हिमाचल की 3615 पंचायतों व शहरी निकायों से गुजरेगी स्वर्णिम रथयात्रा : जयराम

हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व दिवस के 50 साल का सफर पूरा होने के अवसर पर हिमाचल की 3615  पंचायतों एवं शहरी स्थानीय निकायों से स्वर्णिम रथयात्रा गुजरेगी।

 

यह रथयात्रा प्रदेश के करीब 25 लाख लोगों तक पहुंचेगी। हिमाचल दिवस के अवसर पर 15 अप्रैल से शुरू होने वाली रथयात्रा 51 दिनों तक चलेगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर यहां रथयात्रा के लिए राज्य स्तरीय कार्यकारी समिति की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि स्वर्णिम रथयात्रा का प्रमुख उद्देश्य प्रत्येक हिमाचलवासी की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि इस आयोजन को सफल बनाने के लिए मंत्री, विधायक, शहरी स्थानीय निकायों व पंचायती राज संस्थाओं के निर्वाचित प्रतिनिधियों की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की उपलब्धियों, नीतियों और कार्यक्रमों पर प्रकाश डालने पर विशेष बल दिया जाएगा, जिसके लिए विभाग अपनी विकासात्मक यात्रा को दर्शाती विवरणिका, सूचना, शिक्षा एवं संचार सामग्री उपलब्ध करवाएंगे, जिसे डिजिटल रथ के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा।

हिमाचल की 3615 पंचायतों
हिमाचल सरकार

उन्होंने कहा कि लोगों के मनोरंजन के लिए स्थानीय व राष्ट्र स्तरीय कलाकारों और सांस्कृतिक दलों को जोड़ा जाना चाहिए और नुक्कड़ नाटकों और गानों के माध्यम से प्रदेश की शानदार यात्रा पर प्रकाश डाला जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि युवाओं और विद्यार्थियों की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय स्तर पर स्वर्णिम इतिहास पर चर्चा, क्विज प्रतियोगिताएं, वाद-विवाद और चित्रकला प्रतियोगिताएं आयोजित की जानी चाहिए। उन्होंने कहा कि संपूर्ण स्वर्णिम रथयात्रा कार्यक्रम की योजना और संकल्पना के लिए राज्य स्तरीय उप समितियों का गठन किया जाना चाहिए, जो संपूर्ण कार्यक्रम की निगरानी और कार्यान्वयन सुनिश्चित करेंगी।

विधायक डा. राजीव बिंदल राज्य स्तरीय रथयात्रा कार्यकारी समिति के अध्यक्ष बनाए गए हैं। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि रथयात्रा में राज्य के 50 वर्षों केे शानदार सफर को दर्शाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य के विकास के लिए अगले 50 वर्षों के लक्ष्य और रोडमैप को भी उजागर करने के प्रयास किए जाने चाहिए। विशेष सचिव अरिंदम चौधरी ने प्रस्तावित स्वर्णिम हिमाचल रथयात्रा के बारे में विस्तृत प्रस्तुति दी।

 

छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल, जिला परिषद मंडी के अध्यक्ष पाल वर्मा, मुख्य सचिव अनिल खाची तथा निदेशक सूचना एवं जनसंपर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

हिमाचल: मार्च महीने में होंगी पांचवीं और आठवीं कक्षा की वार्षिक परीक्षाएं, डेटशीट जारी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *