कोरोना संकट में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का प्रदेशवासियों से आग्रह

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना महामारी ने जिस तरह से विकराल रूप धारण किया है, उससे स्थिति विकट हो चुकी है। इस कठिन दौर में मुख्यमंत्री ने जनता  से आग्रह किया है कि हो सके तो शादियों को टाल दें। कैबिनेट के बाद मीडिया से अनौपचारिक बातचीत में सीएम ने प्रदेश की जनता से यह आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि बेहद कठिन दौर चल रहा है और इसमें जनता  को सरकार का साथ देना चाहिए। उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में शादियों के मुहुर्त हैं, मगर संभव हो सके तो लोग शादियों  का टाल दें। अगर शादियों को कुछ समय के लिए स्थगित कर दें, तो समाज के लिए अच्छा होगा। सीएम न कहा कि कैबिनेट की बैठक में  कोरोना की स्थिति को लेकर चर्चा करने व समीक्षा करने के बाद यह सामने आया है कि शादियों के चलते संक्रमण तेजी से फैला है। एक शादी से 100 से 150 तक संक्रमण के मामले सामने आए हैं।

 

हालांकि सरकार ने शादियों पर पाबंदी नहीं लगाई है, लेकिन चोरी छिपे बड़े आयोजन हिमाचल में हुए हैं। इससे कोरोना के संक्रमण को रफतार मिली है। उन्होंने कहा कि मैरिज हॉल में शादियों को बंद कर दिया है और घर पर 20 लोगों के साथ ही शादियां हो सकती हैं। इस नियम को किसी ने तोड़ा तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

अंतिम संस्कार को फ्री में लकड़ी देगी सरकार

सीएम ने एक सवाल पर कहा कि कोरोना मरीज के अंतिम संस्कार को लेकर जिलाधीशों को आदेश जारी कर दिए गए हैं। ऐसी घटनाएं सामने न आएं जिससे समाज को शर्मिंदा होना पड़े।  शहरी क्षेत्रों में मृतकों के अंतिम संस्कार के लिए फोरेस्ट कारपोरेशन के डिपुओं से फ्री लकड़ी देने को निर्देश दिए हैं। इसी तरह से ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों के वन अधिकारों के चलते जंगल से अंतिम संस्कार के लिए सूखे पेड़ काटने में वन विभाग मदद करेगा।

Leave a Reply

Top