income Tax : आयकर विभाग ने ‘झटपट प्रोसेसिंग’ पहल लांच की

Income tax department launches ‘instant processing’ initiative

हाल ही में आयकर विभाग ने ‘झटपट प्रोसेसिंग’ नामक एक पहल शुरू की है। इस पहल का उद्देश्य करदाताओं के लिए आईटीआर फाइलिंग को आसान और तेज़ बनाना है।

Income tax department launches 'instant processing' initiative
Instant processing’ initiative – Income tax department

मुख्य बिंदु

यह पहल उन करदाताओं के लिए है जिनके बैंक खाते प्री-वेलिडेटिड हैं और आईटीआर वेरीफाईड है। इसके अलावा, करदाताओं का कोई बकाया नहीं होना चाहिए, इसके अलावा कोई टीडीएस या चालान बेमेल नहीं होना चाहिए।

आयकर रीटर्न दाखिल करने के लिए अंतिम तिथि 31 दिसम्बर, 2020 है, जिन्हें आडिट की आवश्यकता नहीं है। जिन करदाताओं के लिए ऑडिट की आवश्यकता है, उनके लिए रीटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि 31 जनवरी, 2021 है।

Income Tex
Instant processing’ initiative

आमतौर पर आयकर रीटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई होती है। परन्तु इस साल कोविड​​-19 की वजह से यह समय सीमा दिसंबर तक बढ़ा दी गई है। आयकर विभाग के अनुसार 24 दिसंबर तक 3.97 करोड़ से अधिक करदाताओं ने 2019-20 के लिए अपना आयकर रीटर्न फाइल किया है।

आयकर विभाग

Instant processing' initiative
Income tax department

यह एक सरकारी एजेंसी है जो भारत सरकार के प्रत्यक्ष कर संग्रह का कार्य करती है। आयकर विभाग केन्द्रीय वित्त मंत्रालय के राजस्व विभाग के अधीन काम करता है। भारत के आयकर विभाग का गठन 1860 में हुआ था और इसका नेतृत्व केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) द्वारा किया जाता है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गिनाई तीन साल के कार्यकाल की उपलब्धि

अटल जी की सोच से ही सड़क से जुड़ पाए ग्रामीण क्षेत्र : जयराम

Join facebook page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *