फोरलेन प्रभावितों को 31 से पहले मिलेगा मुआवजा,

राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 154 पठानकोट-मंडी सड़क मार्ग पर बनने वाले फोरलेन के लिए नूरपुर प्रशासन ने प्रक्रिया तेज कर दी है। इस सड़क निर्माण के लिए कंडवाल से लेकर भेड़ खड्ड तक अधिकृत की गई जमीन के लिए पहली नोटिफिकेशन के तहत लगभग 145 करोड़ रुपए अवार्ड घोषित हुए है, जिसमें नूरपुर प्रशासन ने अभी तक लगभग 71 करोड़ रुपए का भुगतान प्रभावित लोगों को कर दिया है और प्रशासन का प्रयास है कि इस माह की 31 अगस्त तक लगभग 100 करोड़ रुपए प्रभावित लोगों को वितरित किए जाएं।

 

विभागीय जानकारी के मुताबिक कंडवाल के चक्की से लेकर भेड़ खड्ड तक लगभग 31 किलोमीटर बनने वाले फोरलेन सड़क मार्ग के लिए मुआवजा आबंटन की प्रक्रिया तेज कर दी है और अगले चरण में इमारतों, फलदार पौधों का मूल्यांकन होना है। इसके तहत फोरलेन सड़क मार्ग पर आने वाले फलदार पौधों की गणना उद्यान विभाग द्वारा कर ली गई है, जो कि लगभग 600 के करीब है और इसके मुआवजे का मूल्यांकन किया जा रहा है, जबकि एक टीम द्वारा इस सड़क के जद में आने वाली लगभग 750 इमारतों का मूल्यांकन किया जा रहा है, जिसका पीडब्ल्यूडी द्वारा दोबारा मूल्यांकन करवाया जाएगा। इसके बाद प्रभावितों को इमारतों व पौधों का मुआवजा दिया जाएगा।

अब तक प्रभावितों को बांटी 71 करोड़ की राशि

उपमंडल नूरपुर के तहत बनने वाले फोरलेन सड़क मार्ग बारे एसडीएम नूरपुर अनिल भारद्वाज ने बताया कि उपमंडल नूरपुर के तहत कंडवाल से लेकर भेडख़ड्ड तक बनने वाले फोरलेन सड़क मार्ग के लिए अधिकृत की गई भूमि की पहली नोटिफिकेशन के तहत अवार्ड हुई मुआवजा राशि के लिए 145 करोड़ में से करीब 71 करोड़ रुपए की मुआवजा राशि प्रभावित लोगों में वितरित कर दी गई है और इस माह के अंत तक 100 करोड़ तक की मुआवजा राशि वितरित करने का प्रयास है। उन्होंने बताया कि फोरलेन के तहत फलदार पौधों व इमारतों का मूल्यांकन किया जा रहा है और इस प्रक्रिया को जल्द पूरा करने का प्रयास किया जाएगा।

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!