January 24, 2021

सीएम ने वीडियो कांफ्रेंस से किए शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में लोकार्पण-शिलान्यास

????????????????????????????????????

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने शुक्रवार को शिमला से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जिला कांगड़ा के शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में 22 करोड़ रुपए लागत की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और आधारशिला रखी।

मुख्यमंत्री ने रैत में 2.09 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित कल्याण भवन का उदघाटन किया। उन्होंने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 4.83 करोड़ रुपए की लागत से चम्बी-भनाला-सकोह सम्पर्क मार्ग के स्तरोन्नयन, 10.03 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न जल आपूर्ति योजना वितरण प्रणाली के सुधार कार्य और शाहपुर तहसील में जल जीवन मिशन के तहत हर घर नल से जल और जल जीवन मिशन चरण-2 के तहत शाहपुर विधानसभा क्षेत्र में 5.07 करोड़ रुपए की लागत विभिन्न जल आपूर्ति योजनाओं के सुधार कार्य की आधारशिला रखी।

शाहपुर विधानसभा
मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने शिमला से शाहपुर के लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने विकास की गति को निर्बाध रूप से जारी रखने के लिए राज्य में विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिला और लोकार्पण वर्चुअल माध्यम से करने का निर्णय लिया है।

 

उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी का प्रसार रोकने के लिए प्रदेश सरकार ने ऑनलाइन कार्यक्रम आयोजित करने का भी निर्णय लिया, ताकि विशाल जनसमूह एकत्र न हों। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार 27 दिसम्बर, 2020 को अपना 3 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण कर रही है।

 

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने इन 3 वर्षों में राज्य के सभी क्षेत्रों और समाज के सभी वर्गों का संतुलित और समान विकास सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण प्रदेश भी प्रभावित हुआ है, परन्तु सरकार ने प्रदेश में विकास की गति को निर्बाध रूप से सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न कदम उठाए हैं। जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने सभी सामाजिक, सांस्कृतिक और रानीतिक कार्यक्रमों में लोगों की संख्या तक 50 सीमित करने के निर्णय को कड़ाई से लागू किया है।

शाहपुर विधानसभा
मुख्यमंत्री हिमाचल प्रदेश

उन्होंने कहा कि इस मामले में किसी भी प्रकार के उल्लंघन से सख्ती से निपटा जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना के मामलों में वृद्धि होने के कारण प्रदेश सरकार ने धर्मशाला में आयोजित होने वाले शीतकालीन विधानसभा सत्र को रद्द करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि विपक्ष में नेता इस मुद्दे पर भी राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने स्मरण करवाया कि वर्ष 2014 में विपक्ष के इन्हीं नेताओं ने 16 दिन के सत्र को 5 दिनों बाद स्थगति किया था।

हिमाचल: 15 कोरोना संक्रमितों की मौत, 622 नए मामले, पूर्व सीएम वीरभद्र आवास में पांच कर्मी पॉजिटिव

Join facebook page

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Copyright © Bolta Himachal 2020 | All rights reserved. | Newsphere by AF themes.