Himachal News – 28 June 2021 – बोलता हिमाचल

पूरे देश में अब विवादित जमीनों की खरीद-फरोख्त पर लगाम, केंद्र सरकार बना रही यह योजना

पूरे देश में जल्द ही विवादित जमीनों की खरीद और बिक्री पर लगाम लगने जा रही है। केंद्र सरकार ई-अदालतों को भूमि अभिलेखों और पंजीकरण डाटाबेस से जोड़ने की योजना बना रही है। इससे एक बड़ा फायदा यह होगा कि असल खरीददारों को यह पता लगाने में मदद मिलेगी कि जिस जमीन को खरीदने की वे योजना बना रहे हैं, वह कानूनी रूप से विवादित तो नहीं है। इस कदम से जमीनी विवादों को रोकने में मदद मिलेगी। यही नहीं, अदालती प्रणाली में भी पारदर्शिता आएगी। यूपी और हरियाणा के साथ ही महाराष्ट्र में ई-अदालतों को भूमि के अभिलेखों और पंजीकरण से जोड़ने का पायलट प्रोजेक्ट पूरा हो गया है।

जल्द ही इसे देशभर में शुरू किया जाएगा। विधि मंत्रालय के न्याय विभाग ने सभी हाई कोर्टों के महापंजीयकों से भूमि अभिलेखों और पंजीकरण डाटाबेस को ई-अदालतों से जोड़ने की राज्य सरकारों को मंजूरी देने का अनुरोध किया है। इस योजना के तहत भूमि अभिलेखों और पंजीकरण डाटाबेस को राष्ट्रीय न्यायिक डाटा ग्रिड से भी जोड़ा जाएगा, ताकि संपत्ति विवादों का जल्द निस्तारण हो सके। अभी तक आठ उच्च न्यायालयों त्रिपुरा, मध्य प्रदेश, राजस्थान, असम, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, नागालैंड और हिमाचल प्रदेश ने जवाब दे दिए हैं। न्याय विभाग ने अप्रैल में भेजे अपने पत्र में कहा था कि संपत्ति का आसान और पारदर्शी तरीके से पंजीकरण करना जरूरी है।

हिमाचल की खबरें देखे CREDIT : EN HINDI YOUTUBE CHANNEL

बच्चों के लिए अगले महीने आएगा टीका, 12 से 18 साल के लिए जायडस की वैक्सीन का ट्रायल लगभग पूरा

Himachal News
Corona Vaccination

देश में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट के बढ़ते मामलों और संभावित तीसरी लहर में बच्चों के ज्यादा प्रभावित होने की खबरों के बीच उनके लिए खुशखबरी है। कोविड वर्किंग ग्रुप के अध्यक्ष डा. एनके अरोड़ा ने रविवार को बताया कि बच्चों के लिए जायडस कैडिला की वैक्सीन का ट्रायल लगभग पूरा हो चुका है। अगर जायडस कैडिला को ट्रायल के नतीजे ठीक रहने पर जल्द मंजूरी मिल जाती है, तो जुलाई के आखिर तक या अगस्त में हम 12 से 18 साल उम्र के बच्चों को टीका देना शुरू कर सकते हैं।

दवा निर्माता कंपनी जायडस कैडिला के ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के सामने अपनी कोरोना वैक्सीन जायकोव-डी के आपातकालीन इस्तेमाल के लिए जल्द ही आवेदन दे सकता है। कंपनी का दावा है कि इसे वयस्कों और बच्चों दोनों को दिया जा सकता है। डा. अरोड़ा ने कहा कि आईसीएमआर एक स्टडी लेकर आया है। इसमें कहा गया है कि तीसरी लहर देर से आने की संभावना है। हमारे पास देश में हर किसी के वैक्सीनेशन के लिए छह से आठ महीने का समय है। आने वाले दिनों में हमारा लक्ष्य हर दिन एक करोड़ डोज लगाने का है।

दिसंबर तक देश को मात्र 135 करोड़ डोज मिलेंगे, कोरोना वैक्सीन पर केंद्र का सुप्रीम कोर्ट में यू-टर्न

Himachal News

देश में डेल्टा वेरिएंट के खतरे के बीच कोरोना वैक्सीन की उपलब्धता पर केंद्र सरकार ने यू-टर्न ले लिया है। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में बताया है कि इस साल दिसंबर तक उसे वैक्सीन के सिर्फ 135 करोड़ डोज ही मिलेंगे। इससे पहले मई में जब देशभर में वैक्सीन की किल्लत सामने आई थी, तब केंद्र सरकार ने दावा किया था कि 31 दिसंबर तक देश के पास 216 करोड़ से ज्यादा डोज होंगी।

दरअसल, 13 मई को नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने एक उम्मीद भरी घोषणा में बताया था कि इस साल अगस्त से दिसंबर तक वैक्सीन की 216 करोड़ डोज तैयार कर ली जाएगी। सरकार ने मई में कहा था कि अगस्त से दिसंबर के बीच हमारे पास कोवीशील्ड के 75 करोड़ और कोवैक्सीन के 55 करोड़ डोज होंगे। इस हलफनामे में इनकी डोज भी घटाकर क्रमशः 50 करोड़ और 40 करोड़ बताई गई हैं। वहीं, स्पुतनिक वी की उपलब्धता को भी 15.6 करोड़ से घटाकर 10 करोड़ बताया गया है।

हिमाचल में कोरोना के 127 नए मामले, 3 मरीजों ने तोड़ा दम

हिमाचल में कोरोना के मामले कम जरूर हुए हैं लेकिन अभी भी 1763 मामले सक्रिय हैं। हिमाचल में बीते 24 घंटों के अंदर कोरोना से 3 लोगों की मौत हो गई और 127 नए संक्रमित मामले आए हैं। कोरोना से कांगड़ा जिले में 61 वर्षीय महिला, ऊना में 45 वर्षीय महिला व शिमला जिले में संगड़ाह की 44 महिला की मौत हुई है। वहीं नए आए संक्रमितों में बिलासपुर के 2, चम्बा के 22, हमीरपुर के 9, कांगड़ा के 36, किन्नौर का 1, कुल्लू के 5, लाहौल-स्पीति का 1, मंडी के 12, शिमला के 12, सिरमौर के 4, सोलन के 14 व ऊना के 9 मरीज शामिल हैं। इसके अलावा एक दिन के अंदर 244 कोरोना मरीज स्वस्थ हुए हैं।

प्रदेश में अब कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 2,01,665 पहुंच गया है। इनमें से 1,96,422 मरीज कोरोना से जंग जीत चुके हैं। प्रदेश में अभी तक कुल 23,98,020 लोगों के टैस्ट किए जा चुके हैं जिनमें से 21,96,285 मरीजों की रिपोर्ट नैगेटिव आ चुकी है। प्रदेश में रविवार को विभिन्न जिलों से 8,258 के सैंपल लिए गए हैं जिनमें से 8,083 सैंपलों की रिपोर्ट नैगेटिव आई है और 70 की रिपोर्ट आना बाकी है।

भुंतर से दिल्ली के बीच उड़ेगा एटीआर-42 जहाज, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने दिया भरोसा

पांच दिनों के दौरे के बाद रविवार को दिल्ली लौटने से पहले केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भुंतर एयरपोर्ट का निरीक्षण किया। उन्होंने हवाई अड्डे के विस्तारीकरण के साथ दिल्ली से भुंतर के बीच एटीआर-42 सीटर जहाज चलाने का भरोसा दिया है। उन्होंने कहा कि अगर एयर इंडिया नहीं तो निजी कंपनी की सेवा ली जाएगी।

पूर्व सांसद महेश्वर सिंह ने कहा कि गडकरी को मणिकर्ण का जाना था मगर किन्हीं कारणों से उनका कार्यक्रम रद्द हो गया है। केंद्रीय मंत्री को छोड़ने भुंतर एयरपोर्ट पहुंचे महेश्वर सिंह उन्हें फिर से कुल्लू आने का न्योता दिया है। गडकरी ने कहा कि वह फिर कुल्लू आकर यहां दूसरे पर्यटन स्थलों को देखना चाहते हैं।

महेश्वर ने उनको कुल्लू दशहरा आने का भी न्योता दिया है। उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री से जो भी कुल्लू के प्रोजेक्टों को लेकर बात हुई उनको लेकर वह जुलाई के पहले सप्ताह दिल्ली उनसे मिलने जाएंगे। उल्लेखनीय है कि गडकरी ने कुल्लू-मनाली के साथ लाहौल की वादियों को निहारा है। वह घाटी के गई गांवों में जाकर यहां की संस्कृति से रूबरू हुए। उन्होंने कुल्लू के नेताओं को घाटी के प्रोजेक्टों को लेकर दिल्ली बुलाया है। इसमें भाजपा के साथ कांग्रेस के नेता भी शामिल हैं।

डेल्टा प्लस वैरियंट को लेकर हिमाचल में अलर्ट, जांच के लिए दिल्ली भेजे सैंपल

कोरोना के अन्य वैरियंट की अपेक्षा डेल्टा ज्यादा खतरनाक है। सरकार ने डेल्टा प्लस को लेकर प्रदेश में अलर्ट किया है। इस वैरियंट से ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है। प्रदेश सरकार ने वैरियंट की जांच के लिए 17 नए सैंपल भेजे हैं। इसी सप्ताह सैंपलों की रिपोर्ट आना संभावित है। हर जिले से सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं।

सरकार ने फैसला लिया है कि हर दूसरे सप्ताह सैंपल जांच को भेज जाएंगे।  हिमाचल से अब तक दिल्ली के लिए 600 से ज्यादा सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। 32 सैंपलों में यूके स्ट्रेन समेत 17 सैंपलों में डबल म्यूटेंट और 40 से ज्यादा सैंपलों में भारतीय वैरियंट मिल चुका है।

स्वास्थ्य विभाग भी लगातार यही कर रहा है कि जो लोग दोबारा कोरोना पॉजिटिव निकल रहे हैं और वैक्सीन की दोनों डोज लगाने के बाद भी संक्रमित हो रहे हैं, उनके सैंपलों को जांच के लिए दिल्ली भेजा जा रहा है।

स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने बताया कि लगातार सैंपल लिए जा रहे हैं। प्रदेश में अभी डेल्टा प्लस वैरियंट का मामला नहीं है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में 200 सैंपल लंबित हैं। इसी सप्ताह रिपोर्ट आना संभावित है।

Weather Update: प्रदेश भर में खिली धूप, 30 जून तक मौसम साफ रहने के आसार

हिमाचल प्रदेश में मानसून के कमजोर पड़ते ही गर्मी ने रंग दिखाना शुरू कर दिया है। रविवार को बारिश के पूर्वानुमान के बावजूद पूरे प्रदेश में धूप खिली। तीस जून तक प्रदेश में अब मौसम साफ रहने के आसार हैं। आने वाले दिनों में तापमान में और अधिक बढ़ोतरी होने की संभावना जताई गई है। अधिकतम से साथ न्यूनतम तापमान बढ़ने से मैदानी जिलों में गरमी ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है।

मैदानी जिलों ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा में सुबह दस बजे के बाद घरों से निकलने से लोग गुरेज कर रहे हैं। तेज धूप के चलते रविवार को बाजारों में भी लोगों की आमद कम दिखी। शाम पांच बजे के बाद ही लोग घर से बाहर निकले। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने एक जुलाई से प्रदेश में मानसून के सक्रिय होने का पूर्वानुमान जताया है।दो और तीन जुलाई को पूरे प्रदेश में झमाझम बादल बरसने के आसार हैं।

दो घंटे पेन डाउन स्ट्राइक करेंगे डॉक्टर, प्रैक्टिसिंग अलाउंस कम करने का विरोध

हिमाचल प्रदेश में सोमवार से दो घंटों के लिए स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित रहेंगी। सुबह 9:30 से 11:30 बजे तक डॉक्टर पेन डाउन स्ट्राइक पर रहेंगे। हड़ताल के साथ ही डॉक्टर अस्पताल परिसर में गेट मीटिंग करेंगे। एसोसिएशन के महासचिव डॉ. पुष्पेंद्र वर्मा ने बताया कि उनकी मुख्य मांग पंजाब वेतन आयोग की सिफारिशों को लेकर है।

पंजाब वेतन आयोग के तहत डॉक्टरों का प्रैक्टिसिंग अलाउंस 25 से 20 फीसदी कर बेसिक वेतन से डी-लिंक करने का डॉक्टरों में रोष है। डॉ. वर्मा ने कहा कि डेंटल मेडिकल अफसर संघ, आयुर्वेदिक मेडिकल अफसर संघ, वेटरनेरी अफसर संघ के साथ मिलकर एक मजबूत योजना बनाई जाएगी और इन सिफारिशों का पुरजोर विरोध किया जाएगा।

इसके अलावा चंबा जिले में प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा मेडिकल अफसर इंचार्ज के साथ दुर्व्यवहार और उनके परिवारों को मानसिक तौर पर प्रताड़ित करने के मामले पर भी चर्चा होगी। इस मामले में सरकार से प्रशासनिक अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष के गृह क्षेत्र में अनदेखी का आरोप लगा अजा मोर्चा अध्यक्ष का इस्तीफा

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप के गृह क्षेत्र पच्छाद में पार्टी के अंदर सब ठीकठाक नहीं चल रहा है। भाजपा अनुसूचित जाति मोर्चा के मंडल अध्यक्ष बाल मुकंद चौहान ने अपने पद से इस्तीफा देते हुए पार्टी में अनदेखी के गंभीर आरोप लगाए हैं। सोशल मीडिया पर अपना वीडियो जारी कर उन्होंने आरोप लगाया है कि पार्टी में अनुसूचित जाति मोर्चा की अनदेखी हो रही है। जब मंडल में उनकी सुनवाई नहीं हो रही तो पद पर बने रहने का क्या फायदा है। कहा कि पद सिर्फ नाम के लिए दिए गए हैं। हमारा काम सिर्फ झंडे उठाना, रैलियों में भीड़ जुटाने तक ही सीमित रह गया है।

 

भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं पंजाब, हरियाणा व हिमाचल के प्रभारी सौदान सिंह और सह प्रभारी संजय टंडन भाजपा की दो दिवसीय बैठक के बाद धर्मशाला से चंडीगढ़ के लिए रवाना हुए। उनके साथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप, भाजपा संगठन महामंत्री पवन राणा, महामंत्री त्रिलोक जम्वाल उपस्थित रहे। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवं सांसद सुरेश कश्यप ने कहा कि भाजपा की दो दिवसीय बैठक महत्वपूर्ण रही।

बैठकों में 2022 के मिशन रिपीट को लेकर रोडमैप तैयार किया गया है। बैठक में कई विषयों पर चर्चा की गई। राष्ट्रीय संगठन मंत्री बीएल संतोष, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सौदान सिंह, प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, सह प्रभारी संजय टंडन, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार व प्रेम कुमार धूमल का मार्गदर्शन मिला। भाजपा अनेकों कार्यक्रमों के माध्यम से कार्यकर्ताओं में नई ऊर्जा का संचालन करेगी।

उन्होंने दावा किया कि हिमाचल में होने जा रहे तीनों उपचुनाव में भाजपा की जीत होगी। उन्होंने बताया कि भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति 30 जून को वर्चुअल माध्यम से होने जा रही है। इस कार्यसमिति के माध्यम से जो भी निर्णय इन कार्ययोजना बैठकों में लिए गए हैं, उनको बूथ तक पहुंचाया जाएगा। बैठकों में केंद्रीय नेतृत्व का मार्गदर्शन प्राप्त होगा। उन्होंने कहा कि इन बैठकों से भाजपा नेतृत्व में नई ऊर्जा का संचालन हुआ है और आने वाले समय में भाजपा सरकार एवं संगठन सुदृढ़ रूप से कार्य कर जनसेवा के नए आयाम हासिल करेंगे।

दाम बढ़ने से डिपुओं से सरसों तेल खरीदने से परहेज करने लगे लोग

राशन डिपुओं में सरसों तेल के दाम बढ़ने के बाद अब लोगों ने बाजार से तेल खरीदना शुरू कर दिया है। लोगों का कहना है कि डिपुओं में मिलने वाले तेल की गुणवत्ता भी सही नहीं है। इसलिए थोड़े ज्यादा पैसे खर्च कर बाजार से सरसों तेल खरीद लेंगे। गौरतलब है कि राशन डिपुओं में मई महीने तक सब्सिडी के साथ सस्ते दाम पर सरसों का तेल मिलता रहा है।

.दो माह पहले कोरोना कर्फ्यू के दौरान सरसों तेल के भाव 190 से 200 रुपये लीटर तक पहुंच गए थे। उस दौरान राशन डिपुओं में मिलने वाले 103 रुपये लीटर सरसों तेल से लोगों को काफी राहत मिली। हालांकि, जून से राशन डिपुओं में सरसों तेल का भाव एपीएल कार्डधारकों के लिए बढ़कर 160 रुपये प्रति लीटर हो गया है। सस्ते राशन की श्रेणी में आने वाले कार्डधारकों को यह 155 रुपये लीटर मिल रहा है।

उठाते रहे हैं। दूसरी तरफ, बाजार में सरसों तेल के मूल्य में गिरावट आई है। अब यह क्वालिटी के हिसाब से 165 से 180 रुपये लीटर मिल रहा है। पंचायत कोपड़ा से बीना देवी, दर्शना देवी, निर्मला देवी और कमला देवी ने बताया कि पांच से बीस रुपये अधिक अधिक खर्च कर बाजार से अच्छी गुणवत्ता का तेल खरीदना ही सही है।

जुलाई में 20 रुपये तक कम होंगे दाम : मंत्री

हिमाचल प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राजिंद्र गर्ग ने बताया कि उपभोक्ताओं को राहत देने के प्रयास किए जा रहे हैं। अगले महीने से राशन डिपुओं में मिलने वाले सरसों तेल के दाम में दस से बीस रुपये की कमी आएगी।

कर्मचारी चयन आयोग: क्लर्क समेत छह विभिन्न पोस्ट कोड के 6878 आवेदन रद्द

हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने क्लर्क समेत छह विभिन्न पोस्ट कोड के 6878 आवेदन रद्द कर दिए हैं। कुछ अभ्यर्थियों ने निर्धारित परीक्षा शुल्क जमा नहीं करवाया तो कइयों ने आरक्षित वर्ग में गलत आवेदन किया है। चार जुलाई से 53 विभिन्न पोस्ट कोड के तहत 836 पद भरने के लिए लिखित परीक्षाएं शुरू हो रही हैं। पोस्ट कोड 839 क्लर्क के सबसे अधिक 4732 आवेदन रद्द हुए हैं। क्लर्क के 11 पद भरने के लिए लिखित परीक्षा पांच सितंबर को होगी।

पोस्ट कोड 827 असिस्टेंट लाइब्रेरी के तीन पदों के लिए चार जुलाई को लिखित परीक्षा होगी। उससे पहले 610 आवेदन रद्द कर दिए गए हैं। सहायक लाइब्रेरियन के पद के लिए 610 अभ्यर्थियों ने आरक्षित वर्ग की गलत श्रेणी में आवेदन किया है। 18 जुलाई को होने वाली जेई इलेक्ट्रिकल की लिखित परीक्षा के 641 आवेदन रिजेक्ट हुए हैं। पोस्ट कोड 849 जेई इलेक्ट्रिकल के आवेदनकर्ताओं ने निर्धारित आवेदन शुल्क जमा नहीं करवाया है।

पोस्ट कोड 827 असिस्टेंट लाइब्रेरी के तीन पदों के लिए चार जुलाई को लिखित परीक्षा होगी। उससे पहले 610 आवेदन रद्द कर दिए गए हैं। सहायक लाइब्रेरियन के पद के लिए 610 अभ्यर्थियों ने आरक्षित वर्ग की गलत श्रेणी में आवेदन किया है। 18 जुलाई को होने वाली जेई इलेक्ट्रिकल की लिखित परीक्षा के 641 आवेदन रिजेक्ट हुए हैं। पोस्ट कोड 849 जेई इलेक्ट्रिकल के आवेदनकर्ताओं ने निर्धारित आवेदन शुल्क जमा नहीं करवाया है।

कांग्रेस सह प्रभारी संजय दत्त बोले- तानाशाह के रूप में कार्य कर रही मोदी सरकार

प्रदेश कांग्रेस सह प्रभारी संजय दत्त ने कहा कि मोदी सरकार काला धन लाने की बात कर रही है, वहीं स्विस बैंक में भारतीयों का 30 प्रतिशत से अधिक पैसा बढ़ा है। देश में बेरोजगारी बढ़ रही है। किसानों को लगातार अनदेखा किया जा रहा है। मोदी सरकार एक तानाशाह की भूमिका निभा रही है। कोविड काल में लाखों लोग बेरोजगार हो गए हैं, जबकि केंद्र सरकार हर साल 2 करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कहती है। केंद्र में सिर्फ प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह ही शासन चला रहे हैं।

विकास अपने निकटतम दोस्तों का ही हो रहा है। सह प्रभारी संजय दत्त ने रविवार को रिकांगपिओ में मीडिया से बातचीत में कहा कि केंद्र सरकार ने संसद में जोर जबरदस्ती से नए कृषि कानून पास किए हैं। किसान आज तक सड़क पर बैठे हैं। देश में पेट्रोल, डीजल और रसोई गैस के दाम आसमान छू रहे हैं। भाजपा सरकार में केवल मंत्री और विधायकों का ही विकास हो रहा है। यह सरकार जुमलों की सरकार है। उन्होंने कहा कि हिमाचल में वीरभद्र सिंह की सरकार के दौरान किन्नौर जिले में विकास हुआ है।भाजपा के सत्तासीन होते ही विकास कार्यों को ग्रहण लग गया है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार में मंत्री और अधिकारी उनके नियंत्रण में नहीं हैं। कुछ मंत्री तो मुख्यमंत्री से भी सुपर मुख्यमंत्री बन बैठे हैं। सरकार कुंभकरण की नींद सो रही है और उसे जगाने का काम कांग्रेस जन आक्रोश आंदोलन से कर रही है। रविवार को किन्नौर पहुंचने पर जिले के कार्यकर्ता उनसे मिलने पहुंचे। किन्नौर के प्रवेशद्वार चोरा में कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत भी किया।

2555 एसएमसी शिक्षकों के लिए नीति बनाने की तैयारी शुरू

हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों में नियुक्त 2555 एसएमसी शिक्षकों के लिए नीति बनाने की तैयारी शुरू हो गई है। मुख्य साचिव अनिल खाची की अध्यक्षता वाली उच्च स्तरीय कमेटी के पास इस बाबत प्रस्ताव पहुंच गया है। जुलाई में इन शिक्षकों के भविष्य को लेकर बड़ा फैसला हो सकता है। वर्ष 2012 से एक-एक साल का सेवा विस्तार देकर दुर्गम क्षेत्रों में एसएमसी शिक्षकों की सेवाएं ली जा रही हैं। प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय की ओर से सरकार को एसएमसी शिक्षकों के लिए नीति बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है।

एसएमसी के तहत पीजीटी, डीपीई, टीजीटी, सीएंडवी और जेबीटी लगाए गए हैं। शिक्षकों की लंबी सेवाओं को देखते हुए सरकार ने अब इस बाबत सकारात्मक रुख अपनाते हुए आगामी फैसला लेने की कवायद शुरू की है। बीते अप्रैल में हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों और कॉलेजों के शिक्षकों के मामले मुख्य सचिव अनिल खाची की अध्यक्षता में सुलझाने के लिए 11 सदस्यीय उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है।

हिमाचल पथ परिवहन निगम की वोल्वो बसों में एडवांस बुकिंग शुरू

HRTC BUS
HRTC

हिमाचल पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) प्रबंधन ने बाहरी राज्यों के लिए बस सेवा शुरू करने की तैयारी कर ली है। एक जुलाई से एचआरटीसी की वोल्वो बसें शिमला-दिल्ली, दिल्ली-शिमला, हमीरपुर-दिल्ली दिल्ली-हमीरपुर और सरकाघाट-दिल्ली, दिल्ली-सरकाघाट रूटों पर शुरू होंगी। इन लग्जरी बसों के लिए एचआरटीसी की वेबसाइट पर एडवांस टिकट बुकिंग की सुविधा शुरू कर दी गई है। हालांकि, साधारण बसों को लेकर जानकारी अभी तक वेबसाइट पर उपलब्ध नहीं करवाई गई है।

50 फीसदी ऑक्यूपेंसी सुनिश्चित करने के लिए ऑनलाइन बुकिंग पोर्टल पर 39 सीटों में से 21 सीटें ब्लॉक की गई हैं।  दिल्ली से शिमला के लिए दो जुलाई को वोल्वो में सबसे अधिक एडवांस बुकिंग हो रही है। एक वोल्वो में 12 सीटें बुक हो चुकी हैं। शिमला से दिल्ली के लिए वोल्वो में दो से चार सीटें ही बुक हुई हैं। एचआरटीसी के महाप्रबंधक पंकज सिंघल ने बताया कि एक जुलाई से शुरू होने वाली बसों में सीटों की एडवांस बुकिंग सुविधा शुरू कर दी गई है ताकि यात्रियों को कोई परेशानी न झेलनी पड़े।

हिमाचल की 51 जनजातीय पंचायतों का कार्यकाल पूरा, कमेटियां संभालेंगी कमान

हिमाचल प्रदेश की 51 जनजातीय पंचायतों का कार्यकाल पूरा होने के बाद राज्य सरकार ने स्थानीय कमेटियों को कमान सौंपने के लिए लिखित फ रमान जारी कर दिए। पंचायतों का कामकाज देखने वाली कमेटियां स्थानीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल या हाई स्कूल के हेडमास्टर की अध्यक्षता में काम करेंगी। इनके अलावा कमेटी में तकनीकी सहायक या ग्राम रोजगार सहायक में एक को बीडीओ सदस्य बनाएगा, जबकि पंचायत सचिव कमेटी में सदस्य सचिव होगा।

बताते हैं कि केलांग की 32 और पांगी खंड की 19 पंचायतों में 380 पदों के लिए चुनाव होने हैं। कोरोना के कारण समय पर चुनाव नहीं कराए जा सकें हैं। पंचायती राज विभाग के अतिरिक्त निदेशक केवल शर्मा ने बताया कि इन पंचायतों, पंचायत समितियों और लाहौल-स्पीति जिला परिषद का पांच साल का कार्यकाल 24 जून को पूरा हो चुका है।

इन संस्थाओं के कामकाज प्रभावित न हों, इसके  लिए चुनाव होने तक पंचायतों में कमेटियों को काम सौंपा है। इसके अलावा लाहौल-स्पीति जिला परिषद के 10 सदस्यों सहित केलांग पंचायत समिति के 15 और पांगी पंचायत समिति के 15 सदस्यों के चुनाव होने हैं। इन सदस्यों के चुनाव न होने के कारण जिप और पंचायत समितियों के  लिए भी विकास के लिए शीघ्र कमेटियां बनेंगी।

 

NHM HP Recruitment 2021 – Apply Online for 940 Community Health Officers Post

डिजिटल इंडिया कॉरपोरेशन (DIC) भर्ती 2021: डिजाइनर, डेवलपर और अन्य पदों की वेकेंसी के लिए करें आवेदन @dic.gov.in

HIMACHAL NEWS TODAY

हिमाचल 28 जून 2021 आज सुबह की बड़ी खबरें

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!