स्कूल के बाद अब कालेजों में होने वाली फाइनल परीक्षा पर 15 जून के बाद फैसला लिया जाएंगा। शिक्षा विभाग राज्य सरकार से जून के अंत या जुलाई के पहले हफ्ते में फाइनल परीक्षाएं करवाने की मांग करेगा। विभाग ने एचपीयू को भी कालेज छात्रों की परीक्षाओं की तैयारी करने को कहा है। वहीं, प्रश्न पत्रों से लेकर परीक्षा केंद्रों में किस तरह से छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग में बैठाना है, इसकी व्यवस्था करने को कहा है।

फिलहाल कालेजों छात्रों की परीक्षा को लेकर शिक्षा विभाग प्रदेश सरकार को प्रस्ताव भेजेगा। कोविड की स्थिति को देखते हुए परीक्षा किस तरह और कब करवाई जा सकती है इसके बारे में विभाग प्रस्ताव देगा। हालांकि शिक्षा विभाग ने ये स्पष्ट किया है कि कालेज के छात्रों से पूर्व 12वीं कक्षा की परीक्षा को लेकर तय किया जाएगा। शिक्षा विभाग के अनुसार कालेज छात्रों की परीक्षाओं को लेकर 15 जून के बाद निर्णय लिया जाएगा।

विभाग का कहना है कि कोविड को लेकर परिस्थितियों का आंकलन भी किया जाएगा। इसके बाद ही परीक्षाएं करवाई जा सकती है। फिलहाल कालेज के छात्रों को शिक्षा विभाग ने परीक्षाओं की तैयारी रखने के पहले ही निर्देश जारी किए है। डा. अमरजीत शर्मा निदेशक उच्च शिक्षा विभाग ने बताया कि कोरोना की स्थिति को देखते हुए स्नातक की परीक्षाओं को लेकर प्रदेश सरकार को प्रस्ताव भेजा जाएगा। 15 जून के बाद तय किया जाएगा, लेकिन इससे पहले 12वीं की परीक्षाओं को लेकर निर्णय लिया जाएगा।

error: Content is protected !!