नेशनल डेस्क:   तीसरी लहर के  खतरे से निपटने के लिए सरकार ने युद्धस्तर पर तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसी कड़ी में केंद्र सरकार ने  कोरोना संक्रमित बच्चों के इलाज के लिए नई गाइडलाइन जारी की है। इस गाइडलाइन में रेमेडेसिविर के इस्तेमाल का सुझाव नहीं दिया गया है जबकि सीटी स्कैन के इस्तेमाल की बात की गई है।

स्टेरॉइड के इस्तेमाल से बचने की सलाह 

दिशा-निर्देशों मेंकहा कि स्टेरॉइड का इस्तेमाल सही समय पर ही किया जाना चाहिए और इसकी सही खुराक दी जानी चाहिए तथा सही अवधि के लिए दी जानी चाहिए। स्वयं से स्टेरॉइड के इस्तेमाल से बचना चाहिए। इसके साथ ही कहा गया कि  कोरोना वायरस से संक्रमित बच्चों के उपचार में रेमडेसिविर का इस्तेमाल नहीं किया जाना चाहिए।

डॉक्टरों को किया सतर्क 

गाइडलाइन में कहा गया कि18 साल से कम उम्र के बच्चों में रेमडेसिविर के इस्तेमाल को लेकर पर्याप्त सुरक्षा और प्रभावी आंकड़ों का अभाव है। डीजीएचएस ने कहा है कि बच्चों के मामले में हाई रेजोल्यूशन सीटी (एचआरसीटी) का युक्तिपूर्ण उपयोग किया जाना चाहिए। डॉक्टरों को बच्चों का सिटी स्कैन करवाते वक्त बेहद संवेदनशीलता बरतनी चाहिए।

साल का पहला सूर्य ग्रहण आज, भारत के इन हिस्सों में देगा दिखाई…बनेगा रिंग ऑफ फायर

Facebook, WhatsApp डाउन और बारिश का रेड अलर्ट, आज इन खबरों पर देश- दुनिया की नजर

error: Content is protected !!