Vikramaditya singh mla

सरकार के पास न तो नीति और न ही कोई सोच : विक्रमादित्य सिंह

कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने प्रदेश सरकार पर तीखा निशाना साधा है। उन्होंने प्रदेश सरकार को फैसले पलटने वाली सरकार करार दिया। उन्होंने कहा कि सरकार कभी बॉर्डर खोलती है और कभी बंद कर देती है। इसके साथ ही पहले आरटी-सीपीआर रिपोर्ट लाना अनिवार्य किया गया जबकि बाद में 72 घंटे की शर्त रख दी है। शिमला में आयोजित पत्रकार वार्ता में विक्रमादित्य सिंह ने उक्त आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सरकार के पास न तो नीति है और न ही सोच है। स्वास्थ्य मंत्री अब तक अपने विभाग में कोई काम ही नहीं कर पाए हैं।

प्रधानमंत्री ने महंगाई का तोहफा देकर हिमाचल भेजे अनुराग

Jan ashirvad yatra
Jan ashirvad yatra

 

उन्होंने कहा कि केंद्रीय मंत्री बनने के बाद पहली बार अनुराग ठाकुर हिमाचल आ रहे हैं। शिमला आने पर उनका स्वागत है लेकिन प्रधानमंत्री ने महंगाई का तोहफा देकर उन्हें हिमाचल भेजा है और रसोई गैस के दाम 25 रुपए बढ़ा दिए गए हैं। विधायक ने कहा कि सरकार ने 4 सालों तक जनता की सुध नहीं ली लेकिन अब आगामी उपचुनाव को देखते हुए बिना बजट की घोषणाएं की जा रही हैं। एसडीएम सहित अन्य कार्यालयों को खोलने की घोषणा कर जनता को लुभाने के प्रयास हो रहे हैं। 

हाईकमान बोलेगा तो लड़ेंगे चुनाव

Vikramaditya singh mla
Vikramaditya singh mla

पूर्व सांसद प्रतिभा सिंह के मंडी संसदीय क्षेत्र से उपचुनाव लडऩे पर पूछे गए सवाल के जवाब में विधायक ने कहा कि पार्टी हाईकमान जहां से कहेगा, वहां से चुनाव लड़ा जाएगा। विक्रमादित्य सिंह ने कहा कि हॉलीलॉज हमेशा से राजनीति का केंद्र रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री स्व. वीरभद्र सिंह ने मुश्किल दौर में भी कांग्रेस को मजबूती देने का काम किया था। इस समय पार्टी को उनकी जरूरत है तो वह अपनी जिम्मेदारी से पीछे नहीं हटेंगे।

error: Content is protected !!