गुटबाजी पर नड्डा की कार्यकर्ताओं को नसीहत, जगन्नाथ का रथ न मानें पार्टी को, लगाएं ताकत

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में गुरुवार को धर्मशाला में नेताओं को अपरोक्ष रूप से गुटबाजी पर विराम लगाने की नसीहत दी। उन्होंने कहा कि देश में भाजपा के 18 करोड़ कार्यकर्ता हैं। कोई भी राजनीतिक दल भाजपा के मुकाबले में नहीं है। हमारी ताकत एकता है। सभी कार्यकर्ताओं से निवेदन है कि ताकत से कई बार हम कमजोर भी होने लगते हैं। जिस तरह से भगवान जगन्नाथ के रथ को सब हाथ लगाते हैं। रथ चलता रहता है। यह पता नहीं चलता कि किसने कितनी ताकत लगाई है। पार्टी को जगन्नाथ का रथ मानकर न खींचें, बल्कि हमें यह देखना होगा कि हम अपनी पूरी ताकत लगा रहे हैं या नहीं। ताकत लगा रहे हैं तो हमें उसका मूल्यांकन भी करना होगा।

नड्डा ने कहा कि कई लोग कहते हैं कि वे आगे नहीं बढ़ पाए। कहीं ऐसा तो नहीं कि किसी को जोड़ा ही न हो, अकेले ही चलते रहे हों। हमें अपनी योग्यता, परिपक्वता और स्वीकार्यता पर ध्यान देना होगा। हमारी उपयोगिता क्या है, ये देखना होगा। दुर्गा और लक्ष्मी वहीं टिकती हैं, जहां इनका सम्मान होता है। यह पहले भी कहते रहे हैं कि मतदाताओं के लिए गंभीर रहें, उनका सम्मान करें। उन्होंने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के अलावा देश में पीडीपी सहित सभी राजनीतिक पार्टियां एक परिवार की पार्टियां बनकर रह गई हैं। इन राजनीतिक दलों के संसदीय बोर्डों में चाचा, ताया और सिर्फ परिवार के ही लोग होते हैं।

jp नड्डा

इसी वजह से कांग्रेस का आज इतना बुरा हाल है, जबकि भाजपा में पार्टी ही परिवार होता है। नड्डा ने कहा कि भाजपा का विचार सांस्कृतिक राष्ट्रवाद है। हमें कभी भी अहम में नहीं आना चाहिए, लेकिन अति विश्वास में सुस्त भी नहीं होना चाहिए। ‘सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास’ भाजपा का आर्थिक मॉडल है। यही वजह है कि लोग भाजपा को पसंद करते हैं। हिमाचल में पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार और प्रेम कुमार धूमल ने भी आर्थिक मॉडल बनाकर ‘सबका साथ सबका विकास’ का नारा दिया। इस दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, प्रदेश पार्टी अध्यक्ष सुरेश कश्यप, केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर, प्रदेश सरकार के मंत्री, पार्टी के विधायक और पार्टी के पदाधिकारी मौजूद रहे।

मुख्यमंत्री से कहा, आत्मनिर्भर भारत अभियान में काम करने की जरूरत
संबोधन के दौरान जेपी नड्डा ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी संदेश दिया। नड्डा ने मुख्यमंत्री को कहा कि प्रदेश में आत्मनिर्भर भारत अभियान पर और तेजी से काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने किन्नौरी टोपी, कुल्लू की शॉल और चंबा का रुमाल विदेश तक पहुंचाया। हिमाचल को भी इस पर काम करना है। उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में कई देशों के राजदूतों की जो बैठक होगी, उसमें वह खुद हिमाचली उत्पादों को प्रमोट करेंगे।

बंगाल में जाने वाली है बुआ-भतीजे की सरकार

नादौन (हमीरपुर)। अपने घर बिलासपुर जाते समय जेपी नड्डा ने नादौन विश्राम गृह में पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि बंगाल में पीशी और भाईपो यानी बुआ-भतीजे की सरकार जाने वाली है। भाजपा यहां 200 से अधिक सीटें जीतकर सरकार बनाएगी। आगामी विधानसभा चुनाव में पांच राज्यों में भाजपा की सरकारें बनने जा रही हैं। पुडुचेरी में कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ चुकी है। केरल में भाजपा की स्थिति पहले से बेहतर रहेगी। बंगाल में हुए हमले को लेकर नड्डा ने कहा कि ममता दीदी और उनके नेता जिस भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, वह बंगाल की संस्कृति नहीं है। इसी कारण लोगों ने वहां भाजपा के पक्ष में अपना मन बना लिया है।

Leave a Reply

Top