बुजुर्ग पिता ने कोरोना संक्रमण से खोया बेटा, RSS ने निभाई अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी

जिला मुख्यालय नाहन में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने मानवता की मिसाल पेश की है। एक बुजुर्ग पिता ने कोरोना संक्रमण से बेटे को गंवा दिया, जिसके बाद आरएसएस ने कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी निभाई।

जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवकों ने नाहन में कोविड-19 से एक व्यक्ति की हुई मौत के बाद शव का कोविड प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार करने की जिम्मेदारी निभाई।

मृतक हिमांशु (43) का परिवार उत्तर प्रदेश के लखनऊ से ताल्लुक रखता था। लिहाजा 73 वर्षीय वृद्ध पिता चाहते थे कि उनके बेटे का अंतिम संस्कार नाहन में ही किया जाए लेकिन बुजुर्ग के साथ उनकी पुत्रवधू के अलावा 3 साल की पोती थी, ऐसे में उन्हें यह समझ नहीं आ रहा था कि वह अपने बेटे का अंतिम संस्कार कैसे करें।

आरएसएस के स्वयंसेवक मानव शर्मा ने बताया कि संबंधित परिवार की व्यथा को समझते हुए राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्वयंसेवकों द्वारा इस परिवार से संपर्क किया गया। इसके बाद बुजुर्ग पिता की इच्छा पर मृतक बेटे का कोविड प्रोटोकॉल के तहत नाहन में ही अंतिम संस्कार किया गया, जिसकी जिम्मेदारी स्वयंसेवकों ने निभाई।

Leave a Reply

Top