वन मंत्री के कार्यक्रम से मंडल, संगठन सहित भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष का किनारा

फतेहपुर में उपचुनाव को लेकर राजनीति गर्मा चुकी है। अभी तक न तो कांग्रेस और न ही भाजपा अपना-अपना दूल्हा मैदान में उतार पाई हैं। भाजपा व कांग्रेस दोनों पार्टियों के दिग्गज फतेहपुर में पहुंच रहे हैं। जहां एक तरफ कांग्रेस से टिकट के विरोध के स्वर खुलकर सामने आए हैं और कांग्रेस से टिकट के चाहवानों ने एक नाम आगे आते ही पार्टी हाईकमान व प्रदेश प्रभारी राजीव शुक्ला के सामने धर्मशाला में विरोध किया था। वहीं भाजपा के प्रदेश प्रभारी अविनाश खन्ना ने कार्यकर्ताओं व टिकट के चाहवानों को फतेहपुर में आकर एकजुटता का पाठ पढ़ाया था।

नेताओं व प्रदेश प्रभारी ने फतेहपुर में पार्टी कार्यकर्ताओं में एकजुटता की बात कहकर फतेहपुर में टिकट की बगावत की बात को सिरे से खारिज कर दिया था, मगर रविवार को फतेहपुर विधानसभा के मिन्ता पंचायत में हुए वन मंत्री राकेश पठानिया एवं साथ लगते विधानसभा क्षेत्र नूरपुर के विधायक के कार्यक्रम में जब फतेहपुर भाजपा मंडल, संगठन के साथ-साथ भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष कृपाल परमार नहीं पहुंचे तो चर्चाओं का बाजार गर्म होने लगा। चर्चा लाजिमी भी थी।

Leave a Reply

Top