IIT Mandi : स्‍थापना दिवस पर सीएम बोले, शिलान्‍यास के मौके पर हम पीछे खड़े थे उसके बाद आज आया

Bolta Himachal : आइआइटी मंडी के 12वें स्‍थापना दिवस पर मुख्‍यमंत्री जयराम ठाकुर बतौर मुख्‍य अतिथि पहुंचे। सीएम ने कहा संस्‍थान के शिलान्यास के समय हम पीछे खड़े थे और उसके बाद आज आया हूं। संस्‍थान 12 साल में बहुत तेजी से आगे बढ़ा है।

CM said on the establishment day of IIT Mandi, we stood behind on the occasion of foundation stone, after that today came
CM himachal IIT Mandi, 

देश में सभी राज्यों में आइआइटी नहीं हैं। इतना बड़ा संस्थान होना हमारे लिए बड़ी बात है। आने वाले समय में यह सेंटर्ल यूनिवर्सिटी से बहुत बड़ा संस्‍थान होगा।

 

देश में अभी तक केवल 23 आईआईटी हैं। इंफ्रास्ट्रक्चर के हिसाब से तेजी से कम हुआ है। भौगोलिक स्थिति खराब होने के बावजूद यहां बेहतर काम हो रहा है। संस्‍थान में 2000 विद्यार्थी हैं व फैक्टी 100 से ऊपर है।

कनेक्टिवटी यहां बड़ा मुद्दा है। एयरपोर्ट के लिए प्रयास कर रहे हैं। ऐसे संस्थान के लिए कनेक्टिविटी जरूरी है, क्‍योंकि यहां देशभर से बच्चे हैं। लगभग 100 करोड से अधिक से रिसर्च प्रोजेक्ट अभी तक बन चुके हैं। कैटलिस्ट ने 1000 आवेदन प्राप्त किए। 2013 तक 50 से अधिक छात्रों में विश्व भर के शैक्षणिक विस्तार कार्यक्रम में भाग लिया।

CM said on the establishment day of IIT Mandi, we stood behind on the occasion of foundation stone, after that today came
Jairam Thakur Cm Himachal

पीएम मोदी ने टेक्नोलॉजी पर विशेष ध्यान दिया है। डिजिटल इंडिया की बात कर रहे थे। कोविड संकट में टेक्नोलॉजी ने महत्वपूर्ण रोल अदा किया।

पूरी दुनिया का संचलान टेक्नोलॉजी से चल रहा था। पहले विजन की कमी रही। इसलिए आत्मनिर्भर भारत का कान्‍सेप्‍ट महत्वपूर्ण है। सीएम ने कहा संस्‍थान की हर संभव मदद करेंगे। मंडी कमांद बजौरा सड़क के लिए 14 करोड़ का टेंडर हो चुका है। 10 करोड़ से पुल का काम चला है।

Palampur Congress : महंगाई के खिलाफ गरजे कांग्रेस नेता, कौल सिंह बोले- नगर निगम और विधानसभा चुनाव जीतेंगे

JBT trained unemployed union के सदस्‍यों ने Dharamshala में निकाली रैली, सरकार के खिलाफ नारेबाजी

Facebook page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *