HP BREAKING NEWS | आज की 10 सबसे बड़ी खबरें – BOLTA HIMACHAL

HP BREAKING NEWS | आज की 10 सबसे बड़ी खबरें – BOLTA HIMACHAL

चुनावी जीत के बाद हिमाचल में दिवाली मनाएंगे जेपी नड्डा |HP BREAKING NEWS

बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए को मिली जीत के बाद भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा हिमाचल प्रदेश में दीवाली मनाएंगे। वह 14 नवम्बर को बिलासपुर में अपने घर पर स्थानीय लोगों एवं परिवार के सदस्यों के साथ दीवाली मनाएंगे। इस दौरान वह बिलासपुर में निर्माणाधीन एम्स का निरीक्षण भी करेंगे। उनके इस दौरे को देखते हुए सुरक्षा घेरा कड़ा कर दिया गया है। वैसे भी भाजपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद नड्डा को जैड श्रेणी की सुरक्षा उपलब्ध करवाई गई है।

HP BREAKING NEWS
जेपी नड्डा

जेपी नड्डा 14 नवम्बर को सुबह 10.05 बजे लुहणू ग्राऊंड में हैलीकॉप्टर से पहुंचेंगे। इसके बाद थोड़ी देर वह सर्किट हाऊस में ठहरने के बाद सीधे एम्स के निर्माणाधीन परिसर का निरीक्षण करने जाएंगे। उनका रात्रि ठहराव बिलासपुर में निजी आवास पर होगा तथा आगे का कार्यक्रम बाद में जारी किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रहते हुए नड्डा ने हिमाचल प्रदेश के लिए एम्स को स्वीकृत करवाया था। इसके निर्माण के लिए केंद्र सरकार और राष्ट्रीय भवन निर्माण निगम के मध्य समझौते हुआ है। इस समझौते के अनुसार बिलासपुर जिला में एम्स निर्माण का कार्य सितम्बर, 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।





एम्स के लिए करीब 1238 बीघा भूमि हस्तांतरित की गई है तथा इसके निर्माण पर करीब 1351 करोड़ रुपए खर्च होने की संभावना है। इसमें 750 बिस्तरों की सुविधा उपलब्ध होगी, साथ ही आयुष विभाग भी अलग से कार्य करेगा। यहां पर एमबीबीएस की 100 तथा बीएससी नर्सिंग की 60 सीटें होंगी। इसमें ट्रॉमा सैंटर सहित सुपर स्पैशलिटी उपचार सेवा भी उपलब्ध रहेगी। इसके क्रियाशील होने से प्रदेश के 2 प्रमुख अस्पतालों आईजीएमसी शिमला और टांडा अस्पताल पर काम का बोझ कम होगा तथा मरीजों को अब गंभीर उपचार की स्थिति में पीजीआई चंडीगढ़ के चक्कर भी नहीं काटने पड़ेंगे।

हिमाचल में दिवाली से बिगड़ सकते हैं मौसम के मिजाज, विभाग ने जारी किया यैलो अलर्ट

HP BREAKING NEWS

हिमाचल प्रदेश में जहां कई दिनों से मौसम शुष्क बना हुआ है, वहीं मौसम विभाग ने प्रदेश में दिवाली से मौसम के मिजाज बिगड़ने की संभावना जताई है। 15 नवम्बर को भारी बारिश व ऊंचाई वाले क्षेत्रों में बर्फबारी को लेकर यैलो अलर्ट भी जारी किया गया है। वहीं मौसम विभाग की मानें तो आगामी 18 नवम्बर तक मौसम खराब बना रहेगा। वीरवार को प्रदेश के अधिकतर क्षेत्रों में मौसम साफ बना रहा, वहीं राजधानी शिमला व आसपास के क्षेत्रों में सुबह से ही मौसम साफ बना रहा। शाम के समय ह

वहीं तापमान में भी गिरावट दर्ज की जा रही है। वीरवार को शिमला का अधिकतम तापमान 19.1 डिग्री दर्ज किया गया, वहीं सुंदरनगर 25.6, भुंतर 25.9, कल्पा 17.5, धर्मशाला 19.6, ऊना 29.0, नाहन 25.4, केलांग 9.6, पालमपुर 21.2, सोलन 26.0, कांगड़ा 27.0, मंडी 25.1, बिलासपुर 26.5, हमीरपुर 26.2, चम्बा 22.3 व डल्हौजी में 13.4 डिग्री दर्ज किया गया।

बढ़ती महंगाई को लेकर शिमला में सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने बोला हल्ला

HP BREAKING NEWS
कांग्रेस प्रदर्शन

हिमाचल कांग्रेस बढ़ती महंगाई के मुद्दे पर सरकार को घेरने में जुट गई है। इसी कड़ी में वीरवार को पार्टी ने सभी जिला मुख्यालयों में धरने-प्रदर्शन आयोजित किए और सरकार के खिलाफ हल्ला बोला। इसके साथ ही जिलाधीश के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भी भेजे गए। शिमला में आयोजित धरना-प्रदर्शन की अध्यक्षता कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने की। इसके साथ ही कार्यकर्ताओं ने राजीव भवन से लेकर जिलाधीश कार्यालय तक रैली निकाली। इसके तहत कांग्रेस कार्यकर्ता शेर-ए-पंजाब से मालरोड होते हुए जिलाधीश कार्यालय पहुंचे। इस दौरान मालरोड पर नारेबाजी कर पार्टी कार्यकर्ताओं ने धारा-144 का भी उल्लंघन किया




इतिहास में पहली बार महंगा बिक रहा आलू
कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कुलदीप सिंह राठौर ने कहा कि आज देश में महंगाई आसमान छू रही है। रोजमर्रा की जरूरी चीजों के दाम दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। आलू, प्याज व तेल से लेकर सभी आवश्यक वस्तुएं एक-एक कर आम आदमी की पहुंच से बाहर होती जा रही हैं। इतिहास में पहली बार मोदी सरकार की गलत नीतियों से आलू 50 रुपए प्रति किलो से ज्यादा की कीमत पर बिक रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ कांग्रेस सड़कों पर उतर चुकी है और सरकार को जनता पर महंगाई थोपने की बजाय राहत देने की दिशा में कदम उठाने होंगे।

देश का किसान सड़कों पर, बात सुनने वाला कोई नहीं
उन्होंने कहा कि देश का किसान नए कृषि कानून के खिलाफ सड़कों पर है लेकिन उनकी कोई भी बात नहीं सुनी जा रही। सरकार ने मुनाफाखोरी व जमाखोरी को बढ़ावा देते हुए देश के किसानों पर एक बड़ा प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने चहेते उद्योगपतियों को लाभ देने के लिए कृषि क्षेत्र की कमर ही तोड़ दी है। नए कृषि कानून का ही यह असर है कि आज दैनिक उपयोग की खाद्य वस्तुओं व फल-सब्जियों के साथ-साथ दालों के रेट आसमान छू रहे हैं। इस मौके पर केहर सिंह खाची, यशपाल तनाईक, इंद्रजीत सिंह, धर्मपाल ठाकुर, शशि बहल, किरण धांटा, रामकृष्ण शांडिल, कंवर नरेंद्र सिंह व करतार सिंह कुल्ला सहित पार्टी के कई अन्य पदाधिकारी व कार्यकत्र्ता मौजूद रहे।

…तो होंगे उग्र आंदोलन



राठौर ने सरकार को चेताते हुए कहा कि आज धारा-144 का उल्लंघन किया गया है और यदि सरकार अब भी नहीं जागी तो उग्र प्रदर्शन किए जाएंगे जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी। उन्होंने कहा कि कोरोना के साथ ही महंगाई से भी निपटने में केंद्र और प्रदेश सरकार पूरी तरह से विफल रही है।

डलहौजी में मुख्यमंत्री ने किया 113 करोड़ की विकास परियोजनाओं का उद्घाटन

HP BREAKING NEWS

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर 2 दिवसीय दौरे के दौरान आज डल्हौजी विधानसभा में पहुंचे ओर बनीखेत पहुंचने पर मुख्यमंत्री का लोगो ने बड़ी ही गर्मजोशी के साथ स्वागत किया। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज डल्हौजी विधानसभा क्षेत्र के लिए लगभग 113 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के शिलान्यास व उद्धघाटन किए। चंबा कांगड़ा के सांसद किशन कपूर, विधायक भटियात विक्रम सिंह जरयाल, विधायक भरमौर जिया लाल कपूर, अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति निगम के अध्यक्ष जयसिंह, उपायुक्त चंबा डीसी राणा, पुलिस अधीक्षक अरूल कुमार भी इस अवसर पर उपस्थित थे।




एक प्रेस वार्ता के दौरान मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश में कोरोना के हालात के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि जिस तरह से कोरोना पूरे देश में अपनी बाहें पसार रहा है उसकी तुलना में हिमाचल में अभी काफी शांति बनी हुई है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से बचने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा पर्याप्त संसाधन जुटाए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने अपने चंबा जिला के दो दिवसीय दौरे के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि चंबा जिला के लोगो को 2 दिनों में करोड़ों रुपए की सौगातें दी गई है यहां पर दर्जनों सड़कों के शिलान्यास किए गए हैं साथ ही कई भवनों के उद्घाटन भी किए गए हैं। उन्होंने कहा कि अभी 2 दिन तक उन्होंने करीब 200 करोड़ से ज्यादा की लागत से बनने वाली योजनाओं के शिलान्यास किया और आने वाले समय में वह एक बार फिर यहां चंबा आएंगे और भी विकास की योजनाओं के लिए यहां शिलान्यास करेंगे। उन्होंने कहा कि कोरोना की लड़ाई से भी लड़ना है और विकास की गति को भी नहीं रुकने देना है यही उनकी प्राथमिकता रहेगी।





उन्होंने विपक्ष को आड़े हाथों में लेते हुए कहा कि विपक्ष हमेशा ही इस तक मे रहता है कि कोई ना कोई मुद्दा उन्हें मिले और सरकार को नीचा दिखाए लेकिन हर बार उन्हें मुंह की खानी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि अब केंद्र में परिवारवाद की राजनीति कांग्रेस की खत्म होने वाली है और कांग्रेस अब कई हिस्सों में बंटती दिख रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भी कांग्रेस की बुरी हालत है यहां दर्जन भर लोग ऐसे हैं जो अपने को मुख्यमंत्री के पद का दावेदार मान रहे हैं लेकिन यह उनका अपना अंदरूनी मामला है उसमें हम कुछ नहीं बोल सकते।

Panchayat Election: हिमाचल चुनाव आयोग ने 18 नवंबर तक वार्डबंदी के दिए आदेश

HP BREAKING NEWS

हिमाचल चुनाव आयोग ने विभिन्न जिलों को 18 नवंबर तक शेष बचे एक दर्जन शहरी निकायों की वार्डबंदी करने के आदेश दिए हैं। इन शहरी निकायों की वार्डबंदी के साथ ही घरों की वेरिफिकेशन और वार्डों के वोटरों को चिह्नित करने को कहा है। इसके बाद आयोग इन शहरी निकायों की वोटर लिस्ट तैयार करने का कार्यक्रम शीघ्र जारी करेगा। राज्य चुनाव आयोग के अधिकारियों के अनुसार राज्य के एक दर्जन शहरी निकायों की मतदाता सूचियों को अंतिम रूप दिया जाना है।





इनमें राज्य में गठित तीन नए नगर निगमों और नौ नगर पंचायतों और नगर परिषदों की मतदाता सूचियां तैयार करवाई जा रही हैं। ये वही नगर परिषद और नगर पंचायतें हैं, जो पुनर्गठन से प्रभावित हैं या फिर नई बनाई गई हैं। राज्य के इन शहरी निकायों की मतदाता सूचियों को फाइनल किया जा रहा है। बताते हैं कि इन शहरी निकायों की वार्डबंदी, मकानों और जनसंख्या की चिन्हित करने का काम पूरा होने के बाद चुनाव आयोग इनकी वोटर लिस्ट तैयार करने के लिए कार्यक्रम जारी करके वोटर लिस्टों को फाइनल किया जाएगा।

साढ़े 2700 पंचायतों की फाइनल मतदाता सूचियों की छपाई शुरू

HP BREAKING NEWS
प्रदेश की साढ़े 2700 पंचायतों की फाइनल मतदाता सूचियों की छपाई का काम शुरू हो गया है। इनकी त्रुटियों को जांचने का जिम्मा संबंधित पंचायतों के जिला अधिकारियों को सौंपा गया है। राज्य चुनाव आयोग के अधिकारियों के अनुसार साढ़े 2700 पंचायतों की वोटर लिस्ट की छपाई का कार्य निजी प्रेस में शुरू कर दिया है। जैसे-जैसे इन पंचायतों की मतदाता सूचियां छापी जाएंगी, वैसे ही इनको संबंधित जिलों को भेजा जा रहा है। जिलों को ये वोटर लिस्ट स्वयं जुटाने को कहा गया है। इससे पहले जिलों के अधिकारियों को इन वोटर लिस्टों की जांच करने की जिम्मा सौंपा गया है।





इन संबंधित जिलों को भेजने की व्यवस्था करने को कहा गया है, ताकि समय पर ये लिस्टें संबंधित ब्लॉकों और पंचायतों तक पहुंचाया जा सकें। बताते हैं कि चुनाव आयोग ने पहले चरण में जिन पंचायतों की वोटर लिस्टों को फाइनल कर दिया है, उनकी छपाई का काम आरंभ किया है। इनकी बीस-बीस प्रतियां छापने के आदेश दिए गए हैं। अब शेष 875 पंचायतों की वोटर लिस्टों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इनमें 475 वह पंचायतें हैं, जिन पर पुनर्गठन का असर पड़ा है और शेष नई पंचायतें हैं।

विशेष छुट्टियों का असर, यूजी अंतिम सेमेस्टर के शेष 513 विद्यार्थियों की फिर टलेंगी परीक्षाएं

कोरोना काल में एचपीयू की ओर से ली गई स्नातक के अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा देने से वंचित रहे 513 परीक्षार्थियों की परीक्षाएं फिर टल गई हैं। कोरोना के मामले बढ़ने पर सरकार ने स्कूलों और कॉलेजों में 25 नवंबर तक विशेष अवकाश घोषित किया है। इस कारण यूजी अंतिम सेमेस्टर परीक्षा देने से छूट गए 513 परीक्षार्थियों के लिए परीक्षा इंतजाम भी लटक गए हैं। विवि इन परीक्षाओं के लिए प्रदेश में स्थापित परीक्षा केंद्र अवकाश के कारण बंद रहने से परीक्षा संबंधित सामग्री नहीं पहुंचा पाएगा। इस कारण परीक्षाएं एक बार फिर आगे खिसक गई हैं

हालांकि, विश्वविद्यालय ने परीक्षा का शेड्यूल अभी सार्वजनिक नहीं किया था। विश्वविद्यालय दीपावली के बाद इन परीक्षाओं को शुरू करने की तैयारी कर रहा था। अवकाश घोषित होने के कारण विश्वविद्यालय को तैयारियों के लिए 25 नवंबर तक रुकना पड़ेगा। इसके बाद ही परीक्षा केंद्रों में इन परीक्षाओं की तैयारी संभव हो सकेगी। परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने माना कि अवकाश के कारण परीक्षा की तैयारी है रुक गई है। कॉलेजों में बनाए जाने वाले परीक्षा केंद्रों के खुलने के बाद ही परीक्षा संबंधित सामग्री केंद्रों तक पहुंचाई जा सकेगी उसके बाद ही परीक्षा संभव होगी।

पंचायत चुनाव ड्यूटी में लगे शिक्षकों को नहीं मिलेंगी विशेष छुट्टियां

 





पंचायत चुनाव ड्यूटी में लगे शिक्षकों को 25 नवंबर तक घोषित की गई विशेष छुट्टियां नहीं मिलेंगी। कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए शिक्षण संस्थानों में घोषित हुए विशेष छुट्टियों के आदेशों में शिक्षा विभाग ने संशोधन कर दिया है। शिक्षा सचिव राजीव शर्मा की ओर से संशोधित आदेश जारी किए गए। इसके तहत तकनीकी शिक्षण संस्थानों में काउंसलिंग और दाखिलों की प्रक्रिया में नियुक्त शिक्षकों-गैर शिक्षकों का आना अनिवार्य कर दिया गया है। इसके अलावा डीएलएड परीक्षाओं के नियुक्त स्टाफ और पोलिंग बूथ वाले संस्थानों के स्टाफ की छुट्टियां भी बंद कर दी गई हैं।

प्रदेश सरकार ने बीते दिनों हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में शिक्षण संस्थानों में बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामलों को देखते हुए 11 से 25 नवंबर तक विशेष छुट्टियां देने का फैसला लिया है। इसी कड़ी में बुधवार को छुट्टियों के लिखित निर्देश जारी हुए थे। इन आदेशों के चलते शिक्षण संस्थानों में नियुक्त शिक्षकों और गैर शिक्षकों में अपनी विशेष ड्यूटियों को लेकर असमंजस की स्थिति बनी रही। ऐसे में शिक्षा सचिव ने संशोधित आदेश जारी करते हुए इन विशेष छुट्टियों के कई अधिकारियों और कर्मचारियों को बाहर किया है। शिक्षा सचिव की ओर से जारी आदेशों में कहा गया है कि मतदाता सूचियों के पुर्ननिरिक्षण में नियुक्त स्टाफ को यह छुट्टियां नहीं मिलेंगी।




ऐसे शिक्षण संस्थान जहां पोलिंग बूथ बनाए गए हैं और वहां रिविजन का काम चला है। वहां के स्टाफ को भी आना होगा। इसके अलावा तकनीकी शिक्षण संस्थानों में पूर्व निर्धारित काउंसलिंग और दाखिलों की प्रक्रिया में लगे स्टाफ को भी विशेष छुट्टियां नहीं मिलेंगी। इसके अलावा डीएलएड के दाखिलों और परीक्षा की तैयारियों के लिए नियुक्त किए गए शिक्षकों और गैर शिक्षकों को भी नियमित तौर पर आना होगा। शिक्षा सचिव की ओर से इस बाबत उच्च शिक्षा, प्रारंभिक शिक्षा, तकनीकी शिक्षा और समग्र शिक्षा अभियान के निदेशकों को पत्र जारी किया गया है।

एचपीयू शिमला ने घोषित किया बीएड प्रवेश परीक्षा का परिणाम

हिमाचल विवि ने नए शैक्षणिक सत्र में विश्वविद्यालय और इससे संबद्ध सरकारी और निजी बीएड कॉलेजों में प्रवेश के लिए आयोजित परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। इसे विवि की वेबसाइट और एडमिशन पोर्टल पर उपलब्ध करवाया गया है। परीक्षा नियंत्रक डॉ. जेएस नेगी ने कहा कि इस परीक्षा के लिए कुल 17,6,67 परीक्षार्थियों को रोलनंबर जारी किए गए थे। 27 अक्तूबर को देशभर के 57 केंद्रों में हुई बीएड प्रवेश परीक्षा में कुल 14,8,14 परीक्षार्थी अपीयर हुए थे। इनका परिणाम घोषित कर ऑनलाइन उपलब्ध करवा दिया गया है।



परीक्षार्थी परिणाम पोर्टल के माध्यम से दिए गए लॉगइन आईडी का प्रयोग कर देख सकते हैं। विश्वविद्यालय की प्रवेश परीक्षा शाखा ने नतीजे घोषित करने के बाद आगे की प्रक्रिया के लिए विवि के शिक्षा विभाग के चेयरमैन को रिपोर्ट जमा करवा दी है। विवि शनिवार को प्रवेश के लिए मेरिट जारी करेगा। इस बार करवाई जा रही ऑनलाइन काउंसलिंग के लिए शेड्यूल जारी करेगा। घोषित परीक्षा परिणाम के आधार पर ही विश्वविद्यालय से संबंध दो सरकारी और 73 निजी बीएड कॉलेजों की सीटों का आवंटन किया जाना है। यह सब एंट्रेंस के अंकों की मेरिट के आधार पर दिया जाना है।

 

चार मेडिकल कॉलेजों में कोरोना मरीजों के लिए बनेंगे फेब्रिकेटिड अस्थायी कमरे

प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामले देखते हुए शिमला, टांडा, नाहन और मंडी में फेब्रिकेशन के अस्थायी स्ट्रक्चर तैयार करवाए जाएंगे। जिला मुख्यालय चंबा में गुरुवार को प्रेसवार्ता में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह बात कही। सीएम ने कहा कि फेब्रिकेशन के इन स्ट्रक्चरों में कोरोना संक्रमितों को रखा जाएगा, साथ में ऑक्सीजन, वेंटिलेटर सहित सभी सहूलियतें इनमें होंगी। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने पत्रकार वार्ता में कांग्रेस पार्टी पर भी निशाना साधा। बोले, कांग्रेस प्रदेश ही नहीं, बल्कि राष्ट्र स्तर पर भी मुद्दाविहीन हो चुकी है।

कांग्रेस के कई नेता जहां पार्टी छोड़ना चाह रहे, वहीं कई नेता सीएम बनना चाहते हैं। उधर प्रदेश भर में सामने आ चुके कोरोना के 27418 केसों में से 80 प्रतिशत लोग किडनी सहित अन्य बीमारियों से ग्रस्त पाए गए हैं। किड़नी मरीजों को विशेष संभलने की आवश्यकता है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने अनलॉक के बाद बढ़े कोरोना के मामलों पर चिंता व्यक्त की।




उन्होंने कहा कि जब तक वायरस का उपचार नहीं मिलता, तब तक सामाजिक दूरी, मास्क पहनना और सैनिटाइजर का इस्तेमाल बहुत जरूरी है। प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद अब टेस्टिंग को दोगुना कर दिया है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि सरकार के तीन वर्ष पूरे होने पर शिमला में साधारण तरीके से कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने शादी और अन्य समारोहों में लोगों को दूरी बनाए रखने की बात कही।

स्कूल, कॉलेज व अन्य शैक्षणिक संस्थानों को दोबारा 25 नवंबर तक बंद करवा दिया है। सीएम ने कहा कि चंबा मेडिकल कॉलेज के पूर्व प्राचार्य की ओर से विजिलेंस को की गई धांधली की शिकायत की जांच होगी। भाजपा सरकार प्रदेश में ईमानदारी और बिना भेदभाव काम कर रही है। इससे पहले की कांग्रेस सरकार बदले की भावना से काम करती रही है।

HP TOP 10 NEWS | आज की 10 बड़ी खबरें हिमाचल से – BOLTA HIMACHAL

Join facebook page

Himachal News