हिमाचल : मुख्यमंत्री का एलान, अब प्रदेश भर के मंदिरों में हो पाएंगे हवन यज्ञ

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सोमवार को शक्तिपीठ ज्वालामुखी मंदिर में पत्नी साधना ठाकुर के साथ पवित्र ज्योतियों के दर्शन किए। उन्होंने पुजारी वर्ग के आग्रह के बाद प्रदेश भर में पिछले डेढ़ साल से बंद पड़े हवन यज्ञ को पुनः कोरोना प्रोटोकॉल की अनुपालन करते शुरू करने की इजाज़त दी है। कहा कि अब पूरे प्रदेश में मंदिरों में कोरोना गाइडलाइन की अनुपालना करते हुए हवन यज्ञ किए जा सकते हैं।

 

कोरोना की पहली लहर के बीच मार्च 2020 में मंदिरों के कपाट देश भर में बंद किए गए थे। हालांकि बाद में मदिर खुले लेकिन श्रद्धालुओं सहित पुजारी वर्ग के लिए भी हवन यज्ञ करने पर पावंदियां लगा दीं गयी थी जो अभी तक तक नहीं हटी थीं। ज्वालामुखी से अभी दो दिन पहले ही पुजारी प्रशांत शर्मा के नेत्तृत्व में मंदिर के पुजारियों ने उपायुक्त कांगड़ा से मिलकर हवन यज्ञ शुरू करवाने की मांग उठाई थी। सोमवार को पुजारियों ने मन्दिर दर्शन करने आए मुख्यमंत्री से इस वाबत बात की। जिस पर उन्होंने सहमति जताते हुए उपायुक्त कांगड़ा को यज्ञ चालू करवाने के आदेश दिए।

ज्वालामुखी मंदिर के पुजारी वर्ग, न्यास सदस्यों ने इस निर्णय के लिए मुख्यमत्री का आभार जताया है। न्यास सदस्य सौरभ शर्मा, जेपी दत्ता, देशराज भारती, ने कहा कि लम्बे समय से श्रद्धालु हवन यज्ञ की अनुमति चाह रहे थे। दूर प्रदेशों से कई श्रद्धालु यहां हवन करने की इच्छा से आए लेकिन उन्हें बापिस होना पड़ा। इस निर्णय से पूरे प्रदेश के पुजारी वर्ग तथा मंदिरों में आने वाले श्रद्धालुओं को लाभ होगा।

इस अवसर पर विधायक रमेश धवाला तथा सुंदरनगर से विधायक राकेश जम्वाल भी उपस्थित रहे। मण्डल अध्यक्ष मान सिंह राणा तथा नगर परिषद जवालामुखी से मनोनीत पार्षद ज्योतिशंकर शर्मा ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया।

BDC By Election: मुख्‍यमंत्री के हलके में हुए बीडीसी उपचुनाव में भाजपा समर्थित प्रत्‍याशी की जीत

Leave a Reply

Top
error: Content is protected !!