शिमला में कोरोना कर्फ्यू: बाजार बंद, सड़कें सुनसान, माल रोड-रिज मैदान खाली

राजधानी शिमला में कोरोना कर्फ्यू के पहले दिन सड़कें सुनसान रहीं। जरूरी वस्तुओं को छोड़कर बाजार में दुकानें बंद नजर आईं। सड़कों पर पुलिस ने नाके लगा रखे हैं। लोगों के साथ पहले दिन पुलिस पूरा सहयोग कर रही है। रिज मैदान, माल रोड भी सुनसान नजर आया। संजौली, लक्कड़ बाजार, ऑकलैंड के बाजार भी बंद रहे।

 

हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू लागू हो गया है, जो 17 मई की सुबह छह बजे तक जारी रहेगा। अब लोगों को सही तरीके से मास्क पहनना होगा। पहली बार उल्लंघन पर एक हजार रुपये जुर्माना और बार-बार नियम तोड़े तो आठ दिन की जेल हो सकती है। इसके लिए पुलिस कोर्ट से जेल भेजने की सिफारिश करेगी।

कर्फ्यू के दौरान निजी वाहन कार, जीप आदि चलाने के लिए वाहन मालिक को वाजिब कारण बताना होगा। बसें भी 50 फीसदी क्षमता से ही चलेंगी। प्रदेश में कहीं भी पांच से ज्यादा लोग एक जगह इकट्ठा नहीं हो सकेंगे। शादी और अंतिम संस्कार में 20 लोगों के शिरकत करने की छूट होगी। आदेश लागू होने के बाद पुलिस मुख्यालय ने भी दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं।

निर्देश में स्पष्ट किया गया है कि क्षमता के 50 फीसदी सवारियों के बैठने के आदेश का पालन न होने पर संबंधित वाहन चालक पर एफआईआर के अलावा पांच हजार रुपये जुर्माना लगेगा। इसके अलावा वाहन जब्त भी किया जा सकता है।

वहीं वाहन में बैठे लोग अगर मास्क नहीं पहने होंगे तो उन पर एक हजार रुपये का जुर्माना लगेगा। इसी तरह शादियों में भी 20 लोगों के आदेश का उल्लंघन हुआ तो एफआईआर और पांच हजार जुर्माना व टेंट हाउस वाले पर कार्रवाई होगी। धाम पर प्रतिबंध लगा रहेगा।

शाम छह बजे से पहले खुलने वाली दुकानों के बाहर लोगों को सामाजिक दूरी के नियम का पालन करना होगा। दुकानों के बाहर गोले बने होंगे, जिनके भीतर लोग खड़े होकर अपनी बारी का इंतजार करना होगा। दूरी के नियम का उल्लंघन होने पर दुकानदार और ग्राहक दोनों पर कार्रवाई होगी।

ऊना-मंडी-चंबा जिले में कोरोना कर्फ्यू के दौरान सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक जरूरी सामान की दुकानें खुलेंगी। बिलासपुर में सुबह 6 से दोपहर 2 बजे तक दुकानें खुलेंगी। इसके अलावा प्रदेश के अन्य जिलों में सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक दुकानें खुलेंगी।

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *