओं के दाम आसमान छू रहे हैं तथा हर वर्ग बढ़ती महंगाई से आज त्रस्त है।

उन्होंने कहा कि यह यात्रा उस समय शुरू की गई है जब प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, ऐसे में यदि आगामी दिनों में कोरोना विस्फोट होता है तो उसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार अधिकारियों को ताश के पत्तों की तरह फैंट रही है। सरकार मुख्य सचिव तक को कई दफा बदल चुकी है। तबादलों की लंबी-लंबी सूची जारी हो रही है।

कैग की रिपोर्ट से खुल गई कार्यप्रणाली की पोल

राठौर ने कहा कि कैग की रिपोर्ट से सरकार की कार्यप्रणाली की पोल खुल गई है। पशुचारा घोटाला की फेहरिस्त में अब हिमाचल भी शामिल हो गया है। अफसर पशुओं के चारे में घोटाला कर रहे हैं और सरकार मूकदर्शक बनी हुई है।

पार्टी नेताओं के नारे लगाना गलत नहीं

राठौर ने कहा कि पार्टी नेताओं के नारे लगाना गलत नहीं है। उन्होंने कहा कि सभी पाॢटयों में प्रतिद्वंद्वता रहती है। ऐसे में कई दफा समर्थक अपने नेता के पक्ष में नारे भी लगाते हैं जिसे गलत ढंग से नहीं देखा जाना चाहिए।

Kuldeep Rathore
Kuldeep Rathore

चरित्र हनन की ओछी राजनीति करने वाले हों बेनकाब

राठौर ने कहा कि बेनामी पत्र जारी करने वाले बेनकाब होने चाहिए। उन्होंने कहा कि चाहे सत्तापक्ष हो या विपक्ष, ओछी राजनीति कर नेताओं के चरित्र हनन का प्रयास करने से जुड़े ऐसे मामलों को सरकार गंभीरता से लें और ऐसी मानसिकता वालों पर कड़ी कार्रवाई हो। राठौर ने कहा कि उनके मंडी दौरे से लौटने के बाद एक फर्जी पत्र जारी हुआ जिसका कोई आधार नहीं है।

error: Content is protected !!