HP BREAKING NEWS | 3 OCTOBER 2020 | Himachal News In Hindi 

पीएम मोदी आज करेंगे 10040 फीट ऊंचाई पर बनी अटल टनल रोहतांग का उद्घाटन, सिस्सू में होगी रैली

पिछले 10 सालों से आखिरकार जिस घड़ी का इंतजार किया जा रहा, वह आ ही गई। मनाली-लेह मार्ग पर सामरिक महत्व की 9.02 किलोमीटर लंबी अटल टनल रोहतांग का शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लोकार्पण करेंगे। पीरपंजाल की पहाड़ी को भेद कर 3200 करोड़ से बनी यह टनल दुनिया की सबसे ऊंचाई (10040 फीट) पर हाईवे पर बनी है। टनल शुरू होने से लाहौल के लोग सर्दियों में बर्फबारी के चलते छह माह तक शेष दुनिया से नहीं कटेंगे। सेना भी लेह तक आसानी से पहुंच जाएगी। टनल से मनाली से लेह की दूरी 46 किमी कम हो गई है। मात्र डेढ़ घंटे में मनाली से केलांग पहुंच जाएंगे। टनल से सूबे के पर्यटन को भी गति मिलेगी

हिमाचल में आठ अक्तूबर तक साफ रहेगा मौसम, अधिकतम तापमान बढ़ा

हिमाचल प्रदेश में एक सप्ताह तक मौसम साफ रहेगा। मौसम विज्ञान केद्र शिमला के अनुसार प्रदेश में आठ अक्तूबर तक मौसम साफ रहेगा।

गांधी जयंती पर बापू की प्रतिमा के सामने भाजपा-कांग्रेस कार्यकर्ता भिड़े

गांधी जयंती पर शुक्रवार को घुमारवीं में भाजपा और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में बापू की प्रतिमा के सामने ही हिंसक झड़प हो गई। दोनों पार्टी कार्यकर्ताओं ने महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने एक-दूसरे पर जमकर मुक्के बरसाए। मामला इतना बढ़ा कि बीच-बचाव के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। पुलिस ने दोनों पक्ष के बयानों के आधार पर क्रॉस एफआईआर दर्ज कर ली है। जानकारी के अनुसार कांग्रेस ने गांधी जयंती पर नगर परिषद और अस्पताल के सफाई कर्मचारियों को सम्मानित करना था।




कांग्रेसी कार्यक्रम शुरू होने का इंतजार कर रहे थे। इस बीच करीब सवा दस बजे भाजपा नेता जिला फेडरेशन अध्यक्ष महेंद्र पाल रतवान समर्थकों के साथ मौके पर पहुंचे और गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। इस पर कांग्रेस नेता एवं पार्षद श्याम शर्मा ने विरोध दर्ज किया तो दोनों के बीच पहले बहस और उसके बाद मारपीट शुरू हो गई। घुमारवीं थाना प्रभारी राकेश राय ने बताया कि दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर मारपीट के आरोप लगाए हैं। पुलिस ने क्रॉस एफआईआर दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

हिमाचल और उत्तराखंड के बीच बनेगा डबल लेन पुल, नौ करोड़ आएगी लागत

हिमाचल और उत्तराखंड के बीच डबल लेन पुल का निर्माण होगा। यह पुल टोंस नदी पर चकराता के क्वानू मीनस मोटर मार्ग से सिरमौर जिले के पाली फराड़ गांव को जोड़ेगा।

डबल लेन पुल निर्माण पर करीब नौ करोड़ रुपये की लागत का अनुमान है। यह खर्च दोनों राज्य बराबर वहन करेंगे। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, पुल निर्माण को लेकर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और हिमाचल के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के बीच पहले ही सहमति बन चुकी थी।




इस सहमति को मूर्त रूप देने के लिए अब प्रदेश सरकार ने नीतिगत निर्णय ले लिया है। पुल निर्माण की कार्यदायी एजेंसी उत्तराखंड सरकार होगी। हरिपुर इच्छाड़ी, क्वानू मीनस मोटर मार्ग पर सिरमौर जिले के पॉली फराड़ गांव तक 105 मीटर लंबा डबल लेन पुल बनाया जाएगा।

हिमाचल में 15 दिसंबर के बाद होंगे पंचायत चुनाव

हिमाचल प्रदेश चुनाव आयोग पंचायती राज संस्थाओं और स्थानीय निकायों के चुनाव 15 दिसंबर के बाद कराने की तैयारी में है। आयोग ने छह जिलों के उपायुक्तों को पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि चुनाव इस साल के अंत में करवाने निर्धारित हैं। उपायुक्त नगर निगम, नगर परिषद और नगर पंचायत की वार्डबंदी का काम जल्द पूरा करवा लें ताकि सरकार इन नए नगर निगम, नगर परिषद और नगर पंचायतों के संबंध में अंतिम अधिसूचना जारी कर सके। चुनाव आयोग ने यह पत्र कांगड़ा, कुल्लू, मंडी, शिमला, सोलन और ऊना जिलों के उपायुक्तों को भेजा है।

सूत्रों के अनुसार वार्डबंदी, की अंतिम अधिसूचना और फाइनल वोटर लिस्ट प्रकाशित होने में आठ दिसंबर तक का समय लग सकता है। इसके बाद आयोग चुनाव का एलान कर सकता है।



ताक पर शिक्षा मंत्री के आदेश, सरकारी स्कूलों में घटता नामांकन रोकने को गंभीर नहीं अधिकारी

शिक्षा मंत्री गोविंद ठाकुर के आदेशों को विभागीय अधिकारी गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। उच्च शिक्षा निदेशालय की ओर से शिक्षा मंत्री के आदेशों का हवाला देते हुए दो बार जिला उपनिदेशकों से मांगे गए ब्योरे को अभी तक सिर्फ तीन जिलों से भेजा गया है। ऊना, कांगड़ा और मंडी जिलों को छोड़कर अन्य जिला अधिकारियों ने मंत्री के आदेश ताक पर रख दिए हैं।

सरकारी स्कूलों में घटते विद्यार्थियों के नामांकन को रोकने के लिए अधिकारी गंभीर नहीं हैं। अब संयुक्त निदेशक उच्च शिक्षा डॉ. अशीथ कुमार मिश्रा ने आखिरी चेतावनी जारी कर दो दिन में ब्योरा देने के निर्देश दिए हैं।

अगस्त में शिक्षा विभाग की समीक्षा बैठक में शिक्षा मंत्री ने प्रदेश के सरकारी स्कूलों में घटती विद्यार्थियों की संख्या पर चिंता जताते हुए एक से पांच विद्यार्थियों की संख्या वाले स्कूलों के पंचायत प्रतिनिधियों, अभिभावकों, शिक्षकों और विद्यार्थियों से संवाद करने का फैसला लिया था।



प्रारंभिक और उच्च शिक्षा निदेशालय ने भी नामांकन बढ़ाने के लिए विशेष अभियान चलाने की बात कही थी। 15 और 23 सितंबर को निदेशालय की ओर से जिला उपनिदेशकों को पत्र जारी कर जानकारी देने को कहा था, लेकिन अभी तक नौ जिलों से जानकारी नहीं दी गई है।

हिमाचल: 15 अक्टूबर से बाहरी राज्यों के लिए चल सकती हैं बसें

हिमाचल सरकार 15 अक्तूबर से बाहरी राज्यों दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, उत्तराखंड के लिए बसें चलाने की तैयारी में है। केंद्र की ओर से जारी गाइडलाइन में स्कूल, कॉलेज खोलने और अन्य सुविधाएं बहाल करने का फैसला राज्य सरकारों पर छोड़ा है। ऐसे में प्रदेश सरकार बाहरी राज्यों के लिए बसें चलाना चाहती है।

हालांकि अभी इस मामले को कैबिनेट बैठक में लाया जाना है। अंतिम निर्णय मंत्रिमंडल की सहमति से किया जाना है। परिवहन विभाग ने इसकी एसओपी तैयार कर सरकार को भेजी है। परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ने कहा कि कैबिनेट बैठक में इस पर चर्चा होनी है।

अटल टनल के मुहाने पर बनेगी भगवान बुद्ध की 328 फीट ऊंची प्रतिमा

अटल टनल रोहतांग के उत्तरी पोर्टल में पीर पंजाल की पहाड़ी में जल्द ही सैलानी देश की सबसे ऊंची भगवान बुद्ध की विशाल प्रतिमा का दीदार कर पाएंगे। 3200 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित टनल के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लाहौलियों को करीब 500 करोड़ रुपये की एक और बड़ी परियोजना की सौगात देने जा रहे हैं।



टनल के नॉर्थ पोर्टल से कुछ ही दूरी पर पीरपंजाल की पहाड़ी कुरेद (कार्विंग) कर अफगानिस्तान के बामियान की तर्ज पर भगवान बुद्ध की 328 फीटी (100 मीटर) ऊंची प्रतिमा बनाई जाएगी। इस पर करीब 500 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इस प्रोजेक्ट को खुद प्रधानमंत्री सहमति दे चुके हैं। हिमाचल सरकार के इस प्रस्ताव को केंद्र सरकार ने अपनी सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है।

प्रतिमा का निर्माण केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की देखरेख में गुजरात की एक निजी फर्म को सौंपा जाएगा। सिस्सू गांव के पार विख्यात वॉटर फाल के पास पीरपंजाल की पहाड़ी को कुरेद कर बुद्ध प्रतिमा बनाई जाएगी। हिमाचल के पर्यटन सचिव देवेश कुमार के मुताबिक हजारों साल पहले अफगानिस्तान के बामियान में बुद्ध की प्रतिमा बनाने के लिए जिस कार्विंग तकनीक का इस्तेमाल किया गया था उसी तर्ज पर लाहौल में प्रतिमा बनेगी।

सुजानपुर में कांग्रेस ने योगी सरकार को लगाई फटकार, मोदी सरकार के खिलाफ बोला हल्ला

केंद्र की मोदी सरकार द्वारा किसान विरोधी अध्यादेश को मंजूरी देने पर सुजानपुर ब्लॉक कांग्रेस उग्र हो गई है । कांग्रेस इस बिल को वापस लेने की मांग कर रही है । शुक्रवार को सुजानपुर चिल्ड्रन पार्क में ब्लॉक कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र के मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोला रैली निकालते हुए मोदी सरकार हो बर्बाद के नारे लगाए ।




उन्होंने कहा कि जिस तरह से केंद्र की मोदी सरकार तानाशाह रवैया अपनाकर देश की जनता को प्रताडि़त कर रही है वह सहन नहीं होगा । इस मौके पर गुरुवार को कांग्रेस पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी बहन प्रियंका गांधी के साथ बदसलूकी की भी खूब निंदा की है ।

 पूर्व सांसद चंद्र कुमार बोले, जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आए, देश को बेचने का काम किया

ब्लॉक कांग्रेस द्वारा विश्रामगृह जवाली में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी तथा पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर चौधरी चंद्र कुमार के नेतृत्व में उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। इसके बाद विश्रामगृह से लेकर मिनी सचिवालय तक कृषि विधेयक के विरोध में आक्रोश रैली निकाली गई। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं द्वारा यहां खूब नारे बाजी की गई। चौधरी चंद्र कुमार ने कहा कि भाजपा सरकार किसान व गरीब विरोधी है।

उन्होंने कहा कि जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की बागडोर संभाली है तब से लेकर देश को बेचने का ही काम किया है। उन्होंने कहा कि रेलवे, एयरपोर्ट का निजीकरण कर दिया गया। अब कृषि विधेयक लाकर किसानों की कमरतोड़ दी है। जीडीपी शून्य से भी नीचे है। उन्होंने पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी व महासचिव प्रियंका गांधी के साथ किए गए दुव्र्यवहार पर भी भाजपा को जमकर कोसा।

 15 हजार में खरीदा 9100 रुपए का सिलेंडर, पीएम मोदी व सीएम जयराम ठाकुर को भेजी शिकायत

संकट के बीच स्वास्थ्य विभाग में सरकारी धन के दुरुपयोग का एक और मामला सामने सामने आया है। मेडिकल ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए प्रयोग किए जाने वाले बी-टाइप 9100 रुपए का गैस सिलेंडर स्वास्थ्य विभाग ने 15750 रुपए में खरीदा है। यही नहीं, 13500 रुपए का डी-टाइप का सिलेंडर 18500 रुपए में खरीदा गया है, जबकि स्वास्थ्य विभाग इससे पहले तक प्रदेश के उत्पादकों से 9100 व 13500 रुपए में दोनों प्रकार के गैस सिलेंडर ले रहा था और उत्पादकों ने इसी दाम पर आगे भी सप्लाई देने की कंसेंट भी स्वास्थ्य विभाग को दी थी, लेकिन इसके बाद भी विभाग ने दिल्ली की फर्म से 350 के लगभग ऐसे सिलेंडर महंगे दामों पर खरीदे हैं।




मंडी की मांडव एयर इंडस्ट्री व आरडी गैस प्राइवेट लिमिटेड के संचालकों ने इस बात का खुलासा करते हुए स्वास्थ्य विभाग के पूर्व वरिष्ठ अधिकारी पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। दोनों कंपनियों ने इस बात की शिकायत प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भेज कर मामले की जांच करवाने का आग्रह किया है।

गुरुवार को शिकायत की प्रतियां पत्रकारों को जारी करते हुए दोनों फर्मो के संचालकों आरपी कपूर व सुधांषु कपूर बताया कि कोविड-19 के चलते भी कुछ अधिकारियों ने सरकार को चूना लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के छह अस्पतालों में पाइप लाइन बिछाने व सिलेंडर सप्लाई का ठेका सीपीडब्ल्यूडी के माध्यम से चुपचाप स्वास्थ्य विभाग ने दिल्ली की एक फ र्म को पांच करोड़ 65 लाख में दिया था, जिसकी प्रदेश के उत्पादकों को जानकारी तक नहीं मिली और सीपीडब्ल्यूडी को इस काम का कोई अनुभव भी नहीं है।




इसमें पाइप लाइन बिछाने के अलावा 13500 वाला सिलेंडर 18500 व 9100 वाला 15750 में सप्लाई किया गया, जबकि इससे सस्ते दाम पर विभाग पहले से ही प्रदेश के उत्पादकों से सिलेंडर ले रहा था। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं उनके एक टेंडर को तीन बार एल-वन आने के बाद भी रद्द कर दिया गया। मंडी की एक अन्य चहेती फर्म को काम देने के लिए अब एक टेंडर से सारी कंडीशन को हटा दिया गया है। ऐसा करके स्वास्थ्य विभाग के इस अधिकारी ने हजारों लोगों की जिंदगियों को संकट में डाल दिया है।

केंद्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर बोले, टनल सेना के लिए मददगार प्रदेश में बढ़़ जाएगा रोजगार

केंद्रीय राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर ने तीन अक्तूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बहुप्रतीक्षित अटल टनल राष्ट्र को समर्पित किए जाने पर हर्ष व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि इससे हिमाचल को आर्थिक व देश को सामरिक लाभ मिलेगा। अनुराग ठाकुर ने कहा कि सामरिक दृष्टि से हिमाचल प्रदेश भारत का एक अति महत्त्वपूर्ण राज्य है। साथ ही हिमाचल प्रदेश खुद में पर्यटन की असीम संभावनाएं समेटे हुए है। भारतीय जनता पार्टी शुरूआत से ही हिमाचल को विशेष दर्जा देती आई है। फिर चाहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी हों या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दोनों ने ही हिमाचल को अपना दूसरा घर माना है।




यह टनल हिमाचल में रोजगार, व्यापार, यातायात, सांस्कृतिक विरासत को आगे बढ़ाने में सहायक होने के साथ-साथ देश को सामरिक रूप से भी मजबूत करने का काम करेगी। नौ किलोमीटर लंबी इस टनल के बन जाने से मनाली से लेह का सफर 46 किलोमीटर तक कम हो गया है। ऐसे में सेना के वाहन कम समय में लेह व कारगिल पहुंच सकेंगे।

हिमाचल में 17 सुरंगें प्रस्तावित, राजधानी शिमला में सबसे ज्यादा छह टनल का निर्माण होगा

सामरिक दृष्टि से अति महत्त्वपूर्ण व बहुप्रतिक्षित अटल टनल का कार्य पूरा होने के बाद प्रदेश में कई सुरंग परियोजनाएं अभी भी प्रस्तावित हैं। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी विश्व की सबसे बड़ी टनल का उद्घाटन करने हिमाचल पहुंच रहे हैं।

तीन अक्तूबर को प्रधानमंत्री टनल का लोकापर्ण कर देंगे। इसके बाद प्रदेश की इन प्रस्तावित टनलों का निर्माण कार्य शुरू होने उम्मीद जगी है। हिमाचल में 17 सुरंगों का निर्माण प्रस्तावित है। इसमें सर्वाधिक जिला शिमला में छह सुरंगें शामिल हैं। प्रदेश सरकार के इस फैसले से सैकड़ों किलोमीटर दूरी कम होगी। जिला शिमला में लिफ्ट से लक्कड़ बाजार, लिफ्ट से हिमलैंड, लिफ्ट से आईजीएमसी, संजौली-ढली, निगुलसरी त्रांडा, जिला बिलासपुर के कैंची मोड़-मेहला, जिला कुल्लू और मंडी के बीच भूभु जोत, ऊना-हमीरपुर जिला के बंगाणा-धनेटा, जिला चंबा के होली उतराला, इसी जिले में तीसा-किलाड़, चामुंडा-होली सुरंग जिला कांगड़ा, गागल स्थित जंजैहली जिला मंडी और जलोड़ी जोत कुल्लू शामिल है।




इसके अलावा लेह में तीन और सुरंगे प्रस्तावित हैं। इनमें बारालाचा के पास 16 हजार 40 फुट की ऊंचाई पर 13.2 किलोमीटर सुरंग प्रस्तावित है। उसके बाद लांचुंग पास पर 14.78 किलोमीटर की सुरंग को बनाए जाने का लक्ष्य है। तांगलांगला में 7.32 किलोमीटर लंबी सुरंग बनाने का प्रस्ताव है, जो कि 17480 फुट की ऊंचाई पर होगी।

बिलासपुर : स्कूटी से गिरा लाखों रूपए से भरा बैग, पुलिस की तत्परता से मालिक को वापस मिला

स्कूटी से सड़क पर गिरा लाखों रूपए से भरा एक बैग नम्होल पुलिस की तत्परता से उसके मालिक को वापस मिल गया। बैग में लगभग डेढ़ लाख रूपए की नकदी, मोबाइल फोन व अन्य सामान था। इस बैग को उसके मालिक तक पहुंचाने में नम्होल चौकी इंचार्ज सब इंस्पैक्टर कर्ण व कांस्टेबल सुरेश की अहम भूमिका रही।

कृषि विधेयक के खिलाफ रिकांगपिओ, सुंदरनगर व सोलन में गरजी कांग्रेस

केंद्र सरकार द्वारा हाल ही पास किए कृषि विधेयक के खिलाफ कांग्रेस द्वारा देशभर में विरोध किया जा रहा है। इसी कड़ी में शुक्रवार को रिकांगपिओ, मंडी जिला के सुंदरनगर व साेलन में कांग्रेस द्वारा विरोध प्रदर्शन किए गए।




जिला किन्नौर कांग्रेस कमेटी द्वारा जिला अध्यक्ष उमेश नेगी की अध्यक्षता में किसान विधेयक के विरोध में रैली निकालकर विरोध प्रदर्शन किया गया। रैली पीडब्ल्यूडी रैस्ट हाऊस रिकांगपिओ से शुरू होकर मेन बाजार रिकांगपिओ से होते हुए पीएनबी बैंक तक गई तथा वापस रिकांगपिओ चौक पर समाप्त हुई।

Himachal Coronavirus Update: 378 मरीजों ने दी कोरोना संक्रमण को मात, तीन की मौत

हिमाचल प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना संक्रमण के 21 नए मामले सामने आए हैं। इनमें ऊना में सात, सोलन एक, शिमला दस और हमीरपुर के तीन लोग संक्रमित पाए गए हैं। तीन कोरोना संक्रमितों की मौत हुई है। चंबा, कुल्‍लू और शिमला के तीन मरीज कोरोना संक्रमण से जिंदगी की जंग हार गए।




इसके अलावा 378 मरीज स्‍वस्‍थ हुए हैं, इनमें 25 ऊना, 170 सोलन, 26 सिरमौर, 62 शिमला, 21 मंडी, 24 किन्‍नौर, नौ कांगड़ा, तीन हमीरपुर, 12 चंबा और 26 बिलासपुर के मरीजों की रिपोर्ट नेगेट‍िव पाई गई है।

प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्‍या 15 हजार के पार हो गई है। मौजूदा समय में 15219 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। हालांकि 11588 मरीज कोरोना को मात देकर स्‍वस्‍थ भी हो चुके हैं। वर्तमान में 3416 सक्रिय मामले हैं। इसके अलावा 190 मरीजाें की संक्रमण के कारण मौत हो चुकी है। वीरवार को 243 नए मामले आए, जबकि 218 स्‍वस्‍थ हुए। सक्रिय मरीजों की बात करें तो सोलन जिला में सबसे अधिक 647, मंडी में 527, कांगड़ा में 449 और सिरमौर में 448 हैं।

चम्बा में पुरानी पैंशन बहाली को NPS कर्मियों ने निकाली रैली

चम्बा: एनपीएस कर्मचारी महासंघ ने गांधी जयंती व एनपीएसईए के स्थापना दिवस पर पुरानी पैंशन बहाली के लिए रैली निकाली। यह रैली भरमौर चौक से शुरू हुई, जिसके बाद पूरे शहर की परिक्रमा करने गांधी गेट के पास पहुंची। यहां पर एनपीएस कर्मियों ने पुरानी पैंशन बहाली के लिए संकल्प लिया, वहीं संघर्ष की आगामी रणनीति भी बनाई गई। इस रैली में काफी संख्या में एनपीएस कर्मियों ने भाग लिया। इससे पहले एनपीएस महासंघ स्थापना दिवस तथा गांधी जयंती की भी शुभकामनाएं दीं।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में लाखों शिक्षक व कर्मचारी हैं, जिन्हें एनपीएस दी जा रही है, जो सेवानिवृत्ति के बाद बाजार आधारित पैंशन व्यवस्था है, जिसमें बुढ़ापे के समय नियमित पैंशन राशि नहीं मिलती है। ऐसे में पूरा सेवाकाल शून्य हो जाता है। 2004 में यह योजना केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई है, जिसे अनेक राज्य सरकारों ने भी लागू किया है। इसी तरह चुवाड़ी व डल्हौजी में भी गांधी जयंती व एनपीएसईए के स्थापना दिवस पर पुरानी पैंशन योजना बहाली संकल्प दिवस मनाया गया व पदयात्रा भी निकाली गई।

गैहरा में आग का तांडव, सब्जी की दुकान जलकर राख

चम्बा-भरमौर एनएच पर स्थित गैहरा गांव में एक सब्जी की दुकान में आग लग गई। इससे दुकान जलकर राख हो गई है। इस घटना में विक्रेता को करीब एक लाख रुपए का नुक्सान हुआ है। आग लगने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। जानकारी के अनुसार भिंद्र पुत्र बांका राम लंबे अरसे से सब्जी की दुकान चलाकर अपने परिवार का पालन-पोषण कर रहा था। दुकान लकड़ी से बनाई गई थी। वीरवार को भिन्द्र शाम के समय दुकान बंद कर अपने घर चला गया। देर रात उसकी दुकान में अचानक आग लग गई




इसकी जानकारी उसे फोन के माध्यम से मिली। सूचना मिलते ही वह गैहरा पहुंचा लेकिन तब तक दुकान पूरी तरह आग की चपेट में आ चुकी थी। आसपास के लोगों ने आग बुझाने का काफी प्रयास किया लेकिन वे इसमें सफल नहीं हो पाए। उधर, नायब तहसीलदार धरवाला हंसराज रावत ने बताया कि पटवारी को मौका करने के आदेश जारी कर दिए हैं। नुक्सान का आकलन कर प्रभावित की हरसंभव सहायता की जाएगी।

दरकाटा में आग लगने से 2 गौशालाएं जलीं

उपमडल देहरा के अंतर्गत आती ग्राम पंचायत दरकाटा के गांव गगेहड़ में 2 गौशालाओं में लगने से आग की भेंट चढ़ गईं। आग कैसे लगी इसके कारण का अभी तक पता नहीं चल पाया है। गनीमत यह रही कि जिस समय आग लगी गौशाला के अंदर कोई भी पशु मौजूद नहीं था। ग्राम पंचायत दरकाटा के प्रधान राम चंद से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस घटना में कुलदीप कुमार पुत्र गिरधारी लाल व राजेश कुमार पुत्र किकर चंद निवासी गगेहड़ की गौशाला में शुक्रवार दोपहर के समय अचानक से आग लग गई, जिससे दोनों गौशालाएं जल गईं।




मौके पर पहुंचे दरकाटा पंचायत के प्रधान रामचंद्र ने घटना की सूचना तुरंत पुलिस चौकी रानीताल व अग्निशमन केंद्र देहरा को दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस चौकी रानीताल से मुख्य आरक्षी हंसराज और विनोद कुमार तुरंत मौके पर पहुंच गए। अग्निशमन की गाड़ी ने मौके पर पहुंच कर आग पर काबू पाया।

घर में कहासुनी के बाद खुद को आग लगाई, मौत

देहरा थाना के अंतर्गत एक व्यक्ति ने परिवार में कहा सुनी के बाद 27 सितम्बर को रसोई में जाकर मिट्टी का तेल फैंक कर खुद को आग लगा ली थी, जिसकी शुक्रवार को मौत हो गई। पुलिस जांच अधिकारी के अनुसार 48 वर्षीय इस व्यक्ति के परिजनों ने पुलिस को बताया कि यह व्यक्ति शराब का आदी था और किसी बात को लेकर घर मेंं कहासुनी हुई। इसके बाद उसने खुद को मिट्टी का तेल फैंककर आग के हवाले कर दिया।

उन्होंने कहा कि पहले झुलसे व्यक्ति को देहरा अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे डा. राजेंद्र प्रसाद मैडीकल कालेज टांडा रैफर कर दिया गया। शुक्रवार को उक्त व्यक्ति की उपचार के दौराना मौत हो गई। पुलिस ने धारा 174 के तहत मामला दर्ज करके शव का पोस्टमार्टम करवाया है।

टायर में हवा भरते समय सिर से टकराया रिम, मौत

व्यापारी कस्बा जसूर की सब्जी मंडी के नजदीक टायर पंक्चर का काम करने वाले व्यक्ति की एक हादसे में मौत हो गई। पुलिस के अनुसार टायर में हवा भरने के दौरान निकले रिम के सिर में टकराने से यह हादसा हुआ। व्यक्ति की पहचान अशोक कुमार पुत्र चूड़ा राम निवासी मैरा फाटक तहसील ज्वाली के तौर पर हुई है।

पुलिस के अनुसार उक्त घटना वीरवार देर शाम उस समय हुई जब अशोक कुमार अपनी दुकान पर ट्रक के टायर का पंक्चर लगाने के बाद हवा भर रहा था। उसी दौरान हवा के दबाव के चलते लोहे का रिम अचानक निकल गया और अशोक के सिर से टकरा गया, जिसके चलते अशोक कुमार गंभीर रूप से घायल हो गया। स्थानीय लोग अशोक को नूरपुर के सिविल अस्पताल लेकर गए पर चोट गंभीर होने के कारण उसकी मौत हो गई।




जांच अधिकारी लियाकत अली और उनकी टीम ने शव को कब्जे में कर के आगामी कार्रवाई शुरू कर दी। डीएसपी नूरपुर अशोक रतन ने मामले की पुष्टि करते हुए कहा कि पोस्टमार्टम होने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है।

पंजाब से मैड़ी आए परिवार के साथ हादसा, 8 साल की बच्ची को ऐसे मिली दर्दनाक मौत

उपमंडल अम्ब के तहत सुप्रसिद्ध धार्मिक स्थल डेरा बाबा बड़भाग सिंह जी मैड़ी में स्थित एक सराय से गिरकर एक 8 वर्षीय बच्ची की मौत हो गई। सूचना मिलने पर अम्ब पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार मैड़ी स्थित एक धार्मिक स्थल की सराय की तीसरी मंजिल से 8 वर्षीय बच्ची गिर गई। गंभीर अवस्था में उसे सिविल अस्पताल अम्ब लाया गया जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।




बताया जा रहा है कि गांव कोटला बह्मा, बटाला गुरदासपुर (पंजाब) से श्रद्धालु मैड़ी आए हुए थे। इस दौरान बच्ची के साथ आए हुए उसके परिजन लंगर खा रहे थे तो इस बीच खेलते-खेलते बच्ची सराय की तीसरी मंजिल से गिर गई। डीएसपी अम्ब सृष्टि पांडे का कहना है कि इस मामले में पुलिस ने क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव को वारिसों के सुपुर्द कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में सीआरपीसी की धारा 174 के तहत कार्रवाई कर मामला दर्ज कर लिया है।

पहले पीट-पीट कर उतारा माैत के घाट, फिर दे दिया था हादसे का रूप

ऊना – जिला मुख्यालय के करीबी गांव बहडाला में करीब 3 दिन पूर्व मिले नेपाली मूल के गणेशी नामक व्यक्ति के शव मामले में नया मोड़ आ गया है। संदिग्ध मौत की जांच से शुरू हुआ मामला हत्या तक जा पहुंचा है। दरअसल शव मिलने के बाद आरंभिक जांच में पुलिस ने फॉरेंसिक टीम को जांच में शामिल किया था।




मृतक के शरीर पर मिले चोटों के निशान और फॉरेंसिक टीम द्वारा जुटाए गए तथ्यों के आधार पर गणेशी की मौत किसी हादसा के चलते नहीं बल्कि पीट-पीट कर मौत के घाट उतारने के कारण हुई है। जिसके बाद हरकत में आई पुलिस ने घटना के संबंध में आईपीसी की धारा 302 के तहत केस दर्ज करते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है। हत्या के आरोप में पुलिस ने बहडाला के रणवीर सिंह उर्फ प्रिंस को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

जिला मुख्यालय के करीबी गांव बहडाला में करीब 3 दिन पूर्व मिले नेपाली मूल के गणेशी के शव को लेकर शुरू हुई जांच सनसनीखेज कत्ल तक जा पहुंची है। गौरतलब है कि बहडाला में एक रेन शेल्टर के बीच गणेशी का शव बरामद हुआ था।

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू की। वही मामले के कुछ संदेहास्पद लगने पर फॉरेंसिक टीम की मदद ली गई। पुलिस और फॉरेंसिक टीम की संयुक्त जांच के दौरान उक्त व्यक्ति की मौत न तो प्राकृतिक तौर पर हुई पाई गई और न ही हादसे में उसकी जान जाना पाया गया है।

कम्प्यूटर बेचने के चक्कर में 89 हजार रुपए गंवा बैठा युवक,




सुंदरनगर में कम्प्यूटर बेचने के चक्कर में एक युवक ठगी का शिकार हो गया है। युवक को करीब पौने लाख रुपए की चपत लग गई है। पुलिस ने युवक की शिकायत पर आईपीसी की धारा 420 के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई तेज कर दी है। सुंदरनगर के डीएसपी गुरबचन सिंह ने बताया कि शिकायतकर्ता अभिषेक मिश्रा निवासी सिनेमा चौक भोजपुर तहसील सुंदरनगर जिला मंडी ने ओरो एक्सेल पर कम्प्यूटर बेचने के लिए विज्ञापन जारी किया था, जिसके चलते एक शख्स ने उससे संपर्क कर एक कम्प्यूटर खरीदने का ऑर्डर दिया।

इसके लिए उसने ओटीपी का नंबर स्कैन करके मांगा। जैसे ही यह नंबर स्कैन करके भेजा गया तो 5000 रुपए की निकासी हुई। इसके बाद उक्त शख्स ने उस नंबर को बार-बार यूज कर युवक के खाते से 89 हजार रुपए निकाल लिए।




डीएसपी ने बताया कि सुंदरनगर पुलिस थाना प्रभारी कमल कांत ने शिकायत के आधार पर मामला आईपीसी की धारा 420 के तहत दर्ज कर लिया है और आगामी कार्रवाई तेज कर दी है।

https://m.facebook.com/nextexamonline




Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *