छह हजार HRTC पेंशनरों को चार फीसदी महंगाई भत्ता, बैठक में फैसला

सार

  • नियमित कर्मियों को 8 फीसदी अंतरिम राहत के एरियर का भुगतान जल्द
  • परिवहन मंत्री की एचआरटीसी पेंशनर कल्याण मंच के साथ हुई बैठक
  • कोविड के चलते कर्मचारियों को नहीं हुआ था यह भुगतान

हिमाचल प्रदेश सरकार ने परिवहन निगम के सेवानिवृत्त और वर्तमान कर्मचारियों को राहत दी है। HRTC पेंशनरों को नियमित कर्मचारियों की तर्ज पर 4 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा। नियमित कर्मचारियों को 8 फीसदी अंतरिम राहत के एरियर का भुगतान जल्द होगा। बीते वर्ष कोविड के चलते कर्मचारियों को यह भुगतान नहीं हुआ था। सोमवार को परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह की अध्यक्षता में सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण मंच की बैठक में यह निर्णय लिया गया।

HRTC
HRTC

परिवहन मंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यभार संभालने के उपरांत महंगाई भत्ते में 144 फीसदी किया गया, जो पूर्व में 113 प्रतिशत था। सेवानिवृत्त कर्मचारियों को 140 फीसदी की दर से महंगाई भत्ते का भुगतान किया जा रहा है। शीघ्र सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भी कार्यरत कर्मचारियों के समान 144 प्रतिशत महंगाई भत्ता दिया जाएगा। अब तक 172 सेवानिवृत्त कर्मचारियों को 3.68 करोड़ का पेंशन एरियर भुगतान कर दिया गया है। बचे सेवानिवृत्त कर्मचारियों को जल्द पेंशन एरियर का भुगतान किया जाएगा। निगम में करीब 6 हजार पेंशनर हैं।

HRTC
HRTC

इसी तरह वर्तमान में कार्यरत कर्मचारियों को 8 प्रतिशत अंतरिम राहत दी जा रही है, लेकिन एरियर नहीं दिया गया। इसका शीघ्र भुगतान होगा। अंतरिम राहत का एरियर लगभग 19.25 करोड़ रुपये देय है। 

लीव इन कैशमेंट और ग्रेच्युटी का किया जा रहा भुगतान

मंत्री ने कहा कि निगम की ओर से एक जनवरी, 2018 से अब तक ग्रैच्युटी में 67.56 करोड़ और लीव इन कैशमेंट में 34.68 करोड़ का भुगतान कर दिया है।

न्यायालय के आदेशों से संबंधित विभिन्न मामलों तथा विशेष परिस्थितियों में भी लीव इन कैशमेंट तथा ग्रैच्युटी का भुगतान किया जा रहा है। उन्होंने निगम के कर्मचारियों को पेंशनरों के मामलों के समाधान के लिए विशेष योजना तैयार करने के भी निर्देश दिए।

देरी से पेंशन की टेंशन खत्म  

मंत्री ने कहा कि निगम ने 7 मार्च, 2019 को बैंक में अलग पेंशन खाता खोला गया है। इसके तहत बसों के प्रतिदिन यात्री किराये से प्राप्त आय की सात फीसदी राशि इस खाते में जमा की जा रही है। जिसे पेंशनरों वित्तीय लाभ का भुगतान करने के लिए उपयोग में लाया जा रहा है।

 

निगम से सेवानिवृत्त पेंशनों के सभी मामलों को 15 दिनों के भीतर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। बैठक में हिमाचल परिवहन सेवानिवृत्त कर्मचारी कल्याण मंच के प्रदेशाध्यक्ष बलराम पुरी ने परिवहन मंत्री को कर्मचारी कल्याण मंच की अन्य मांगों से भी अवगत करवाया।

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *