January 24, 2021

Panchayat Election (2021) चुनाव पर खर्च होंगे 17 करोड़, कोविड की सुरक्षा पर लग रहे दो करोड़, प्रिंटिंग का खर्चा अलग से

Panchayat Election: हिमाचल प्रदेश में शहरी निकाय व पंचायती राज संस्थाओं के चुनाव पर करीब 17 करोड़ रूपए की धनराशि खर्च होगी। कोविड काल में इस पर अतिरिक्त खर्च हो रहा है।

Panchayat Election

दो करोड़ रुपए का अतिरिक्त खर्चा कोरोना की वजह से होना तय है। इसके लिए डिजास्टर मैनेजमेंट की ओर से राज्य चुनाव आयोग को एक करोड़ 60 लाख रुपए की राशि दे दी गई है, जबकि शेष राशि भी जल्द दी जाएगी। स्वास्थ्य विभाग चुनाव के लिए खुद पीपीई किट उपलब्ध करवाएगा, जिसे चुनाव आयोग नहीं खरीदेगा। प्रदेश सरकार ने राज्य चुनाव आयोग की डिमांड पर बजट जारी कर दिया है।

Panchayat Election
भारतीय रुपये

जानकारी के अनुसार चुनाव आयोग को सरकार की ओर से 11 करोड़ रुपए की धनराशि मिल गई है, जो कि चुनाव खर्च के लिए है। इसमें कर्मचारियों के मानदेय से लेकर दूसरी व्यवस्थाओं पर खर्च होगा, मगर इसमें प्रिंटिंग का खर्च नहीं है। प्रिंटिंग का जो भी खर्च होगा, वह सीधे प्रिंटिंग एंड स्टेशनरी विभाग सरकार से लेगा।

पहले ऐसी व्यवस्था नहीं थी और ये पैसा भी चुनाव आयोग ही देता था, मगर अब ऐसा नहीं है। कोरोना की वजह से इस बार चुनाव का खर्चा बढ़ गया है। इसमें दो करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है, जिसमें से डिजास्टर मैनेजमेंट की तरफ से चुनाव आयोग को एक करोड़ 60 लाख की राशि हासिल हो चुकी है। इससे सेनेटाइजर, फेस मास्क, फेस शील्ड, ग्लब्ज आदि सुरक्षा की जरूरी चीजें आयोग खरीद रहा है।

Panchayat Election
पंचायत चुनाव

खुद खरीद कर देंगे पीपीई किट

स्वास्थ्य विभाग ने कहा है कि वह डिमांड के अनुसार पीपीई किट की खरीद खुद करके देगा। इस्तेमाल करने के बाद जितनी पीपीई किट शेष बचेंगी, उनको स्वास्थ्य विभाग इस्तेमाल करेगा।

Panchayat Election
India news

Panchayati Raj Election : हिमाचल में 3 दिन सार्वजनिक अवकाश की घोषणा

Panchayat Chunav: आरक्षण रोस्टर में गड़बड़ी को लेकर दायर याचिकाएं खारिज, टूटू-चौपाल में पंचायत प्रधान चुनाव का रास्ता साफ

Join facebook page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © Bolta Himachal 2020 | All rights reserved. | Newsphere by AF themes.