हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू: सड़कों पर लगे नाके, पसरा सन्नाटा, पहले दिन पुलिस भी कर रही सहयोग

हिमाचल प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू लागू हो गया है, जो 17 मई की सुबह छह बजे तक जारी रहेगा। अब लोगों को सही तरीके से मास्क पहनना होगा। पहली बार उल्लंघन पर एक हजार रुपये जुर्माना और बार-बार नियम तोड़े तो आठ दिन की जेल हो सकती है। इसके लिए पुलिस कोर्ट से जेल भेजने की सिफारिश करेगी।

कर्फ्यू का असर बाजारों में देखने को मिला है। लोगों ने बाजार आने से किनारा कर दिया है। शुक्रवार सुबह बाजार में गिने-चुने लोग ही नजर आए और अधिकतर दुकानें बंद रही। कफ्र्यू का पालन करने के लिए पुलिस जगह-जगह पर तैनात की गई है।

कर्फ्यू के पहले दिन पुलिस पूरा सहयोग कर रही है। हालांकि सब्जी, राशन व दवा की दुकानों में भी कुछ लोग सामान लेने के लिए पहुंच रहे है।

जिला मुख्यालय ढालपुर के साथ अखाड़ा बाजार, मनाली, सैंज,बंजार, भुंतर, पतलीकूहल, के बाजारों ने पहले की तरह लोगों की भीड़ देखने को नहीं मिली है। वहीं निगम के साथ निजी बसों को सवारियों भी नहीं मिल रही हैं।

ऊना-मंडी-चंबा जिले में कोरोना कर्फ्यू के दौरान सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक जरूरी सामान की दुकानें खुलेंगी। बिलासपुर में सुबह 6 से दोपहर 2 बजे तक दुकानें खुलेंगी। इसके अलावा प्रदेश के अन्य जिलों में सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक दुकानें खुलेंगी।

धर्मशाला में सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहा। बाजार बंद नजर आए। पुलिस आवाजाही करने वाले लोगों से पूछताछ करती दिखी।

Leave a Reply

Top