हिमाचल प्रदेश के पांच जिलों कांगड़ा, शिमला, बिलासपुर, हमीरपुर और मंडी में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढ़ने लगी है। हमीरपुर और शिमला में भी एक्टिव मामलों का आंकड़ा एक हजार पार हो गया है, जबकि अन्य तीन जिलों में यह आंकड़ा 1500 से ज्यादा है। एकाएक मामलों में बढ़ोतरी के बाद सरकार सख्त कदम उठाने पर विचार कर रही है।

स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने उपायुक्तों और सीएमओ से फीडबैक लिया है। स्वास्थ्य विभाग की टीमों को सैंपल बढ़ाने के निर्देश दिए गए। प्रभावित क्षेत्रों के लिए शिमला से टीमें भेजी जाएंगी। सरकारी और गैर सरकारी कार्यालयों में लगातार कोरोना पॉजिटिव आने लगे हैं।

पुलिस, नगर निगम, सचिवालय, स्वास्थ्य विभाग में प्रतिदिन पांच से सात लोग संक्रमित हो रहे हैं। हिमाचल नेशनल हेल्थ मिशन (एनएचएम) में भी 7 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव आए हैं। हिमाचल में पहले कोरोना के एक्टिव मामलों की संख्या 200 के करीब थी, वहीं 17 दिन बाद एक्टिव मरीजों की संख्या करीब 13 हजार पहुंच गई है। प्रतिदिन 1700 से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं। 

होम आइसोलेट हैं मरीज.

हिमाचल के अस्पतालों में 16 कोरोना मरीज भर्ती हैं, जबकि अधिकांश होम आइसोलेट हैं। सरकार का दावा है कि इन मरीजों को घरों में ही दवाइयां उपलब्ध कराई जा रही हैं। गंभीर अवस्था में ही मरीजों को अस्पताल लाया जा रहा है।

Follow Facebook Page

मौसम: रोहतांग समेत ऊंची चोटियों पर हिमपात, प्रदेश में दो दिन भारी बारिश-बर्फबारी का अलर्ट

HPSEB GOVT JOBS 2022 : बिजली बोर्ड में 633 पदों पर इसी महीने शुरू होगी भर्ती प्रक्रिया

विजिलेंस कार्रवाई: पंचायत प्रधान 20 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार – BOLTA HIMACHAL

error: Content is protected !!