Hp High Court : Medical College Chamba में दिल्ली की आउटसोर्स कंपनी के खिलाफ चुनौती

Court case himachal

Medical College Chamba में आउटसोर्स सेवाएं देने वाली दिल्ली की कंपनी के खिलाफ हाई कोर्ट में चुनौती दी गई है। मुख्य न्यायाधीश एए सैयद और न्यायाधीश ज्योत्सना रिवाल दुआ की खंडपीठ ने सरकार से तीन हफ्ते में जवाब तलब किया है। मामले की सुनवाई आगामी सात दिसंबर को निर्धारित की गई है।

Chamba medical college
Chamba medical college

याचिकाकर्ता कारपोरेट केयर ने दातार सिक्योरिटी ग्रुप पर फर्जी दस्तावेज के आधार पर प्रशासन को गुमराह करने का आरोप लगाया है। दलील दी गई है कि मेडिकल कालेज चंबा ने फरवरी 2021 में अस्पताल के लिए आउटसोर्स सेवाओं की निविदाएं आमंत्रित की थी।

images 2022 11 23T090026.786

निविदा शर्तों के अनुसार आवेदक के पास 200 बिस्तर वाले अस्पताल में कम से कम तीन वर्ष का अनुभव होना जरूरी किया गया था। एक वर्ष और 10 महीनों के अनुभव के आधार पर प्रतिवादी दातार सिक्योरिटी ग्रुप को आउटसोर्स सेवाएं प्रदान करने का ठेका दिया गया। याचिका में आरोप लगाया गया है कि प्रतिवादी ने झूठे और फर्जी दस्तावेज पेश किए हैं।

HP High Court
Court

दलील दी गई है कि बारामती अस्पताल वर्ष 2019 में स्थापित हुआ था, जबकि प्रतिवादी ने दो नवंबर, 2018 को अस्पताल की ओर से जारी अनुभव प्रमाण पत्र पेश किया है। इससे साफ जाहिर है कि प्रतिवादी कंपनी ने उस समय का प्रमाण पत्र पेश किया है, जिस समय बारामती अस्पताल की स्थापना ही नहीं हुई थी। याचिकाकर्ता ने प्रतिवादी को दिए ठेके को रद्द करने की गुहार लगाई है।

police

HP Police paper leak case: बिहार के तीसरे आरोपी ने भी किया आत्मसमर्पण

Rohtang Pass पर्यटकों के लिए बंद, अब अप्रैल के बाद ही होंगे दीदार

HP High Court
Court

HP High Court: दुष्कर्म मामले में आरोपी डॉक्टरों की जमानत खारिज

Follow Facebook Page