Kinnaur : परियोजनाओं के खिलाफ हल्ला बोल, किन्नौर में प्रोजेक्ट रद्द करने को संघर्ष समितियों और जनता ने उठाई मांग

जिला किन्नौर में विद्युत परियोजनाओं के निर्माण के विरोध में व किन्नौर के अस्तित्व को बचाने के लिए Kinnaur के लोग लामबंद हो गए हैं। इसी के चलते गुरुवार को हजारों की संख्या में हिमलोक जागृति मंच किन्नौर, जिला वन अधिकार संघर्ष समिति किन्नौर व जंगी ठोपन पोवारी प्रभावित संघर्ष समिति किन्नौर के संयुक्त तत्त्वावधान में परियोजना प्रभावित क्षेत्रों के लोग सड़कों पर उतरे व हजारों परियोजना प्रभावित क्षेत्रों के लोगों सहित जिला के लोगों ने एकजुट होकर जिला मुख्यालय रिकांगपिओ में विरोध रैली निकाली। इस दौरान किन्नौर में और अधिक परियोजनाओं के निर्माण पर रोक लगाने की मांग कर विरोध प्रदर्शन किया।

इस प्रदर्शन में जिला वन अधिकार संघर्ष समिति, जिला हिम लोक जागृति संघ, रारंग संघर्ष समिति, युवक मंडल खदरा व कानम सहित विभिन्न क्षेत्रों की परियोजना प्रभावित समितियों के लोगों ने जनजातीय एकता जिंदाबाद व नो मीन्स नो आदि के नारे लगाकर जमकर विरोध किया। यह विरोध रैली रामलीला मैदान रिकांगपिओ से शुरू हुई तथा मुख्य बाजार से होते हुए पीएनबी बैंक तक पहुंची तथा वापस रामलीला मैदान में पहुंची।

रैली के बाद समितियों के पदाधिकारियों ने सहायक आयुक्त किन्नौर के माध्यम से प्रदेश सरकार के माध्यम से ज्ञापन भी भेजा, जिसमें जिला किन्नौर की संवेदनशीलता को ध्यान में रखते हुए सभी प्रस्तावित जल विद्युत परियोजनाओं को निरस्त किए जाने, जिला में मौजूद भू-स्खलन प्रभावित जगहों को चिन्हित कर सुरक्षा के ठोस इंतजाम करने आदि की मांग की गई।

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!