हिमाचल को सूखाग्रस्त घोषित करने की मांग, सीएम और केंद्रीय कृषि मंत्री को भेजा ज्ञापन

भारतीय किसान संघ की प्रदेश इकाई ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से हिमाचल प्रदेश को सूखाग्रस्त राज्य घोषित करने तथा रबी फसलों को हुए नुकसान से किसानों को सीधी राहत देने की मांग की है। मंगलवार को भारतीय किसान संघ ने प्रदेश के सभी जिलों में जिलाधीशों व खंडों में तहसीलदारों के माध्यम से ज्ञापन पत्र सौंपे।

 

भारतीय किसान संघ
भारतीय किसान संघ ने जिलाधीशों और तहसीलदारों के माध्यम से सीएम और केंद्रीय कृषि मंत्री को भेजा ज्ञापन

शिमला में भारतीय किसान संघ के शिमला जिला अध्यक्ष केदार सिंह के नेतृत्व में जिलाधीश को ज्ञापन सौंपा गया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश में अधिकतर कृषि एवं बागबानी वर्षा पर आधारित होती आ रही है।

 

सामान्यतः प्रदेश के विभिन्न जिलों में औसतन 1000-1200 मिलीमीटर वर्षा के द्वारा जल पूरा वर्ष भू-भाग को मिलता रहता है, लेकिन वर्ष 2020-21 के दौरान सितंबर, 2020 से मार्च, 2021 तक सामान्य से बहुत कम (48-83 प्रतिशत, औसतन 60 प्रतिशत से कम) वर्षा हुई है। इसके अलावा हिमपात भी बहुत कम हुआ है, परिणाम स्वरूप सूखे की स्थिति बन चुकी है।

 

इसका असर सीधा रबी की फसलों पर दिख रहा है। भू-जल के रिचार्ज न होने के कारण खड्डें, नाले तथा प्राकृतिक संसाधन भी सूखने लगे हैं। अतः व्यवहारिक एवं संवेदनशील दृष्टिकोण से इन प्राकृतिक संसाधनों को संरक्षण की आवश्यकता है।

 

इस मामले में जल ही जीवन जागरूकता आंदोलन चलाने की आवश्यकता है। रबी की फसलें जैसे गेहूं, चना, जौ, मटर, आलू तथा चारे की फसलें इत्यादि को भी भारी नुकसान देखने को मिला है। असिंचित क्षेत्रों में यह प्रभाव 80 प्रतिशत आंका/देखा जा रहा है।

 

 

इसमें बहुत से स्थानों पर तो गेहूं की फसल नष्ट हो चुकी है। किसानों ने गेहूं को चारे के रूप में काटना शुरू कर दिया है। एक क्विंटल उत्पादन के स्थान पर 15-20 किलोग्राम गेहूं के उत्पादन की आशा की जा रही है। कृषि विभाग द्वारा एक माह पूर्व अपनी रिपोर्ट में सूखे का प्रभाव जो केवल 30-40 प्रतिशत आंका था, अब 70-80 प्रतिशत तक पहुंच गया है।

 

अधिकतर खेती की भूमि असिंचित, छोटी जोत, पहाड़ी क्षेत्र होने एवं अनाज की कम आय वाली फसलों के कारण किसान फसल बीमा योजना के लाभ से वंचित रहते हैं।  इस अवसर पर भारतीय किसान संघ के अध्यक्ष केदार सिंह के साथ, प्रांत संगठन मंत्री हरि राम, प्रांत युवा प्रमुख अजीत सिंह सकलानी, टुटू खंड के अध्यक्ष गंगाराम सहित लायक राम, मनीराम, निशांत, प्रेम, ओम प्रकाश, अमी चंद और नवीन उपस्थित रहे

 

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *