केंद्रीय विश्वविद्यालय निर्माण के लिए केंद्र से मिले 510 करोड़, निर्माण का रास्ता साफ

पिछले दस वर्षों से लटके केंद्रीय विश्वविद्यालय (सीयू) की राह अब आसान हो गई है। सीयू के भवन निर्माण कार्य के लिए केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने करीब 510 करोड़ रुपये जारी कर दिए हैं। वहीं, देहरा में बनने वाले सीयू के भवन के लिए भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया भी पूरी हो चुकी है। अब औपचारिकताएं पूरी होते ही भवन निर्माण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

केंद्रीय विश्वविद्यालय

जानकारी के अनुसार सीयू के भवन निर्माण के लिए केंद्रीय वित्त मंत्रालय की ओर से लगभग 510 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान कर दिया गया है। देहरा में सीयू के भवन निर्माण के लिए जितनी भूमि की जरूरत है, उतनी भूमि सीयू प्रशासन के नाम हो चुकी है। अन्य औपचारिकताएं पूरी होते ही पांच-छह माह के भीतर भवन का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। केंद्रीय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. डॉ. कुलदीप चंद अग्निहोत्री ने इसकी पुष्टि की है।

केंद्रीय विश्वविद्यालय
केंद्रीय विश्वविद्यालय

धर्मशाला में अभी भी फंसा है पेंच

जिला मुख्यालय धर्मशाला में बनने वाले सीयू के कैंपस के भवन निर्माण के लिए अभी भी पेंच फंसा है। यहां पर भूमि सीयू प्रशासन के नाम नहीं हो सकी है। यहां आ रही दिक्कतों को दूर करने के लिए इसी सप्ताह केंद्र की वन विभाग से संबंधित टीम धर्मशाला का दौरा करेगी।

सीयू को लेकर मुख्यमंत्री-अनुराग भी आए थे आमने-सामने


सीयू के जल्द निर्माण को लेकर 17 नवंबर, 2020 को देहरा में एक जनसभा के दौरान मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर के बीच सार्वजनिक मंच पर सियासी नोकझोंक हुई थी। अनुराग ने खुले मंच से प्रदेश सरकार पर सीयू के नाम जमीन ट्रांसफर न करने का मामला उठाने के साथ अफसरों पर निशाना साधा था।

इसके बाद सरकार ने जमीन सीयू के नाम करने में तेजी लाई थी। इसी बीच मुख्यमंत्री के बचाव में आए देहरा के विधायक होशियार सिंह ने केंद्रीय राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर पर निशाना साधा था कि केंद्र सरकार ने 510 करोड़ रुपये केंद्रीय विवि के खाते में नहीं डाले।

हिमाचल: एक साथ हटा दिया श्रम विभाग मंडी का पूरा स्टाफ,

कांग्रेस ने की Join social media campaign की शुरुआत भाजपा के दुष्प्रचार का देंगे जवाब

Join facebook page

Leave a Reply

Top