HPTET : एक बार पास टेट को उम्र भर मान्य करने के लिए कैबिनेट में जाएगा प्रस्ताव

HPTET: एक बार पास हुई अध्यापक पात्रता परीक्षा (टेट) को उम्र भर के लिए मान्य करने का प्रस्ताव कैबिनेट बैठक में जाएगा। नेशनल काउंसिल फॉर टीचर एजूकेशन ने शिक्षक पात्रता परीक्षा में बड़ा बदलाव किया है।

 

अभी सात वर्ष के लिए टेट पास उम्मीदवार नौकरी के लिए पात्र थे। केंद्र से मिली छूट के बाद अब बार-बार टेट पास नहीं करना पड़ेगा। इसे हिमाचल में लागू करने को मंत्रिमंडल की मंजूरी लेना जरूरी है। ऐसे में शिक्षा विभाग के अधिकारी आगामी मंत्रिमंडल बैठक के लिए प्रस्ताव बनाने में जुटे हैं।

 

HP TET
Himachal cabinet

एनसीटीई की ओर से नियमों में किया गया बदलाव केंद्र के साथ राज्यों में भी लागू होगा। केंद्र और राज्य एनसीटीई नियमों से टेट करवाते हैं। केंद्र के लिए सीबीएसई और राज्य अपनी परीक्षा खुद करवाते हैं। पिछले दिनों हुई एनसीटीई की बैठक में टेट के नियमों में बदलाव को मंजूरी दी गई है। सरकारी स्कूलों में शिक्षक बनने को टेट पास करना अनिवार्य है।

 

नए नियम में एक बार परीक्षा पास करने पर उम्र भर के लिए पात्रता मिलेगी। सरकार के इस फैसले का सबसे अधिक लाभ महिलाओं को होगा। दरअसल, शादी और बच्चों के चलते वे नौकरी छोड़ देती थीं। अब दोबारा आसानी से नौकरी पा सकेंगी।

HP TET
HP TET

जेबीटी, टीजीटी के साथ स्कूल प्रवक्ता के लिए टेट अनिवार्य

नई शिक्षा नीति लागू होते ही शिक्षक बनने को टेट पास करना सभी के लिए अनिवार्य हो गया है। स्कूलों में शिक्षक बनने के लिए टेट पास ही आवेदन कर सकेंगे। हिमाचल में अभी तक जेबीटी और टीजीटी बनने के लिए टेट पास होना जरूरी था।

HPTET

नई नीति लागू होने के बाद स्कूल प्रवक्ता न्यू के लिए भी यह नियम लागू होगा। हिमाचल में जेबीटी और टीजीटी की भर्ती कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर और स्कूल प्रवक्ता न्यू की भर्ती लोकसेवा आयोग करता है।

इसे भी पढ़े:  

Sarkari naukari : मंत्रिमंडल सचिवालय भर्ती 2020-21: फील्ड असिस्टेंट ग्रुप-सी सी पदों की वेकेंसी के लिए करें आवेदन

PM Modi says, Birsa Munda’s contribution to freedom movement and efforts for social harmony will always inspire people

Join facebook page

Leave a Reply

Top