नूरपुर में कोरोना कर्फ्यू का रहा असर, कंडवाल बैरियर पर बढ़ाई सख्ती

नूरपुर : शुक्रवार से प्रदेश भर में लगाये गए कोरोना कर्फ्यू का असर नूरपुर उपमंडल में भी देखने को मिला। उपमण्डल के प्रमुख बाजार जसूर और नूरपुर में जरूरी वस्तुओं की दुकानें तो खुली रही, लेकिन ग्राहक ना के बराबर ही थे। वहीं बसों में भी सवारियों की संख्या आम दिनों के मुकाबले कम ही दिखी।

हालांकि वाहनों की आवाजाही होती रही लेकिन केवल वही वाहन सड़क पर दौड़ते दिखे जो या तो किसी आपातकाल में जा रहे थे या फिर जरूरी वस्तुओं की सप्लाई कर रहे थे। कंडवाल बैरियर पर भी व्यवस्था दुरुस्त दिखी। यहां हर आने जाने वाले का ई-पास और कोविड रिपोर्ट जांचा जा रहा है। जरूरी वस्तुओं की सप्लाई वाले वाहनों को जाने दिया जा रहा है जबकि मेडिकल इमरजेंसी वाले लोगों को भी जाने दिया जा रहा है।

इसके अतिरिक्त कंडवाल बैरियर में किसी भी वाहन को जिला प्रदेश में नही आने दिया जा रहा है। इस बारे अधिक जानकारी देते हुए कंडवाल चैकी प्रभारी मोहिंदर शर्मा ने बताया कि मेडिकल इमरजेंसी, ई-पास और जरूरी वस्तुओं की सप्लाई करने वाले वाहनों को जाने दिया का रहा है। बिना ई-पास और बिना जरूरी दस्तावेजों के जो लोग प्रदेश में आना चाहते हैं उन्हें वापिस भेजा जा रहा है।

Author: बोलता हिमाचल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *