Dharamshala में मृत शिक्षक को बनाया चुनाव अधिकारी, सिरमौर में मृतक का तबादला

हिमाचल प्रदेश के नगर निगम Dharamshala के चुनाव में शिक्षकों की ड्यूटियां लगाने में धर्मशाला उपमंडल प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। यहां मृत शिक्षक को पोलिंग अफसर की ड्यूटी दे दी गई है। दूसरी ओर सिरमौर जिले में शिक्षा विभाग का बड़ा कारनामा सामने आया है।

Dharamshala
EVM

विभाग ने खाली चल रहे कफोटा स्कूल के प्रधानाचार्य पद पर ऐसे शिक्षक को पदोन्नत कर भेजने के आदेश जारी किए, जिनकी लगभग डेढ़ वर्ष पहले मृत्यु हो चुकी है। प्रशासन और शिक्षा विभाग की इन लापरवाहियों से दोनों परिवारों की संवेदनाओं से खिलवाड़ हुआ है। 

 

बताया जा रहा है कि धर्मशाला नगर निगम चुनाव में उन अध्यापकों की ड्यूटियां लगा दीं, जो पंचायती राज चुनाव के दौरान ड्यूटी पर थे। पोलिंग अफसर बनाए शिक्षक की हाल ही में बिजली गिरने से मौत हो चुकी है। जबकि, एक अध्यापक 31 मार्च को अपनी सेवाओं से सेवानिवृत्त हो रहा है, उसकी ड्यूटी भी चुनाव करवाने के लिए लगाई गई है।

Dead teacher in Dharamshala made election officer, deceased transferred in Sirmaur
EVM

सहायक निर्वाचन अधिकारी धर्मशाला ने बताया कि ड्यूटी लगाने का जो डाटा लिया था, वह पुराना था। लिस्ट जांचने के बाद फाइनल ड्यूटियां देने वाले कर्मचारियों को चुना जाएगा। जो चूक हुई है, उसे दुरुस्त करेंगे।

उधर, सिरमौर जिले में शिक्षा विभाग ने खाली चल रहे कफोटा स्कूल के प्रधानाचार्य पद पर ऐसे शिक्षक को पदोन्नत कर भेजने के आदेश जारी किए, जिनकी डेढ़ वर्ष पहले मृत्यु हो गई है। शिक्षा विभाग ने शनिवार को 97 प्रधानाचार्यों की पदोन्नति की अधिसूचना जारी की है।

इनमें 90 सीरियल नंबर पर धर्म चंद का नाम है। उन्हें विभाग ने नाया स्कूल के हेडमास्टर से पदोन्नत कर रावमापा कफोटा स्कूल में प्रधानाचार्य भेजा है, जिनकी मौत हो चुकी है। कार्यवाहक प्रधानाचार्य रावमापा कफोटा सुरेश कुमार ने बताया कि उन्हें इस बारे में पता चला है कि प्रधानाचार्य पद पर नियुक्त हुए व्यक्ति की डेढ़ साल पहले मौत हो गई है।

उधर, शिक्षा उपनिदेशक कर्म चंद ने बताया कि मामला उनके संज्ञान में नहीं है। ये नियुक्तियां शिक्षा निदेशालय से होती हैं। यदि ऐसा है तो मामला उच्च अधिकारियों के ध्यान में लाया जाएगा।

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *