Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session

Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session : हिमाचल विधानसभा के मानसून सत्र में मंगलवार को सदन में स्वास्थ्य मंत्री के जवाब से असंतुष्ट विपक्ष ने सदन से जमकर हंगामा किया। इसके बाद विपक्ष के सदस्यों ने नारेबाजी करते हुए सदन से वाकआउट कर दिया। वहीं, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने विपक्ष के वाकआउट की निंदा करते हुए कहा कि मंत्री विस्तार से सदन में जानकारी दे रहे थे और विपक्ष सुनने को तैयार नहीं था। सरकार ने कोरोना काल में बेहतर कार्य किया है।

Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session
Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session

अस्पतालों में मरीजों को बिस्तर उपलब्ध कराए गए। उपयुक्त मात्रा में ऑक्सीजन उपलब्ध करवाई है। सत्ता पर रहते हुए कांग्रेस ने  50 साल में सिर्फ 50 वेंटिलेटर दिए थे। आज 800 वेंटिलेटर  हैं और 500 वेंटिलेटर  पीएम केयर फंड से मिले। सरकार और स्वास्थ्य विभाग कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। प्रदेश में कोरोना में मामले बढ़ रहे हैं। इससे पहले सुबह सदन में बिना किसी गतिरोध के प्रश्नकाल शुरू हुआ। किन्नौर के विधायक जगत सिंह ने सदन में वन मंजूरी में देरी के मामले उठाए। कहा कि  प्रदेश में बगैर वन मंजूरी के कोई प्रोजेक्ट शुरू नहीं हो सकता। नए प्रोजेक्टों की वन मंजूरी का मामला भी सुप्रीम कोर्ट में उठाएंगे। 

Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session
Himachal Vidhan Sabha Monsoon Session

error: Content is protected !!