Himachal News – 29 June 2021

हिमाचल में डैल्टा स्ट्रेन के 76 व कापा स्ट्रेन के आए 8 केस, कोरोना के 148 नए मामले

हिमाचल में डैल्टा स्ट्रेन के 76 व कापा स्टे्रन के 8 पॉजिटिव केस आए हंै। वहीं अभी तक यू.के. स्ट्रेन के 109 पॉजिटिव मामले आ चुके हैं। प्रदेश से कोविड-19 के पॉजिटिव मामलों के परीक्षण के लिए 1113 सैंपल राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एन.सी.डी.सी.) दिल्ली भेजे गए थे, जिनमें इन सभी मामलों की पुष्टि हुई है। हालांकि अभी तक डैल्टा प्लस स्ट्रेन का कोई मामला सामने नहीं आया है। हालांकि दूसरी लहर में मृत्यु दर में वृद्धि हुई है। दूसरी लहर में मृत्यु दर 1.68 से बढ़कर 1.72 हो गई, जबकि पॉजिटिविटी दर भी पहली लहर की तुलना में दोगुनी हुई। पहली लहर में 5.48 की पॉजिटिविटी दर देखी गई जो दूसरी लहर में बढ़कर 10.73 हो गई।

 

Himachal News

प्रदेश में बीते 24 घंटों में कोरोना से 2 लोगों की मौत हुई है और 148 नए मामले आए हैं। कोरोना से 66 वर्षीय महिला की शिमला व 58 वर्षीय महिला की किन्नौर में मौत हुई। नए आए संक्रमितों में बिलासपुर के 10, चम्बा 40, हमीरपुर 12, कांगड़ा 16, किन्नौर 7, कुल्लू 8, मंडी 17, शिमला 23, सिरमौर 6, सोलन 3 व ऊना के 6 मरीज शामिल हैं। अब कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 201813 पहुंच गया है। वर्तमान में 1691 कोरोना संंक्रमितों का उपचार चल रहा है। वहीं 196629 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके है।

एक दिन के अंदर 206 मरीज स्वस्थ हुए है 17 मरीज ऐसे हैं, जोकि अपना उपचार करवाने प्रदेश से बाहर चले गए हैं। प्रदेश में अभी तक कुल 2410448 लोगों के टैस्ट किए जा चुके है, जिनमें से 2208625 लोगों की रिपोर्ट नैगेटिव आ चुकी है। प्रदेश के विभिन्न जिलों सेे 12428 लोगों के सैंपल लिए गए, जिनमें से 12284 सैंपलों की रिपोर्ट नैगेटिव आई है और 10 की रिपोर्ट आना बाकी है।

पुलिस-विधि विश्वविद्यालय में एमओयू, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर बोले, समझौता ज्ञापन से सामने आएंगे सार्थक परिणाम

हिमाचल पुलिस और राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के समझौता समारोह के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि इसके सार्थक परिणाम सामने आएंगे। यह समझौता ज्ञापन हिमाचल प्रदेश पुलिस और विद्यार्थियों, विभिन्न संकायों, हिमाचल प्रदेश विधि विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के बीच संस्थागत संचार का प्रभावी माध्यम साबित होगा। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व हिमाचल पुलिस ने आईआईटी मंडी के साथ भी समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित किया था, जिसके सार्थक परिणाम आए हैं। आईआईटी मंडी के साथ समझौता ज्ञापन हस्ताक्षरित करने के परिणामस्वरूप हिमाचल पुलिस ने कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने, यातायात प्रबंधन और महिलाओं के विरुद्ध अपराध रोकने के लिए भावीसूचक रणनीति को अपनाया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस-लॉ इंटरएक्शन फोरम न्यायालयों द्वारा दिए जाने वाले निर्णयों और उनकी वैधिक परिभाषा को समझने में पुलिस कर्मियों की सहायता करेगा तथा दोनों संगठनों के मध्य एक सहयोगी व्यवस्था स्थापित करने में सफल होगा। समझौता ज्ञापन के अंतर्गत प्रदेश राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को ग्रीष्म तथा शीत इंटर्नशिप के दौरान पुलिस थानों की कार्यप्रणाली से अवगत करवाया जाएगा। प्रदेश राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों तथा शोधकर्ताओं को पुलिस प्रशासन की कार्यप्रणाली के बारे में भी ज्ञान प्राप्त होगा। जयराम ठाकुर ने प्रदेश पुलिस के कार्य की सराहना करते हुए कहा कि जिला शिमला के पुलिस थाना चैपाल को वर्ष 2018 में देश के प्रथम 10 पुलिस थानों में शामिल किया गया था। इसी वर्ष हिमाचल पुलिस को जिला कुल्लू में प्रतिभागी कार्यक्रम के लिए स्कॉच अवार्ड से सम्मानित किया गया था।

आरएडीएमएस प्रोजेक्ट के लिए वर्ष 2018 में एफआईसीसीआई द्वारा भी हिमाचल पुलिस को सम्मानित किया गया। प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश एल. नारायण स्वामी ने कहा कि जिम्मेदारियों के इस माहौल में पुलिस विभाग को बदलती कानूनी व्यवस्था और कानून की व्याख्या के बदलते पहलुओं के साथ खुद को शिक्षित रखने की आवश्यकता है। इसके लिए पुलिस कर्मियों और सिस्टम से जुड़े अन्य अधिकारियों के ज्ञान का निरंतर अद्यतन करने की जरूरत है।

उन्होंने कहा कि कानून के विद्यार्थी कक्षा में जो सीखते हैं और वास्तव में क्षेत्र की सच्चाई को लेकर जो खाई होती है, कानून लागू करते समय उसको पाटने की तत्काल आवश्यकता है। यह समैझाता ज्ञापन प्रभावी ज्ञान प्रसार, व्यावहारिक प्रशिक्षण और नवीन विचारों के आदान-प्रदान को सुनिश्चित करने के लिए अन्य राज्यों के लिए

एचआरटीसी ने रचा इतिहास, चंद्रताल तक पहुंचाई बस, सैलानियों को 14100 फुट ऊंचाई पर झील का दीदार करवाएगा पथ परिवहन निगम

Himachal News
Himachal News

विश्व पटल में प्रकृति के अनोखे नजारों से सुसजित और जीके के प्रश्न में अहम भूमिका निभाने वाली चंद्रताल झील की सैर अब देश-दुनिया के पर्यटक सस्ते किराए में कर सकेंगे। वहीं, देशभर के शोधार्थी भी हिमाचल सरकार की बसों में यात्रा कर आसानी से चंद्रताल झील की महत्तता को नजदीकी जानेंगे। पर्यटन को बढ़ावा देने और पर्यटकों को सुविधा प्रदान करने के लिए हिमाचल पथ परिवहन निगम अपनी बस सेवा को शुरू कर दिया है।

हिमाचल पथ परिवहन के इतिहास की यह पहली बस सेवा शुरू हो गई है। बता दें कि बीते रविवार को जिला प्रशासन लाहुल-स्पीति द्वारा गठित छह सदस्यीय कमेटी ने बस द्वारा चंद्रताल मार्ग का निरीक्षण किया और ट्रायल सफल रहा। कमेटी द्वारा कुछ जगहों पर मार्ग को दुरुस्त करने बारे जिला प्रशासन को पत्र लिख कर सूचित किया है।

जैसे ही मार्ग उचित पाया जाता है इस मार्ग पर बस सेवा आरंभ कर दी जाएगी। एचआरटीसी केलांग डिपो ने भी पहली बार विख्यात चंद्रताल के लिए बस सेवा शुरू कर दी है। बता दें कि 14100 फुट ऊंचे चंद्रताल पर बस चलने से लोगों के साथ-साथ पर्यटन को भी बढ़ावा मिलेगा।

मनाली से 110 किलोमीटर सफर
प्रबंधक निदेशक हिमाचल पथ परिवहन निगम संदीप कुमार ने हाल के लाहुल दौरे पर केलांग डिपो को इस मार्ग पर बस चलाने व मार्ग निरीक्षण बारे आदेश किए थे, जिस पर जिला प्रशासन द्वारा एक कमेटी गठित कर इस मार्ग को निरीक्षण करने के आदेश दिए थे। इसके चलते प्रशासन द्वारा गठित छह सदस्यीय कमेटी ने रविवार को इस मार्ग पर बस का ट्रायल किया, जो सफल रहा। मनाली से 110 किलोमीटर दूरी पर चंद्रताल स्थित है ।

बस चलने से पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
हिमाचल पथ परिवहन निगम केलांग के क्षेत्रीय प्रबंधक मंगल चंद मनेपा ने कहा कि मनाली से चंद्रताल का बस ट्रायल सफल रहा है। मनाली से चंद्रताल जाने का किराया 248 और आने का किराया भी 248 रुपए ही लगेगा। मनाली से अटल टनल रोहतांग होते चंद्रताल का नजारा पर्यटक देख सकेंगे। एक साथ जहां अटल टनल रोहतांग और चंद्रताल झील का दीदार होगा। बस चलने से यहां के पर्यटन को भी बढ़ा मिल सकेगा।

प्रदेश महिला कांग्रेस ने सरकार से उठाई मांग; पत्नी को पीटने वाले विधायक को तुरंत गिरफ्तार किया जाए

Himachal News
Himachal News

प्रदेश महिला कांग्रेस ने भाजपा विधायक विशाल नैहरिया को तुंरत गिरफ्तार करने की मांग करते हुए उनकी पत्नी ओशीन शर्मा को पुलिस सुरक्षा देने की मांग फिर से दोहराई है। विधायक द्वारा पत्नी से किए गए दुव्र्यवहार, शारीरिक व मानसिक उत्पीडऩ की निंदा करते हुए कहा है कि जनता के चुने हुए एक प्रतिनिधि द्वारा ऐसा कृत्य किया जाना बहुत ही दुखदायी है और इसके लिए उसे कड़ी सजा दी जानी चाहिए। महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनब चंदेल ने कहा कि भाजपा विधायक नैहरिया को आड़े हाथ लेते हुए कहा है कि जब एक नेता अपने घर पर अपनी प्रशासनिक अधिकारी पत्नी के साथ ऐसा दुव्र्यवहार कर सकता है, तो समाज में इसका क्या संदेश जाएगा। भाजपा को इस पर तुरंत कार्यवाही करते हुए पार्टी से भी निलंबित करना चाहिए। महिला कांग्रेस ओशीन शर्मा को न्याय दिलाने से पीछे नहीं हटेगी। जैनब चंदेल ने वधायक के खिलाफ एक्शन के साथ एएफआईआर दर्ज करने की मांग करते हुए सरकार से त्वरित कार्रवाई करने की सिफारिश की है।

श्रीखंड यात्रा पर निकले तीन युवक लापता, कुल्लू प्रशासन की रोक के बाद भी नहीं मान रहे लोग, एक घायल

उत्तरी भारत की सबसे कठिनतम यात्राओं में शुमार श्रीखंड कैलाश यात्रा पर जाने के लिए कुल्लू जिला प्रशासन द्वारा पाबंदी लगाए जाने के बावजूद भी कुमारसैन उपमंडल के कांगल क्षेत्र से चार युवकों के यात्रा पर जाने की जानकारी मिली है। इसके साथ ही यह भी जानकारी मिली है कि इनमें एक युवक घायल हो गया है और और तीन युवक लापता बताए जा रहे हैं। इस संबंध में झाकड़ी थाने के एएसआई वीर सिंह ने बताया कि सूचना मिलते ही पुलिस ने तीनों युवकों की खोज के लिए एक खोजीदस्ता भी रवाना कर दिया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार तीन-चार दिन पूर्व कांगल क्षेत्र के चार युवक श्रीखंड यात्रा पर निकले। इसी बीच जब ये युवक अपनी यात्रा के दौरान फांचा के ऊपर जंगल मजबोन पहुंचे, तो वहां पर रवि नामक युवक शौच आदि के लिए रुक गया, जिस पर उसका पैर फिसलने से वह घायल अवस्था में पड़ा मिला, जिसकी सूचना एक राहगीर द्वारा फोन पर रवि के रिश्तेदार को दी गई। इस पर रवि के पिता घटनास्थल को रवाना हो गए, जबकि तीनों युवकों का अभी तक कोई पता नहीं लग पाया है। इस संबंध में डीएसपी रामपुर चंद्रशेखर ने बताया कि श्रीखंड कैलाश यात्रा पर निकले तीन युवकों के लापता व एक के घायल होने की जानकारी मिली है, लेकिन देर बाद जानकारी मिली है कि तीन युवक वापस लौट रहे हैं। बताया कि पुलिस पार्टी घायल युवक की खोज में भेज दी गई है

ड्रग अलर्ट: मानकों पर खरी नहीं उतरीं बुखार, बीपी और एलर्जी की दवाएं, 22 के सैंपल हुए फेल

 

हिमाचल प्रदेश के फार्मा उद्योगों में बनी दर्द, बुखार, स्ट्रोक, बीपी, हृदयरोग और एलर्जी की दवाएं मानकों पर खरी नहीं उतरी हैं। केंद्रीय औषधि नियंत्रक संगठन (सीडीएससीओ) के मई माह के ड्रग अलर्ट में प्रदेश की छह दवाओं के सैंपल फेल हुए हैं। इनमें कालाअंब, बद्दी के भुड्ड, कांगड़ा के संसारपुर टैरेस, बद्दी के किशनपुरा, परवाणू और बद्दी के एक-एक फार्मा उद्योगों की दवा शामिल है। दवा नियंत्रक ने सभी आधा दर्जन दवा निर्माताओं को नोटिस जारी कर बाजार से स्टॉक वापस मंगवाने के लिए कहा है। मई में देश भर में कुल 627 सैंपल लिए गए। इनमें 22 सैंपल फेल हुए हैं।

सिरमौर जिले के कालाअंब स्थित मैसर्स प्राइमस फार्मास्युटिकल कंपनी में दर्द व बुखार की दवा एंडोमेथासीन सस्टेन रिलीज कैप्सूल, बद्दी के भुड्ड स्थित मेडीपोल फार्मा कंपनी में स्ट्रोक की दवा क्लोपाईडॉगरेल एंड एसप्रीन टैबलेट, कांगड़ा के संसारपुर टैरेस स्थित टैरेस फार्मास्युटिकल कंपनी की उच्च रक्तचाप की दवा एमलोडिपाईन टैबलेट, बद्दी के किशनपुरा स्थित ग्लेनमार्क कंपनी की बीपी व हृदय रोग की टेलीमीसारर्टन व एमलोडिपाइन, परवाणू स्थित लेजिन हेल्थ केयर कंपनी की एलर्जी की दवा डिपेनहाईड्रामाईन हाईड्रोक्लोराईड अमोनियम क्लोराइड सोडियम सिटरेट एंड मिथोल सिरप तथा बद्दी स्थित विगंस बायोटेक कंपनी की एलर्जी की दवा फेक्सोफेनाडाईन हाईड्रोक्लोराईड टैबलेट के सैंपल फेल हो गए हैं। ड्रग कंट्रोलर नवनीत मरवाह ने सैंपल फेल होने वाले दवा के उद्योग प्रबंधकों को नोटिस जारी कर दिए हैं। फेल हुए सैंपलों के बैच बाजार से हटाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि फेल हुए सैंपलों की अपने स्तर पर भी जांच की जाएगी।

हिमाचल प्रदेश में दर्दनाक हादसा: दुल्हन के घर से लौट रहे बरातियों से भरी बोलेरो लुढ़की, 10 की मौत

 

हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिला के शिलाई उपमंडल में सोमवार शाम करीब पौने छह बजे दर्दनाक सड़क हादसे में 10 बरातियों की मौत हो गई है। इस हादसे में दो बराती घायल भी हुए हैं। टिंबी-मिल्ला सड़क मार्ग पर पशोग गांव के समीप यह हादसा हुआ है। बरातियों से भरी बोलेरो कैंपर सड़क से करीब 300 मीटर गहरी खाई में जा गिरी, जिससे गाड़ी के परखच्चे उड़ गए। आशंका जताई जा रही है कि ब्रेक फेल होने से यह हादसा हुआ है।

हादसे में घायल अक्षय (21), कमना राम (50) का उपचार पांवटा अस्पताल में किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि शिल्ला पंचायत के चढ़ेऊ गांव से बरात बकरास के गांव भटयूडी में दुल्हन लेने पहुंची थी। जब यह बरात लौट रही थी तो बोलेरो कैंपर एचपी 17सी-4137 पशोग के चुमनल खाला के समीप खाई में गिर गई। हादसे का पता चलते ही पूरा इलाका चीख-पुकार से गूंज उठा। स्थानीय ग्रामीणों ने पुलिस के साथ मिलकर खाई से शवों को बाहर निकाला।

एसडीएम शिलाई राकेश सिंघा ने बताया कि मृतकों के परिजनों को प्रशासन की ओर से दस-दस हजार रुपये की फौरी राहत दी गई है। डीएसपी बीर बहादुर ने बताया कि पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। उल्लेखनीय है कि इस मार्ग पर पहले भी तीखे मोड़ लोगों की जिंदगियों पर भारी पड़ चुके हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने जिला प्रशासन को प्रभावित परिवारों को हरसंभव सहायता प्रदान करने और घायलों को बेहतर उपचार सुविधा प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।

हादसे के मृतकों की सूची
हादसे में चढेऊ निवासी अनिल कुमार (38), इंदर सिंह (44), यश(12), प्रवेश (18), सुरेश (19), प्रवेश (17) और नीरज (17) के अलावा कांटो भटनोल के बंटी (16) और लालूग के कुलदीप (20) शामिल हैं। कुलदीप ने पांवटा अस्पताल पहुंचने से पहले दम तोड़ दिया।

विधायक नैहरिया पर केस दर्ज नहीं करवाएंगी पत्नी ओशिन, साथ न रहने की कही बात

मारपीट के मामले में विधानसभा क्षेत्र धर्मशाला से भाजपा विधायक विशाल नैहरिया पर एचएएस अधिकारी पत्नी ओशिन शर्मा आपराधिक मामला दर्ज नहीं कराएंगी। वह नहीं चाहती हैं कि पुलिस उनके पति पर कोई कार्रवाई कर गिरफ्तार करे। हालांकि, उन्होंने स्पष्ट किया है कि वह अब विशाल के साथ नहीं रहना चाहती हैं।

इसके लिए वह कोर्ट जाएंगी। पुलिस ने सोमवार को ओशिन शर्मा के बयान दर्ज किए हैं। उन्होंने कहा कि भले ही उनके पति ने उनके साथ मारपीट की हो और उन्हें मानसिक रूप से परेशान किया हो लेकिन वह विशाल नैहरिया को गिरफ्तार नहीं देखना चाहती हैं। एसपी कांगड़ा विमुक्त रंजन ने बताया कि बयान दर्ज कर लिए हैं।

नैहरिया को निलंबित, ओशिन को सुरक्षा दे सरकार
प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनब चंदेल ने आरोपों में घिरे भाजपा विधायक विशाल नैहरिया को तुरंत गिरफ्तार करने की मांग करते हुए उनकी पत्नी ओशिन शर्मा को पुलिस सुरक्षा देने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि जनता के चुने हुए एक प्रतिनिधि पर ऐसे आरोप लगने की उम्मीद नहीं की जा सकती। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से विधायक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग करते हुए पुलिस एफआईआर तुरंत दर्ज करने की मांग की है।

चंदेल ने सोमवार को प्रेस सम्मेलन में कहा कि जब एक नेता पर पत्नी के साथ दुर्व्यवहार के आरोप लगेंगे तो समाज मे इसका क्या संदेश जाएगा। भाजपा को इस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पार्टी से भी निलंबित करना चाहिए। महिला कांग्रेस ओशिन शर्मा को न्याय दिलाने से पीछे नही हटेगी। महिला आयोग ने इस मामले का सज्ञान तो लिया है पर यह देखने की बात होगी कि आयोग इस पर कितनी गम्भीरता दिखाता है।

 

कुल्लू: पति की निर्मम पिटाई से पत्नी की मौत, हत्या का केस दर्ज

जिला मुख्यालय कुल्लू के हनुमानी बाग में सरकारी कर्मचारी ने अपनी पत्नी की निर्मम पिटाई कर दी। इसके बाद महिला की मौत हो गई। महिला के परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने हत्या कर केस दर्ज कर आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए महिला का शव नेरचौक मेडिकल कॉलेज भेज दिया है। सोमवार को पुलिस को दी शिकायत में संजय कुमार निवासी मंदली, डाकघर बंजार, तहसील बंजार ने बताया कि उनकी बड़ी बहन चंद्रिका कुमारी (40) की शादी 14 साल पहले खड़वाली गांव निवासी राकेश कुमार के साथ हुई थी।

आरोपी लोक संपर्क विभाग में सरकारी कर्मचारी है। पिछले पांच साल से दोनों के बीच आपस में संबंध अच्छे नहीं चल रहे थे। राकेश कुमार अकसर चंद्रिका के साथ मारपीट करता था। करीब दस दिन पहले भी आरोपी ने उनकी बहन के साथ मारपीट की थी। उन्होंने बताया कि रविवार देर रात ढाई बजे आरोपी राकेश ने फोन पर कहा कि चंद्रिका की मृत्यु हो गई है। आरोपी ने सभी को दमोठी श्मशानघाट आने के लिए कहा।

इसके बाद मृतक महिला के परिजन पुलिस को साथ लेकर पहुंचे तो देखा कि चंद्रिका के शरीर और मुंह पर चोट के निशान थे। इसके बाद पुलिस ने महिला के शव को कुल्लू ले जाने के लिए कहा। साथ ही कहा कि इसकी एफआईआर भी कुल्लू में दर्ज होगी। उधर, पुलिस अधीक्षक गुरदेव शर्मा ने कहा कि पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। रिपोर्ट आने के बाद सच्चाई सामने आएगी। बहरहाल, पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

Weather Update: दो दिन मौसम साफ, एक जुलाई से बारिश के आसार

हिमाचल प्रदेश में मंगलवार और बुधवार को मौसम साफ रहेगा। एक जुलाई से प्रदेश में मानूसन सक्रिय होने पर बारिश होने के आसार हैं। दो से चार जुलाई तक प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में झमाझम बारिश होने का पूर्वानुमान है। दो जुलाई को मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा और मध्य पर्वतीय जिलों शिमला, सोलन, सिरमौर, मंडी, कुल्लू और चंबा में अंधड़ और बिजली गरजने का येलो अलर्ट जारी हुआ है। सोमवार को राजधानी शिमला सहित प्रदेश के सभी क्षेत्रों में मौसम साफ रहा।


धूप खिलने से सोमवार को प्रदेश के अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री की बढ़ोतरी दर्ज हुई। ऊना में अधिकतम तापमान 39.4, बिलासपुर में 35.5, मंडी में 35.2, कांगड़ा में 35.1, हमीरपुर में 34.5, चंबा में 34.9, सुंदरनगर में 34.4, भुंतर में 34.0, नाहन में 33.7, सोलन में 32.2, धर्मशाला में 29.4, मनाली में 27.5, शिमला में 25.1, कल्पा में 25.2, डलहौजी में 22.1 और केलांग में 23.7 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। उधर, रविवार रात को ऊना में न्यूनतम तापमान 24.8, बिलासपुर में 24.0, हमीरपुर में 24.2, कांगड़ा में 22.4, सोलन में 20.4, धर्मशाला में 19.6 और शिमला में 16.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ।

12 हजार विद्यार्थियों समेत 34 हजार ने लगवाई पहले दिन वैक्सीन

कॉलेज परीक्षाएं शुरू होने से पहले शिक्षा विभाग की ओर से सोमवार को विशेष अभियान में 12 हजार विद्यार्थियों सहित कुल 34 हजार ने वैक्सीन लगाई। 17 हजार अभिभावक और 2762 शिक्षक भी इसमें शामिल हुए। मंगलवार को भी प्रदेश के स्कूल और कॉलेजों में बनाए गए 200 केंद्रों में वैक्सीन लगाई जाएगी।

कॉलेजों में एक जुलाई से फाइनल ईयर की परीक्षाएं शुरू होनी है। ऐसे में शिक्षा विभाग ने परीक्षाओं से पहले सभी पात्र विद्यार्थियों सहित शिक्षकों और गैर शिक्षकों के लिए सोमवार को वैक्सीन अभियान चलाया। इस दौरान कॉलेजों के 7197 विद्यार्थियों, 410 शिक्षकों, 282 गैर शिक्षकों, 18 अंशकालिक जलवाहकों और 1525 अभिभावकों ने वैक्सीन लगवाई। कॉलेजों में सोमवार को कुल 9432 वैक्सीन लगाई गई।

इसके अलावा स्कूलों में 2352 शिक्षकों, 620 गैर शिक्षकों, 435 अंशकालिक जलवाहकों, 357 मिड डे मिल वर्करों, 18 वर्ष से अधिक आयु के 4868 विद्यार्थियों, 16168 अभिभावकों ने वैक्सीन लगाई। सोमवार को प्रदेश के स्कूल-कॉलेजों में कुल 34232 वैक्सीन लगाई गई। इसमें 17693 अभिभावक, 12065 विद्यार्थी, 357 मिड डे मिल वर्कर, 451 अंशकालिक जलवाहक, 902 गैर शिक्षक और 2762 शिक्षक शामिल हुए।

वैक्सीन लगाने में कांगड़ा जिला रहा अव्वल
वैक्सीन लगाने में सोमवार को कांगड़ा जिला अव्वल रहा। जिले के स्कूल-कॉलेजों में कुल 9631 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। शिमला में 4605, ऊना में 3391, चंबा में 2303, कुल्लू में 1221, बिलासपुर में 552, हमीरपुर में 658, किन्नौर में 13, मंडी में 933, सोलन में 756, सिरमौर में 737 को वैक्सीन लगाई गई।

हिमाचल से दिल्ली भेजे 76 सैंपलों में मिला डेल्टा वैरियंट

Himachal News
Himachal News

हिमाचल प्रदेश से जिनोम सिक्वेंसिंग जांच के लिए दिल्ली भेजे गए सैंपलों की रिपोर्ट आनी शुरू हो गई है। प्रदेश से भेजे गए 76 सैंपलों में डेल्टा वैरियंट मिला है। इसके अलावा 109 सैंपलों में यूके स्ट्रेन की पुष्टि हुई है। हिमाचल से दिल्ली स्थित नेशनल सेंटर फॉर डिजिजिज कंट्रोल लैब में भेजे गए 1113 सैंपलों में आधे से ज्यादा सैंपलों की रिपोर्ट आ गई है।

स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि अभी तक हिमाचल के किसी भी सैंपल में डेल्टा प्लस वैरियंट नहीं मिला है। आठ सैंपलों में कप्पा स्ट्रेन भी पाया गया है। राज्य में भी बाहरी देशों के स्ट्रेन प्रवेश कर चुके हैं। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की चिंताएं बढ़ गई हैं, क्योंकि पड़ोसी राज्य पंजाब में दो डेल्टा प्लस के वैरियंट मामले आए हैं। ऐसे में हिमाचल में भी इसकी संभावना बढ़ गई है कि कहीं पंजाब से यह वैरियंट यहां न पहुंच जाए।

हिमाचल में भी डेल्टा प्लस वैरियंट आने की संभावना 
हिमाचल प्रदेश में सैलानियों के पहुंचने का सिलसिला जारी है। पंजाब, हरियाणा, यूपी, दिल्ली, चंडीगढ़ समेत गुजरात और महाराष्ट्र से सैलानी यहां घूमने आ रहे हैं। ऐसे में जाने-अनजाने में डेल्टा प्लस वैरियंट के हिमाचल पहुंचने से भी नकारा नहीं जा सकता है।

146 कोरोना पॉजिटिव मामले
हिमाचल प्रदेश में सोमवार को 146 कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। शिमला में 62 वर्षीय संक्रमित महिला की मौत हुई है। सोलन 3, किन्नौर 7, ऊना 6, शिमला 24, मंडी 17, चंबा 31, बिलासपुर 10, सिरमौर 12, कुल्लू 8, हमीरपुर 12 और कांगड़ा में 16 नए मामले आए हैं।

विवि ने परीक्षाओं के लिए जारी किया शेड्यूल, स्नातक द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं 15 जुलाई से

हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय एक जुलाई से स्नातक डिग्री कोर्स के अंतिम वर्ष की परीक्षाएं शुरू करने के साथ ही 15 जुलाई से द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं भी शुरू करेगा। 15 जुलाई से बीए, बीएससी, बीकॉम द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं शुरू करेगा। इन परीक्षाओं का संभावित परीक्षा शेड्यूल जारी कर दिया गया है। परीक्षा शेड्यूल को लेकर किसी भी तरह की आपत्तियों को दर्ज करने के लिए तीन जुलाई तक का समय दिया गया है।

परीक्षार्थी और शिक्षक और कॉलेज प्रशासन परीक्षा तिथि को लेकर किसी भी तरह की आपत्ति दर्ज कर पाएंगे। पांच जुलाई को विवि परीक्षा का फाइनल शेड्यूल जारी कर देगा। विवि के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने बताया कि यूजी द्वितीय वर्ष की परीक्षाओं का संभावित शेड्यूल विवि की वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया गया है। उन्होंने कहा कि ये परीक्षाएं अगस्त माह तक चलेगी, जिसके लिए पूरे प्रदेश भर में 156 से अधिक परीक्षा केंद्र स्थापित किए जाएंगे। जुलाई के अंत में भी पहले वर्ष की परीक्षाएं करवाने की भी विवि तैयार कर रहा है।

परीक्षा फार्म भरने की आठ जुलाई तक बढ़ाया तिथि 
विश्वविद्यालय ने जुलाई माह अंत तक शुरू होने वाली स्नातक डिग्री कोर्स के दूसरे , चौथे और छठे सेमेस्टर की रेगुलर और रि-अपीयर परीक्षा। यूजी में डिग्री पूरी करने को दिए गए विशेष मौके के तहत आने वाले छात्र छात्राओं के परीक्षा फार्म भरने की अंतिम तिथि को बढ़ा दिया है। छात्र अब आठ जुलाई तक परीक्षा फार्म भर पाएंगे। इसमें बीए, बीएससी, बी कॉम, बीएससी आनर्स कोर्स की होने वाली परीक्षा में अपीयर होने वाले छात्र परीक्षा फार्म भर सकेंगे। छात्रों की मांग पर अंतिम तिथि बढ़ाई गई है।

बीटेक का संशोधित परीक्षा शेड्यूल किया जारी 
हिमाचल प्रदेश विवि ने बीटेक डिग्री कोर्स की जुलाई माह में होने वाली परीक्षाओं के शेड्यूल में आंशिक बदलाव किया है। संशोधित परीक्षा शेड्यूल विवि की वेबसाइट पर छात्रों की जानकारी को उपलब्ध करवाया गया है। विवि के परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने कहा कि बी टेक के पांचवें और सातवें सेमेस्टर की परीक्षा में कुछ बदलाव किया गया है। छात्र इसे देख और डाउनलोड कर सकते हैं।

पहले दिन 350 रूटों पर चलेंगी बसें, अधिसूचना जारी

बसों में चढ़ने से पहले सवारियों की होगी थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। हिमाचल प्रदेश सरकार ने बाहरी राज्यों के लिए बसें चलाने की अधिसूचना जारी कर दी है। प्रदेश से बाहरी राज्यों के 708 रूटों पर बसें चलती हैं। पहली जुलाई से परिवहन सेवाएं शुरू होनी हैं। पहले दिन साढ़े तीन सौ रूटों पर परिवहन सेवाएं शुरू होंगी।

अधिसूचना के मुताबिक सभी बसें 50 फीसदी ऑक्यूपेंसी पर चलेंगी। सर्दी, खांसी, जुकाम जैसी बीमारी से ग्रसित लोगों को बसों में चढ़ने नहीं दिया जाएगा। चालक के पास कोई सवारी नहीं जा सकेगी। कंडक्टर मुंह पर शील्ड और हाथ में ग्लब्ज पहनकर टिकट बनाएंगे। बसें सुबह या शाम को सैनिटाइज करना अनिवार्य होगा। बसें उचित स्टेशन पर ही रुकेंगी।


हिमाचल से एनएच-5 के रास्ते अब चीन शासित तिब्बत सीमा पर पहुंचना आसान

हिमाचल प्रदेश से एनएच-5 के रास्ते अब चीन शासित तिब्बत सीमा पर पहुंचना और आसान हो गया है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सोमवार को पूर्वी लद्दाख के कुन्गयाम से देश के आठ राज्यों में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) द्वारा निर्मित 63 पुलों का वर्चुअल माध्यम से लोकार्पण किया। इनमें से सामरिक महत्व के तीन पुल हिमाचल में हैं। सामरिक महत्व के ये तीनों पुल पोवारी और पूह के बीच बनाए गए हैं।

लोकार्पण पर संबोधित करते हुए राजनाथ सिंह ने देश के सीमावर्ती क्षेत्रों को सड़क सुविधा से जोड़ने में सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) की भूमिका की सराहना की। कार्यक्रम में जुड़े मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने राजनाथ सिंह का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पवारी-पूह सड़क पर 4.27 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 40 मीटर लंबा पांगी पुल वर्ष भर संपर्क सुविधा प्रदान करेगा और सैनिकों का मनोबल बढ़ाने में सहायक सिद्ध होगा।

किरण खड्ड पर 5.55 करोड़ रुपये की लागत से पुल का निर्माण किया गया है। यह पुल संपर्क सुविधा सुनिश्चित करने के साथ-साथ सैनिकों के लिए विभिन्न सामग्री की निर्बाध आपूर्ति करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। पुल क्षेत्र में कृषि गतिविधियों को बढ़ावा देने के साथ सामाजिक व आर्थिक विकास में भी सहायक सिद्ध होगा।

पूह-कौरिक सड़क पर 2.16 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 30 मीटर लंबा टाइटन पुल सीमावर्ती क्षेत्र में निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करेगा। यह सड़क भारत व चीन सीमा पर तैनात सैनिकों के लिए जीवन रेखा का काम करती है। उत्तराखंड, अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम और नागालैंड के मुख्यमंत्रियों ने भी वर्चुअल माध्यम से कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

Leave a Reply

Top