कोरोना कर्फ्यू बढ़ेगा या मिलेंगी कुछ रियायतें, मंत्रिमंडल की बैठक में आज होगा फैसला

राज्य मंत्रिमंडल की सोमवार को होने वाली बैठक में 26 मई तक लागू कोरोना कर्फ्यू को लेकर फैसला होना है। इसमें कर्फ्यू की अवधि बढ़ाने या कुछ रियायतें देने को लेकर चर्चा होनी है।

जानकारों की मानें तो राज्य में अभी कोरोना की संक्रमण दर 20 फीसदी से अधिक है। इससे भी चिंताजनक व डरावना कोरोना से रोजाना मरने वालों का आंकड़ा है, ऐसे में कर्फ्यू में ढील की संभावनाएं कम ही नजर आ रही हैं।

31 मई तक बढ़ाया जा सकता है कोरोना कर्फ्यू

वहीं देश के कई अन्य राज्यों ने भी लॉकडाऊन की अवधि को आगे बढ़ा दिया है। दिल्ली में 5 प्रतिशत से कम संक्रमण दर आने के बावजूद एक सप्ताह के लिए लॉकडाऊन बढ़ा दिया गया है, ऐसे में प्रदेश में भी कम से कम 31 मई तक कोरोना कर्फ्यू बढ़ाया जा सकता है। राज्य में बीते 10 मई से कोरोना कर्फ्यू लागू है।

तब से सरकारी दफ्तर, सार्वजनिक परिवहन, होटल व व्यापार इत्यादि सब बंद पड़े हैं। इसे देखते हुए कई शहरों के व्यापारी सरकार पर दुकानें खोलने को लेकर दबाव बना रहे हैं। इस पर अब मंत्रिमंडल को ही अंतिम फैसला लेना है।

3 घंटे खुल रहीं आवश्यक वस्तुओं की दुकानें

इन दिनों फिलहाल आवश्यक वस्तुओं की दुकानें ही केवल 3 घंटे के लिए खोली जा रही हैं। अलग-अलग जिला में तय समय में लोग जरूरी वस्तुओं की खरीददारी के लिए अपने-अपने घरों से निकलते हैंऔर ढील की अवधि पूरी होते ही बाजार बंद कर दिए जाते हैं।

इसी तरह शादी समारोह व अन्य सार्वजनिक कार्यक्रमों में अधिकतम 20 लोगों के शामिल होने की शर्त जारी रखी जा सकती है। राज्य सरकार शिक्षण संस्थानों की छुट्टियों की अवधि बढ़ाने का भी फैसला ले सकती है। इसमें राज्य आपदा प्रबंधन सेल द्वारा कोरोना की स्थिति को लेकर प्रस्तुति भी दी जाएगी।

खराब आर्थिक हालात को लेकर भी होगी चर्चा

मंत्रिमंडल की बैठक में राज्य की खराब आर्थिक हालत की भी समीक्षा की जाएगी। कोरोना कर्फ्यू के कारण सभी तरह के कारोबार ठप्प पड़े हैं। इससे सरकार की वित्तीय स्थिति बिगड़ती जा रही है।

इन पर भी बैठक में चर्चा होनी है। टीकाकरण अभियान में तेजी लाने, ऑक्सीजन व दवाइयों की उपलब्धता को लेकर भी स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रस्तुति दी जाएगी।

Leave a Reply

Top